Friday, May 14, 2021

‘गैंगस्‍टर’ की अनसुनी कहानी, कंगना रनौत का ‘टेढ़ा’ सवाल सुन डायरेक्‍टर ने कहा था- पागल है क्‍या?

- Advertisement -


कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के फिल्‍मी डेब्‍यू और पहली फिल्‍म ‘गैंगस्‍टर’ को 15 साल पूरे हो गए। मॉडलिंग से शुरुआत करने के बाद कंगना को अनुराग बसु की इस फिल्‍म में इमरान हाशमी और शाइनी आहूजा के साथ कास्‍ट किया गया था। स्‍टोरीलाइन, डायरेक्‍शन से लेकर गानों तक, फिल्‍म की हर चीज को दर्शकों ने खूब पसंद किया। इसमें कंगना ने भी अपनी ऐक्‍टिंग से हर किसी का दिल जीत लिया। हाल ही में एक इंटरव्‍यू में कंगना ने कहा कि यह उनके लिए पर्फेक्‍ट डेब्‍यू था। उन्‍होंने बताया कि कैसे गैंगस्‍टर मिली, कैसे अनुराग बसु की फिल्‍म से डेब्‍यू किया और कैसे जावेद अख्‍तर और शबाना आजमी जैसी बड़ी हस्तियों ने फिल्‍म देखने के बाद उनकी तारीफ की।

हर दिन होते थे रिजेक्‍शन्‍स

इंडस्‍ट्री में 15 साल की जर्नी पर कंगना कहती हैं, ‘सच कहूं तो अच्‍छा लगता है। जब गैंगस्‍टर मिली, तब मुझे काम की बेहद तलाश थी। मैंने घर छोड़ दिया था और दिल्‍ली में रहकर यह जानने की कोशिश कर रही थी कि मुझे क्‍या करना है। फिर मैं ऐडवर्टाइजमेंट्स करते हुए मुंबई में स्‍ट्रगल कर रही थी। मॉडलिंग में मुझे ज्‍यादा सफलता नहीं मिल रही थी। हालांकि, कुछ महीनों में ही मुझे बड़ा ब्रेक मिला लेकिन हर दिन रिजेक्‍शन्‍स होते थे, ऑडिशन्‍स में हर दिन फेल होती थी।’

लोग कहते थे- ऐक्‍ट्रेस की जिंदगी ज्‍यादा नहीं होती

ऐक्‍ट्रेस ने आगे कहा, ‘उस दौरान मुझे एक बड़ी साउथ की फिल्‍म मिली थी जो बड़ी हिट हुई। लोग कहते थे कि ऐक्‍ट्रेस की जिंदगी 4 से 5 साल की होती है और मैं सोचती थी कि वे ऐसा क्‍यों कहते हैं? यह बहुत अजीब लगता था, खैर आज 15 साल हो गए और मैं मेरे गेम के टॉप पर हूं।’

‘गैंगस्‍टर’ था पर्फेक्‍ट डेब्‍यू

क्‍या आपको पर्फेक्‍ट डेब्‍यू मिला? इस सवाल के जवाब पर ऐक्‍ट्रेस कहती हैं, ‘बिल्‍कुल यह पर्फेक्‍ट डेब्‍यू था। अनुराग बसु के साथ काम करना मतलब मैं थिअटर में ट्रेन्‍ड थी लेकिन फिल्‍मों में नहीं। अनुराग के डायरेक्‍शन में काम करना मेरे लिए ‘गैंगस्‍टर’ की सबसे बड़ी यूएसपी थी। वह बेहतरीन डायरेक्‍टर हैं और क्रिएटिव हैं। उनका बैकग्राउंड थिअटर वाला है तो वह मुझे समझते थे।’

उस समय ऐसी फिल्‍मों का नहीं था मार्केट

कंगना के मुताबिक, ‘पर्फेक्‍ट डेब्‍यू था मगर पैरलल सिनेमा से स्‍ट्रगल भी था। यह उस समय की काफी अलग फिल्‍म थी। ऐसी फिल्‍मों और ऐक्‍टर्स के लिए मार्केट नहीं था। अनुराग ने मुझे प्रोत्‍साहित किया। मैं ऐसे रोल्‍स करती थी जो काफी कठिन थे। मैं 16 की थी ज शुरू किया और तनु वेड्स मनु के आते-आते मैं 23 या 24 की हो गई।’

कंगना को ऐसे मिली गैंगस्‍टर

गैंगस्‍टर कैसे मिली, इस सवाल के जवाब में कंगना ने बताया, ‘मैं मुंबई में थी और ऑडिशन्‍स के लिए मुझे भेजा गया। चूंकि मेरा लुक फिल्‍म की डिमांड के हिसाब से था तो मेरे मैनेजर ने भी मुझे जाने को कहा। मैं ऑडिशन के लिए बैठी थी मगर ऑडिशन से पहले ही रिजेक्‍ट कर दिया गया। मैं वहां से चली आई लेकिन मेरी तस्‍वीरें अनुराग के पास पहुंच गईं। कुछ दिनों बाद मेरे पास कॉल आया कि आपको डायरेक्‍टर से आकर मिलना है। मैंने कहा कि मैंने ऑडिशन दे दिया है और डायरेक्‍टर से मिल चुकी हूं। फिर उधर से कहा गया कि नहीं, डायरेक्‍टर आपसे नहीं मिले हैं। असल में असिस्‍टेंट डायरेक्‍टर ऑडिशन ले रहा था।’

हाथ से जाने वाला था रोल

ऐक्‍ट्रेस के मुताबिक, ‘फिर मैं वापस गई और अनुराग ने अलग-अलग सीन्‍स करके दिखवाए जैसे नशे में रहने का, रोने का और मुझे कुछ लाइन्‍स दीं। फिर उन्‍होंने कहा कि मैंने अच्‍छा किया है। मजेदार चीज शूटिंग से पहले हुई जब हमें शूट के लिए साउथ कोरिया के सियोल जाना था। मैं छोटी थी और प्रॉडक्‍शन बॉय ने मुसे पासपोर्ट मांगा। मैंने कहा कि ये क्‍या होता है। उसने अनुराग के पास जाकर ये सब बता दिया तो बाद में उन्‍होंने बाद में कहा कि ये क्‍या लड़की है तू, पागल है क्‍या तू? कहां से आई है? अनुराग ने यह भी कह दिया कि रोल हाथ से जा सकता है। उस वक्‍त मेरी पिता से बात नहीं होती थी मगर फिर भी कॉल करके पासपोर्ट बनवाने को कहा। किसी तरह पासपोर्ट बना। अनुराग सबसे ज्‍यादा खुश थे क्‍योंकि वे लोग मेरा रिप्‍लेसमेंट ढूंढने लगे थे।’

जावेद अख्‍तर, शबाना आजमी थे हैरान

‘गैंगस्‍टर’ के लिए सबसे अच्‍छा कॉम्प्लिमेंट क्‍या मिला, इस पर कंगना ने कहा, ‘मुझे याद है कि जावेद अख्‍तर और शबाना आजमी जी ने फिल्‍म देखने के बाद मुझे कॉल किया। वे बस यही पूछे जा रहे थे- कौन हो तुम? कहां से आई हो? तुमने बेहतरीन काम किया है। किसने तुम्‍हें ऐक्‍टिंग सिखाई? तुम यहीं से हो या किसी और यूनिवर्स से? ये सब सुनकर अच्‍छा लगा। बाद में मुझे एहसास हुआ कि जब चीजें बदलती हैं तो लोग भी बदल जाते हैं।’



Source link

इसे भी पढ़ें

इजरायल का चौतरफा हमला, गाजा सीमा पर डटे हजारों सैनिक, लड़ाकू विमानों ने बरपाया कहर

हाइलाइट्स: हमास के खिलाफ इजरायली सेना ने चौतरफा हमले की तैयारी शुरू कर दी हैइजरायल के टैंक और हजारों सैनिक शुक्रवार को गाजा...
- Advertisement -

Latest Articles

इजरायल का चौतरफा हमला, गाजा सीमा पर डटे हजारों सैनिक, लड़ाकू विमानों ने बरपाया कहर

हाइलाइट्स: हमास के खिलाफ इजरायली सेना ने चौतरफा हमले की तैयारी शुरू कर दी हैइजरायल के टैंक और हजारों सैनिक शुक्रवार को गाजा...

बीवी ने की पति की जोरदार कुटाई

बीवी - मेरे बाल सफेद होते जा रहे हैं...नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 14, 2021, 07:00AM ISTबीवी - मेरे बाल सफेद होते जा रहे हैं, व्हाट...