Thursday, June 17, 2021

IIT-Roorkee: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और डेटा साइंस में दो नए एमटेक प्रोग्राम लॉन्च, पढें पूरी डिटेल्स

- Advertisement -


IIT Roorkee: भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और डेटा साइंस में दो नए एमटेक कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा की है। इन कार्यक्रमों को आईआईटी रुड़की में हाल ही में स्थापित सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डेटा साइंस ( CAIDS ) के माध्यम से शुरू किए जाएंगे।

IIT Roorkee: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और डेटा सांइंस में करिअर बनाने के लिए प्रयासरत युवाओं के लिए एक अच्छी खबर है। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ( AI ) और डेटा साइंस ( DS ) में दो नए एमटेक कार्यक्रम ( MTech Programme ) शुरू करने की घोषणा की है। इन कार्यक्रमों को आईआईटी रुड़की में हाल ही में स्थापित सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डेटा साइंस ( CAIDS ) के माध्यम से शुरू किए जाएंगे। इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने के इच्छुक छात्रों को सलाह दी गई है कि वे आवेदन करने से पहले COAP 2021 के पोर्टल coap.iitd.ac.in पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी कर लें।

Read More: ICSI CS Exam Dates 2021 announced: 10 से 20 अगस्त के बीच होंगी CS की परीक्षाएं, रिवाइज्ड टाइम टेबल जारी, यहां से करें चेक

सीधे इंटरव्यू से होगा इन पाठ्यक्रमों के लिए उम्मीदवारों का चयन

आईआईटी रुड़की द्वारा हाल ही स्थापित सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डेटा साइंस ( CAIDS ) में 15 विभिन्न विभागों के 23 संकाय सदस्य शामिल हुए हैं। आवेदन करने में सक्षम होने के लिए उम्मीदवारों के पास किसी भी इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में बीई/बीटेक/एकीकृत एमएससी या समकक्ष डिग्री होनी चाहिए। आवेदकों के पास 6.0 का सीजीपीए भी होना चाहिए। शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों का चयन ऑनलाइन इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा।

एआई और डीएस से देश में उद्यमिता को बढ़ावा मिलेगा

आईआईटी रुड़की ( IIT Roorkee ) के निदेशक अजीत के चतुर्वेदी ने कहा है कि एआई और डीएस ने विषयों और विशेषज्ञताओं में अनुसंधान के लिए नए रास्ते खोले हैं। सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डेटा साइंस, जनशक्ति विकास, अनुसंधान और नवाचार को बढ़ावा देकर देश के एआई और डीएस परिदृश्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। दोनों पाठ्यक्रमों के बल पर देश में उद्यमिता के नए-नए अवसर पैदा होंगे। CAIDS को AI और DS में शिक्षण, प्रशिक्षण, कार्यबल विकास, अनुप्रयुक्त अनुसंधान, उद्यमिता और नवाचार को बढ़ावा देकर भारत के AI और DS परिदृश्य को आकार देने के उद्देश्य से लॉन्च किया गया है। बहु-विषयक पहल से वित्त और निवेश बैंकिंग, व्यवसाय, स्वास्थ्य सेवा, परिवहन, सामग्री सूचना विज्ञान और कई अन्य क्षेत्रों सहित विभिन्न क्षेत्रों में एक सार्थक भूमिका निभाने की उम्मीद है।

Read More: INI CET Exam 2021: 26 डॉक्टरों ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की याचिका, आईएनआई सीईटी परीक्षा स्थगित करने की मांग की

Web Title: IIT Roorkee Launches Two New MTech Programmes In AI and DS





Source link

इसे भी पढ़ें

वाहन से जुड़े कागजातों की वैधता फिर बढ़ी: अब 30 सितंबर तक मान्य रहेंगे ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी और गाड़ी का परमिट

नई दिल्ली5 मिनट पहलेकॉपी लिंकसड़क परिवहन मंत्रालय ने एनफोर्समेंट अथॉरिटीज को आदेश का पूर्ण पालन करने की सलाह दी है। -सिम्बॉलिक तस्वीरकेंद्र सरकार...
- Advertisement -

Latest Articles

वाहन से जुड़े कागजातों की वैधता फिर बढ़ी: अब 30 सितंबर तक मान्य रहेंगे ड्राइविंग लाइसेंस, आरसी और गाड़ी का परमिट

नई दिल्ली5 मिनट पहलेकॉपी लिंकसड़क परिवहन मंत्रालय ने एनफोर्समेंट अथॉरिटीज को आदेश का पूर्ण पालन करने की सलाह दी है। -सिम्बॉलिक तस्वीरकेंद्र सरकार...

आलिया भट्ट ने बाथरूम से शेयर की अलग-अलग सेल्‍फी, फिर पूछा- अंतर तो बताइए

आलिया भट्ट (Alia Bhatt) बॉलिवुड की सबसे टैलंटेड ऐक्‍ट्रसेस में से एक हैं। वह सोशल मीडिया पर भी काफी ऐक्‍टिव रहती हैं। हाल...

बंगाल ही नहीं त्रिपुरा में भी बीजेपी को चोट पहुंचाने की जुगत में हैं मुकुल रॉय? लग रहीं अटकलें

हाइलाइट्स:त्रिपुरा बीजेपी में संगठन स्तर पर हो सकता है बड़ा बदलावनाराज अपनों को मनाने के लिए कैबिनेट विस्तार भी मुमकिनपार्टी के राष्ट्रीय संगठन...