Monday, June 14, 2021

Air Cooler खरीदने से पहले दें इन बातों पर ध्यान, कभी नहीं होगा नुकसान

- Advertisement -


गर्मियों के मौसम में एयर कूलर (Air Cooler) राहत प्रदान करने में बहुत बड़ा योगदान देते हैं। गर्मियों के मौसम में यह मिडिल क्लास के लिए इसलिए भी सबसे ज्यादा जरूरी हो जाते हैं, क्योंकि यह गर्मी से बचाव करने के साथ-साथ किफायती भी होते हैं। इनका मेंटेनेंस काफी आसान होता है और इन्हें घर के बाहर या अंदर दोनों जगह इस्तेमाल किया जा सकता है। पानी वाले कूलर गर्मियों में ताजा हवां प्रदान करते हैं, जो साफ होती है और ठंडी होती है और वातावरण के लिए भी अनूकूल होती है।

अगर आप चाहते हैं कि आपके घर में गर्मियों में राहत देने के लिए एक ऐसा साधन आ जाए जो कि ताजी और ठंडी हवा प्रदान करने के दौरान किफायती भी रहे तो उसके लिए आपको बेस्ट ऑप्शन का चयन करना होगा। अगर आप सोच रहे हैं कि अपने लिए कैसे बेस्ट कूलर का चयन किया जाए तो हम आपको यहां पर इसकी पूरी जानकारी दे रहे हैं जो कि आपके कमरे को ठंडा रखे, इसके लिए आपको इन बातों पर ध्यान देना चाहिए।

जुग जुग Jio! अब WhatsApp पर COVID Vaccine ढूंढने में भी मदद करेगी कंपनी, जानिए कैसे

कूलर कितने प्रकार के होते हैं:
सबसे पहले तो आपको यह जानना चाहिए कि कूलर कितने प्रकार के होते हैं और आप मार्केट में उपलब्ध मॉडल ऑप्शन में अपनी जरूरत के हिसाब से बेस्ट का चयन कर सकते हैं।

पर्सनल कूलर: सबसे ज्यादा पर्सनल कूलर्स बिकते हैं, क्योंकि यह आसानी से कहीं भी ले जाए जा सकते हैं। यह साफ और ठंडी हवा प्रदान करते हैं जो कि आपको आराम पहुंचाती है, जिससे आपको पसीने और गर्मी से राहत मिलती है। इसको खासतौर पर छोटे कमरों के लिए डिजाइन किया जाता है।

बड़ी खबर! अपना पहला Laptop लॉन्च करने की तैयारी में Realme, कम बजट में मिलेगी MacBook जैसी फिनिश

टॉवर कूलर: टॉवर कूलर आपके लिए तब ज्यादा बेहतर ऑप्शन साबित होते हैं जब आपके पास बड़ा क्षेत्र होता है। यह बड़े एरिया को काफी कम समय में ठंडा कर सकते हैं और यह हवा को वर्टिकली प्रदान करते हैं। यह गर्मी को दूर करने और ठंडी हवा प्रदान करने के लिए काम करते हैं। अगर आपका कमरा मध्यम आकार का है तो आपके लिए यह बेस्ट ऑप्शन हैं।

विंडो कूलर: इन कूलर्स को विंडो के साथ घर के बाहर की ओर लगाया जाता है और ये हाई मेंटेनेंस वाले कूलर्स होते हैं। इनमें हनीकॉम्ब पेड्स प्रदान किए जाते हैं जो कि थोड़े महंगे होते हैं, लेकिन इनका मेंटेनेंस आसान होता है। विंडो कूलर की विशेषता की बात करें तो यह अन्य कूलर्स की तुलना में कम पावर की खपत करते हैं।

डेजर्ट कूलर: डेजर्ट कूलर्स को खासतौर पर उन क्षेत्रों के लिए डिजाइन किया जाता है, जहां पर तापमान अधिक होता है और आद्रता कम होती है। ये कूलर हीट को पानी के साथ खत्म करते हुगए ठंडी हवा प्रदान करते हैं। यह आसानी से बड़े एरिया को बेहतर तरीके से ठंडा कर सकते हैं।

आपके लिए कौन सा कूलर है बेस्ट:
अपने लिए नया कूलर खरीदने से पहले आपको कुछ बातों पर ध्यान देना चाहिए, जैसे कि आपके कमरा का आकार कितना है, कमरे की ऊंचाई कितनी है, बाहर का तापमान कितना है, पावर की क्षमता कितनी है, आद्रता और सबसे जरूरी बात की कूलर को रखा कहां पर जाना है। इसके अलावा आपको यह देखना है कि कूलर कितनी दूरी से हवा प्रदान करेगा। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए आपको अपने लिए नया कूलर खरीदना चाहिए जो कि आपकी जरूरतों को पूरा करेगा।

22 जून को भारत आ रहा Xiaomi का सबसे पतला फोन Mi 11 Lite, फीचर्स से होगा फुली लोडेड

आपको नया कूलर खरीदते वक्त यह ध्यान देना चाहिए कि उसकी पानी की क्षमता कितनी है। अगर आपके पास एक बड़े आकार का कमरा है तो आपको कम से कम 30-40 लीटर की क्षमता वाला कूलर खरीदना चाहिए। अगर आप छोटे कमरे के लिए नया कूलर खरीदना चाहते हैं तो आपको 20 लीटर वाला ऑप्शन चुन लेना चाहिए।

इसके अलावा आपको कूलर खरीदते वक्त यह ध्यान देना चाहिए कि उसकी पावर की खपत कितनी है, अच्छी क्वालिटी के कूलिंग पैड्स, नॉयज फिल्टर और इन्वर्टर से चल सकता है या नहीं। अगर आप थोड़ा हाइटेक चाहते हैं तो आज के समय में कूलर्स में रिमोट कंट्रोल, ऑटो फिल फंक्शन, एंटी मॉस्किटो, डस्ट फिल्टर और अतिरिक्त आइस चेंबर मिलता है।



Source link

इसे भी पढ़ें

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...
- Advertisement -

Latest Articles

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...

भारत ने पिछले 3 साल में बांग्लादेश को को सौंपे 577 घुसपैठिए , इस साल अब तक 100 को वापस भेजा गया

नई दिल्लीभारत ने साल 2018 से अपने पड़ोसी देश बांग्लादेश को अधिकतम 577 घुसपैठिए सौंपे हैं, जो दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग...