Home एंटरटेनमेंट संभावना सेठ ने अस्‍पताल को भेजा लीगल नोटिस, कहा- मेरे बीमार पिता...

संभावना सेठ ने अस्‍पताल को भेजा लीगल नोटिस, कहा- मेरे बीमार पिता के हाथ-पैर बांध रखे थे

0


टीवी ऐक्ट्रेस संभावना सेठ (Sambhavna Seth) ने पिता की मौत के कुछ दिन बाद ही उस अस्पताल के खिलाफ (Sambhavna Seth legal action against hospital) लीगल ऐक्शन लिया है, जिसमें उनके कोरोना पॉजिटिव पिता भर्ती थे। संभावना सेठ के पिता का इलाज दिल्ली के एक अस्पताल में चल रहा था, लेकिन 8 मई को उनका कार्डियक (Sambhavna Seth father death) अरेस्ट के चलते निधन हो गया।

संभावना सेठ ने तब एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए अपने पिता के ‘मेडिकल मर्डर’ के लिए उस अस्पताल को जिम्मेदार ठहराया था। अब संभावना सेठ ने उसी अस्पताल के खिलाफ लीगल नोटिस भेजा है, जिसमें उन्होंने इलाज में लापरवाही, मरीज की सही तरह से देखभाल न करने और कुछ भी पूछने पर सही ढंग से जवाब ने देने जैसे आरोप लगाए हैं।

पढ़ें: Video: संभावना सेठ ने पिता की मौत के लिए अस्पताल को ठहराया जिम्मेदार, कहा- हर डॉक्टर भगवान नहीं

‘सैचुरेशन ठीक फिर भी ऑक्सिजन सपॉर्ट पर डाला’

हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बातचीत में संभावना सेठ ने बताया, ‘मेरे पिता को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के 4 दिन बाद 30 अप्रैल को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। मेडिकल स्टाफ ने उनके कुछ ब्लड टेस्ट किए और बताया कि वह कुछ दिनों में ही रिकवर हो जाएंगे। हमने चैन की सांस ली। उसी दिन जब मेरा भाई अस्पताल गया तो उसने देखा कि पापा के हाथ बांध रखे थे। जैसे ही मेरे भाई ने इस बारे में पूछा तो उन्होंने तुरंत ही पापा के हाथ खोल दिए। पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि हाथ इसलिए बांधे गए हैं ताकि वह खुद से अपना सैलाइन न हटा दें। 7 मई को मेरे घबराए भाई ने फोन करके बताया कि पापा को ऑक्सिजन सपॉर्ट पर डाल दिया गया है, जबकि उनका सैचुरेशन 90 से 95 के बीच है। मुझे कुछ गड़बड़ लगी और मैं तुरंत मुंबई से दिल्ली आ गई।’


‘पापा के हाथ-पैर बांध रखे थे’

संभावना सेठ ने आगे कहा, ‘यह देखकर मेरे होश उड़ गए कि उन्होंने मेरे पिता के हाथों और पैरों को बेड से बांध रखा था। मुझे बताया गया कि ऐसा इसलिए किया गया है ताकि वह अपना ऑक्सिजन सप्लाई न रोकें। मेरे पिता को अटेंड करने के लिए वहां कोई भी स्टाफ मेंबर नहीं था। मेडिकल सुविधाएं भी बेकार थीं। मैंने इस समस्या को हाइलाइट करने के लिए वीडियो शूट किया तो स्टाफ मुझसे झगड़ने लगा और डिलीट करवाने के लिए भिड़ गया।’

‘बताया गया पापा की सेहत ठीक हो रही है, फिर कार्डियक अरेस्ट’

संभावना सेठ ने आगे बताया कि उनके पापा को जब कार्डियक अरेस्ट आया तो मिलने से रोक दिया गया। उससे चंद पल पहले डॉक्टर ने उनसे कहा था कि उनके पापा की सेहत सुधर रही है। संभावना सेठ बोलीं, ‘पापा की बिगड़ती हालत देख मैं इधर-उधर भाग-दौड़ करती रही। तब एक सीनियर डॉक्टर ने मेरे पापा की हालत के बारे में बताया। उन्होंने मुझे बताया कि पापा की हालत सुधर रही है और उन्हें अटेंड करने के लिए वह एक अटेंडेंट दे रहे हैं। लेकिन कुछ ही पलों बाद पापा को कार्डियक अरेस्ट आ गया। मैं उन्हें देखना चाहती थी, पर उस डॉक्टर ने मुझे रोक दिया और कहा कि वह उन्हें रिवाइव करने की कोशिश कर रहे हैं। बाद में मुझे बताया गया कि उनका निधन हो गया। मुझे लगता है कि डॉक्टरों को पहले ही पता था कि मेरे पिता नहीं रहे हैं।’

इस खबर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए क्लिक करें।





Source link