Monday, June 21, 2021

First year UG, PG students to be promoted: स्नातक और स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के विद्यार्थी होंगे प्रमोट, नया शैक्षणिक सत्र 13 सितंबर से होगा शुरू

- Advertisement -


First year UG, PG students to be promoted: यूपी सरकार ने कोविड -19 महामारी को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में नामांकित सभी स्नातक और स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को प्रमोट करने का फैसला किया है।

First year UG, PG students to be promoted: यूपी सरकार ने कोविड -19 महामारी को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में नामांकित सभी स्नातक और स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को प्रमोट करने का फैसला किया है। उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने घोषणा की है कि नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 की शुरुआत 13 सितंबर की जाएगी। यूपी के विश्वविद्यालयों में 41 लाख विद्यार्थी नामांकित हैं। राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों के यूजी और पीजी पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष / टर्मिनल सेमेस्टर में छात्रों को उनकी डिग्री प्राप्त करने से पहले परीक्षा देनी होगी। जिन संस्थानों में 5वें सेमेस्टर (यूजी में) और तीसरे सेमेस्टर (पीजी में) की परीक्षा नहीं हुई थी, वहां पिछले सेमेस्टर में निर्धारित किए गए अंकों के आधार पर अंतिम सेमेस्टर का स्कोर तैयार होगा।

Read More: निर्धारित शेड्यूल पर ही आयोजित होगी एम्स पीजी परीक्षा, कल जारी होंगे एडमिट कार्ड

स्नातक द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों की होगी परीक्षा
स्नातक द्वितीय वर्ष के विद्यार्थी जिन्होंने पिछले साल परीक्षा नहीं दी थी, वे भी परीक्षा देंगे। अपने अंकों से असंतुष्ट छात्रों को 2022-23 में होने वाली एक या सभी विषयों में सुधार परीक्षाओं में बैठने की अनुमति दी जाएगी। विश्वविद्यालयों को ओएमआर-आधारित परीक्षा अगस्त के मध्य तक आयोजित करनी होगी, जिसमें बहुविकल्पीय प्रश्न होते हैं। सरकार ने सिफारिश की थी कि विश्वविद्यालय परीक्षा की अवधि और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों की संख्या दोनों को कम कर दें। शर्मा ने कहा कि तीन घंटे की परीक्षा को घटाकर 90 मिनट किया जाएगा, जबकि प्रश्नों की संख्या घटा दी जाएगी।

Read More: कर्नाटक सीईटी परीक्षा की तिथि घोषित, छात्र 15 जून से कर पाएंगे आवेदन

यूनिवर्सिटी ऑनलाइन एग्जाम
सरकार ने कहा कि विश्वविद्यालयों को ऑनलाइन परीक्षा के विकल्प पर भी विचार करना चाहिए। साथ ही विश्वविद्यालयों को सैद्धांतिक पेपर में उनके प्रदर्शन के अनुसार टर्मिनल सेमेस्टर / स्नातक छात्रों के लिए व्यावहारिक परीक्षाओं के अंक देने की भी सिफारिश की। वाइवा-वॉयस ऑनलाइन किया जाना चाहिए। हालांकि, परीक्षा आयोजित करने के तौर-तरीकों पर अंतिम फैसला संबंधित विश्वविद्यालय करेंगे। सभी परिणाम 31 अगस्त तक घोषित किए जाने हैं।

Read More: एनईएसटी परीक्षा की नई तारीख जारी, 15 जुलाई तक करें आवेदन

सेमेस्टर प्रणाली के तहत, दूसरे सेमेस्टर के छात्रों के लिए, जिन्होंने अपनी परीक्षा नहीं दी, सभी विश्वविद्यालय पहले सेमेस्टर की परीक्षा में उनके प्रदर्शन और दूसरे सेमेस्टर के मध्य-अवधि / आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर परिणाम तैयार करेंगे। सभी यूजी और पीजी छात्रों के लिए एक ही फॉर्मूला लागू होगा जो विषम सेमेस्टर में हैं।

 

UG, PG First year students Exam 2021 Latest Update

 

जिन संस्थानों में कोई परीक्षा नहीं हुई थी, वहां विषम सेमेस्टर के अंक मध्यावधि / आंतरिक मूल्यांकन (जो भी उपलब्ध हो) में छात्रों के प्रदर्शन पर आधारित होंगे, पिछले सेमेस्टर के अंकों को शामिल करने पर सम सेमेस्टर के परिणाम तैयार किए जाएंगे।

Web Title: All UG And PG first-year students in UP universities to be promoted





Source link

इसे भी पढ़ें

चीन की नाक के नीचे पहुंचा नौसेना का ऐरावत, साउथ चाइना सी में योग से दिया कड़ा संदेश

कैमरान्‍ह बे (वियतनाम)साउथ चाइना सी से लेकर अरब सागर तक फुफकार रहे चीनी ड्रैगन को भारतीय नौसेना ने अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस पर एक...
- Advertisement -

Latest Articles

चीन की नाक के नीचे पहुंचा नौसेना का ऐरावत, साउथ चाइना सी में योग से दिया कड़ा संदेश

कैमरान्‍ह बे (वियतनाम)साउथ चाइना सी से लेकर अरब सागर तक फुफकार रहे चीनी ड्रैगन को भारतीय नौसेना ने अंतरराष्‍ट्रीय योग दिवस पर एक...

अर्जुन कपूर ने बनवाया है नया Tattoo, पर ये मलाइका अरोड़ा के लिए नहीं है

बॉलिवुड ऐक्टर अर्जुन कपूर (Arjun Kapoor) अपनी फिल्मों से ज्यादा मलाइका अरोड़ा (Malaika Arora) के साथ अपने अफेयर को लेकर ज्यादा चर्चा में...