Sunday, June 13, 2021

‘हमें भी इजरायल की तरह आर्मी में जाना है’, कंगना ने पर ईद पर पढ़ाया भारतीयता का पाठ

- Advertisement -


बॉलिवुड ऐक्‍ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने शुक्रवार को अपने फैन्‍स और देशवासियों को भारतीयता (Nationalism) और इंसानियत (Humanity) का पाठ पढ़ाया है। कंगना रनौत ने इंस्‍टाग्राम पर करीब तीन मिनट का वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह पहले ईद (Eid), अक्षय तृतीया (Akshay Tritiya) और परशुराम जयंती (Parshuram Jayanti) की बधाई देती हैं। वीडियो में कंगना ने आगे इजरायल (Israel) का उदाहरण लेते हुए विपक्षी राजनीतिक दलों पर भी निशाना साधा है और धर्म के आधार पर समाज को बांटने वालों को भी। कंगना ने कहा कि जिस तरह इजरायल से आतंकवाद का सामना किया है, हम सभी को सीख लेनी चाहिए। उन्‍होंने सरकार से अपील की है कि इजरायल की तरह भारत में ही सेना (Army) में सेवा करना युवाओं के लिए अन‍िवार्य कर देना चाहिए।

‘यहां बंदर-मदारी का तमाशा देखते हैं लोग’
ऐक्‍ट्रेस ने आगे कहा है कि इजरायल में भी अपोजिशन है, लेकिन वहां कोई यह नहीं पूछा रहा कि कहां स्‍ट्राइक किया, हम नहीं मानते। कंगना कहती हैं कि हमारे देश में ही कुछ लोग हैं कि जो ऐसा करते हैं और बंदर-मदारी का तमाशा देखते हैं। ऐसे लोग चाहते हैं कि देश का अंत हो जाए। कंगना ने सरकार से अपील की है कि जिस-जिस धर्म की किताबों में यह लिखा है कि सिर्फ उसी धर्म के लोग तुम्‍हारे अपने हैं, बाकी गाजर मूलियां हैं, उसको निकालिए। ऐक्‍ट्रेस ने लोगों से कहा कि ये बातें झूठ हैं। इन्‍हें मत मानिए। आपके लिए सर्वोपरि धर्म होना चाहिए भारतीयता का। यही हम सभी का आपस में असली संबंध है।

पढ़‍िए, कंगन रनौत ने क्‍या कहा जस का तस-
नमस्‍ते दोस्‍तों, आज बहुत सारे त्‍योहार हैं। ईद मुबारक। अक्षय तृतीया की बहुत शुभकामनाएं। परशुराम जयंती की बहुत शुभकामनाएं। और दोस्‍तों हम देख रहे हैं कि दुनिया बहुत सी चीजों से जूझ रही है। चाहे वो कोरोना हो या देश आपस में लड़ रहे हों। मुझे लगता है कि अच्‍छे वक्‍त में संयम नहीं खोना चाहिए और बुरे वक्‍त में हिम्‍मत नहीं खोनी चाहिए। तो हमें क्‍या सीख मिल रही है। अब इजरायल का ही एग्‍जाम्‍पल ले लीजिए। मात्र कुछ लाख लोग हैं उस देश में। लेकिन हमने पिछले कुछ सालों में देखा कि कई सारे देश एकसाथ अटैक कर देते हैं। जिस तरह से वो लोग आतंकवाद का मुकाबला कर रहे हैं। पूरी दुनिया के लिए एक एग्‍जाम्‍पल बनकर रह गया है। ऐसा क्‍या है उस देश में।

सबसे पहले तो अपोजिशन। अपोजिशन वहां भी है, लेकिन खड़े होकर यह नहीं कह रही यूथ के बीच में कि कहां तुमने स्‍ट्राइक किया हम तो नहीं मानते। उनके कौन से लीडर को मार दिया, हम तो नहीं मानते। इस तरह की कोई गंदगी नहीं है वहां। हमें इससे सीखना चाहिए। इस तरह की गंदगी कोई वहां नहीं डाल रहा है। इस देश में चाहे कोई आपत्त‍ि आए या युद्ध आए, चाहे महामारी आए, कुछ भी आए, कुछ लोग होते हैं जो जैसे बंदर-मदारी का तमाशा देखते हैं, वैसे साइड में खड़े हो जाते हैं। और बस उम्‍मीद करते हैं कि ये देश खत्‍म हो, गिरे और वो बस इस चीज का तमाशा देखे और मजे उठाए।


अब जैसे हमने कोरोना काल में ही देखा कि एक इल्‍डरली लेडी (बूढ़ी महिला) सड़क पर बैठी ऑक्‍स‍िजन.., उस इमेज को पूरे अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भुनाया गया। अभी कल पता चला कि जो तस्‍वीरें वायरल हो रही हैं, जिसमें गंगा में लाशें तैर रही हैं, वो नाइजीरिया की हैं। ये सब यहां के लोग, हमारी पीठ में छुरा यहां के…, वो किसी जाति या धर्म विशेष के नहीं हैं। वो कैरेक्‍टर हर जगह पाए जाते हैं। फिर क्‍यों हम भारतियों में, घुसपैठियों को मिलाकर ऑलमोस्‍ट 150 करोड़ हो चुके हैं हम। फिर भी बहुत कम लोग काम किए, ऐसा क्‍यों है। क्‍या हमें कुछ करना नहीं चाहिए। इसके लिए कुछ स्‍टेप्‍स नहीं लेने चाहिए क्‍या।

मैं भारत सरकार से यह अपील करना चाहती हूं कि इजरायल की तरह आर्मी में सर्व करना कम्‍पलसरी कर दीजिए। हम भी करना चाहते हैं। हम भी करेंगे। और सबसे बड़ी बात तो ये है कि जिन जिन किताबों में, जिस जिस धर्म की किताबों में यह लिखा है कि सिर्फ उसी धर्म के लोग तुम्‍हारे अपने हैं, बाकी गाजर मूलियां हैं, उसको निकालिए उन किताबों में से। चाहे आप हिंदू हैं, मुसलमान हैं, जैन हैं, सिख हैं, ईसाई हैं, कुछ भी हैं आप। आपके लिए सर्वोपरि धर्म होना चाहिए भारतीयता का।

हमारा आपका जो संबंध हैं भारतीय होने का वो सर्वोपरि होना चाहिए। इंसानियत का नाता सर्वोपरि होना चाहिए। किसी किताब में लिखी ये बात क्‍या आपके लिए कोई मायने नहीं रखती, बस एक दूसरे के लिए जो धर्म, जो एक ही धर्म का है, वही मायने रखती है। वो बात झूठ है, उस बात को मत मानिए आप। हम भारतीय एक-दूसरे के लिए मायने रखते हैं। अरे, हम साथ में जब आगे बढ़ेंगे तभी हमारा देश आगे बढ़ेगा। जय हिंद।





Source link

इसे भी पढ़ें

खत्म हुआ इंतजार ! अगले महीने लॉन्च हो रही 7 सीटर ‘देसी’ SUV

नई दिल्लीस्वदेशी कार निर्माता कंपनी महिंद्रा ऐंड महिंद्रा (Mahindra & Mahindra) की 7 सीटर एसयूवी Mahindra XUV700 अब टेस्टिंग के आखिरी पेज में...

जल्द भारत आ सकता है एक और ताकतवर स्मार्टफोन Vivo V21e 5G, सामने आए फीचर्स

Vivo V21e 5G Specifications: हैंडसेट निर्माता कंपनी Vivo ने पिछले सप्ताह भारत में अपने लेटेस्ट स्मार्टफोन Vivo Y73 2021 को उतारा था और...
- Advertisement -

Latest Articles

खत्म हुआ इंतजार ! अगले महीने लॉन्च हो रही 7 सीटर ‘देसी’ SUV

नई दिल्लीस्वदेशी कार निर्माता कंपनी महिंद्रा ऐंड महिंद्रा (Mahindra & Mahindra) की 7 सीटर एसयूवी Mahindra XUV700 अब टेस्टिंग के आखिरी पेज में...

जल्द भारत आ सकता है एक और ताकतवर स्मार्टफोन Vivo V21e 5G, सामने आए फीचर्स

Vivo V21e 5G Specifications: हैंडसेट निर्माता कंपनी Vivo ने पिछले सप्ताह भारत में अपने लेटेस्ट स्मार्टफोन Vivo Y73 2021 को उतारा था और...

नए अवतार में आ रही मारुति की 4 कारें, जानें डीटेल

नई दिल्लीMaruti Suzuki में कई मॉडल उतारने की तैयारी कर रही है। कंपनी Hyundai को टक्कर देने के लिए कई बड़ी एसयूवी भी...