Saturday, December 5, 2020

इंडियन शॉपिंग साइट पर मिल रहा बंपर डिस्काउंट, भारतीय सेलर्स बन रहे बड़े ब्रैंड

- Advertisement -


नई दिल्ली
ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स के लिए साल 2020 काफी अच्छा रहा है और कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से लोगों ने ऑनलाइन सामान मंगवाना शुरू कर दिया है। ई-कॉमर्स साइट्स को तो ऐसे में ढेरों मौके मिले ही, साथ ही ऐसे सेलर्स भी ऑनलाइन आए, जिनकी दुकानें लॉकडाउन की वजह से बंद हो गई थीं। इंडियन शॉपिंग प्लैटफॉर्म Snapdeal ने भारत के ढेरों लोकल सेलर्स को अपने प्लैटफॉर्म पर मौका दिया और इनमें से कई अब बड़े ब्रैंड्स बन चुके हैं। इस सेलर्स की ओर से स्नैपडील पर 70 प्रतिशत तक डिस्काउंट भी दिया जा रहा है।

एथनिक जूलरी ब्रैंड दर्शिनी डिजाइन की ओर से 70 प्रतिशत तक की छूट मिल रही है। न्यूट्रीशन और सप्लिमेंट ब्रैंड न्यूट्राबे जहां 45 प्रतिशत तक डिस्काउंट दे रहा है, वहीं मेकअप ब्रैंड स्विस ब्यूटी की ओर से 35 प्रतिशत की छूट मेकअप से जुड़े प्रोडक्ट्स पर मिल रही है। नए कपड़े खरीदने हैं तो एथनिक वियर ब्रैंड्स महागीता और जनायसा की ओर से 70 प्रतिशत तक का डिस्काउंट आपको साइट पर मिल जाएगा। ऑफर्स के अलावा इन प्रोडक्ट्स से जुड़ी खास बात यह है कि ये सभी इंडियन ब्रैंड्स हैं।

पढ़ें: केवल 5 आसान टिप्स, बढ़ जाएगी आपके फोन की बैटरी लाइफ

कोविड लॉकडाउन में मिले ढेरों मौके
लॉकडाउन के दौरान लोकल सेलर्स के सामने अपनी दुकानें और बिजनस बंद रखने की चुनौती थी और बायर्स ऑनलाइन सामान खरीदने के अलावा बाजार तक नहीं जा पा रहे थे। बायर्स और सेलर्स के बीच इस दूरी को खत्म करने के लिए स्नैपडील ने लोकल सेलर्स को अपने प्लैटफॉर्म पर जगह दी और इसका अच्छा रिस्पॉन्स मिला। स्नैपडील के सीनियर वीपी रजनीश वाही बताते हैं कि ढेरों इंडियन सेलर्स कम कीमत में बेहतर वैल्यू वाले प्रोडक्ट्स ऑफर कर रहे हैं, जो मार्केट में उन्हें पसंद किए जाने की वजह है। मार्केट जैसा ऑप्शन अब बायर्स को ऑनलाइन भी मिल रहा है।

पढ़ें: चाइनीज ऐप हुए बैन, हर काम के लिए ये हैं बेस्ट इंडियन ऐप

इंडियन सेलर्स की मदद कर रहा स्नैपडील
स्नैपडील पर सेलर्स के लिए अपना अकाउंट बनाना और सेल शुरू करना कितना आसान है इसपर रजनीश ने कहा कि साइट पर रजिस्टर्स सारे सेलर्स इंडियन हैं और GST नंबर की मदद से रजिस्टर कर कोई भी चंद मिनटों में अपने प्रोडक्ट्स की सेल शुरू करता है। अच्छी बात यह है कि स्नैपडील खुद ऐसे सेलर्स की मदद करता है, जिन्हें ऑनलाइन प्रोडक्ट्स बेचने का अनुभव नहीं है। प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग से लेकर उनके लिए ऐड और प्रोमो विडियो बनाने का काम स्नैपडील की टीम करती है। इसके लिए सेलर्स को अलग से कोई फीस नहीं देनी होती।

Jio vs Airtel vs Vi: ₹200 से कम में तीनों कंपनियों के बेस्ट प्रीपेड प्लान

नॉन-मेट्रो शहरों से सबसे ज्यादा बायर्स
बात आंकड़ों की करें तो भारत के तीसरे सबसे बड़े मार्केटप्लेस स्नैपडील ने खुद को वैल्यू फोकस्ड प्लैटफॉर्म बनाने पर काम किया है। 5 लाख से ज्यादा इंडियन सेलर्स वाले प्लैटफॉर्म पर पिछले एक साल में 2 करोड़ नए बायर्स जुड़े हैं। स्नैपडील के करीब 85 प्रतिशत बायर्स नॉन-मेट्रो शहरों से हैं। मध्यप्रदेश के सागर में रहने वाले प्रदीप चंदवानी इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट्स सेल कर रहे हैं और उनकी मानें तो कोविड लॉकडाउन के बाद ऑनलाइन डिमांड लगभग दोगुनी हो गई। लखनऊ बेस्ड मेडिकल एक्विमेंट सेलर अमर नाथ बंसल भी एक सेलर से अब ब्रैंड बन चुके हैं और इसका क्रेडिट शॉपिंग प्लैटफॉर्म को देते हैं।



Source link

इसे भी पढ़ें

किसान आंदोलन के समर्थन में 36 ब्रिटिश सांसद, भारत पर दबाव बनाने के लिए लिखी चिट्ठी

हाइलाइट्स:भारत के किसान आंदोलन को 36 ब्रिटिश सांसदों ने दिया समर्थनब्रिटिश विदेश सचिव को लिखी चिट्ठी, भारत से बात करने की अपील कीबोले-...

Aus vs Ind: कनकशन विवाद पर बोले सहवाग, 24 घंटे बाद तक भी दिखते हैं लक्षण, भारत ने कुछ भी गलत नहीं किया

नयी दिल्लीपूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि भारतीय टीम रविंद्र जडेजा के कनकशन विकल्प को लेने में बिलकुल सही थी...
- Advertisement -

Latest Articles

किसान आंदोलन के समर्थन में 36 ब्रिटिश सांसद, भारत पर दबाव बनाने के लिए लिखी चिट्ठी

हाइलाइट्स:भारत के किसान आंदोलन को 36 ब्रिटिश सांसदों ने दिया समर्थनब्रिटिश विदेश सचिव को लिखी चिट्ठी, भारत से बात करने की अपील कीबोले-...

Aus vs Ind: कनकशन विवाद पर बोले सहवाग, 24 घंटे बाद तक भी दिखते हैं लक्षण, भारत ने कुछ भी गलत नहीं किया

नयी दिल्लीपूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि भारतीय टीम रविंद्र जडेजा के कनकशन विकल्प को लेने में बिलकुल सही थी...

एर्दोगन ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों को बताया ‘मुसीबत’, बोले- उनसे जल्द छुटकारा पा लेगा फ्रांस

अंकारामुस्लिम देशों के खलीफा बनने की कोशिश कर रहे तुर्की के राष्ट्रपति रेचप तैय्यप एर्दोगन फ्रांस के खिलाफ लगातार जहर उगल रहे हैं।...