Friday, January 22, 2021

अमेरिका: अपने ही राष्ट्रपति का डर, किले में तब्दील कैपिटल इमारत में फर्श पर सोने को मजबूर देश के रक्षक

- Advertisement -


करीब एक हफ्ते पहले अमेरिकी संसद में हुई हिंसा के बाद अब 20 जनवरी को नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन का शपथग्रहण समारोह (Inauguration) कड़ी सुरक्षा के बीच होगा। नैशनल गार्ड को सतर्क किया गया है कि समारोह के दौरान एक बार फिर कैपिटल पर हमला हो सकता है और इस बार IED जैसे विस्फोटकों का हमला हथियारबंद प्रदर्शनकारी कर सकते हैं। यह डर उस वक्त पुख्ता हो गया था जब कैपिटल पर हमले के दौरान पाइप बम बरामद किए गए थे। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने 6 जनवरी को संसद की इमारत पर चढ़ाई कर दी थी जिसके बाद हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गई थी।

पहले से ज्यादा चौकन्ने होंगे जवान

बाइडेन के शपथग्रहण के दौरान वॉशिंगटन में 20 हजार नैशनल गार्ड सैनिकों को उतारने की तैयारी की गई है। पहले ही डीसी में 6,200 सैनिक तैनात हैं और शनिवार तक 10 हजार और तैनात कर दिए जाएंगे। पहले सैनिकों को सिर्फ सुरक्षा उपकरण ले जाने की इजाजत थी लेकिन अब उनके पास हैंडगन और राइफलें भी होंगी। तनावपूर्ण हालात के बीच कैपिटल की इमारत के अंदर से नैशनल गार्ड की तस्वीरें सामने आई हैं जिसमें सैकड़ों सैनिक अपने सामान के साथ ही ठंडी फर्श पर सोते दिख रहे हैं। इन तस्वीरों के सामने आने के बाद लोगों ने घटनाक्रम को शर्मनाक बताया है।

कैपिटल पर 3 हमलों का प्लान

-3-

नैशनल गार्ड के सैनिकों के अलावा दूसरे अधिकारियों और आठ फुट ऊंचे स्टील के घेरे बनाने का फैसला किया गया है। FBI ने पहले ही चेतावनी दी है कि वॉशिंगटन और सभी 50 राज्यों की राजधानियों में 20 जनवरी तक हमले हो सकते हैं जबकि अकेले कैपिटल में 3 हमलों का प्लान है। सिक्यॉरिटी एक्सपर्ट्स के मुताबिक कट्टरवादी और ट्रंप समर्थक सोशल मीडिया पर डीसी में हिंसा की धमकी दे रहे हैं और पिछले कुछ वक्त में ऐसे मामले बढ़े हैं।

सैनिकों को बांटे गए पिज्जा

सीक्रेट सर्विस अब समारोह की तैयारियों का जिम्मा संभालेगी और शहर की कई सड़कों को बंद कर दिया जाएगा। कई इलाकों में प्रतिबंध लागू कर दिए गए हैं और स्क्रीनिंग बढ़ा दी गई है। वहीं, बुधवार को रिपब्लिकन नेताओं माइक वॉल्ट्ज और विकी हार्ट्जलर ने सैनिकों को पिज्जा बांटे थे। माना जा रहा है कि गृह युद्ध के बाद ऐसा पहली बार है जब सैनिकों ने कैपिटल के अंदर कैंप बनाया है। स्पीकर नैंसी पेलोसी ने भी इमारत के बाहर सैनिकों को धन्यवाद दिया था। इसके बाद दूसरी बार ट्रंप का महाभियोग करने के प्रस्ताव पर बहस हुई जिसे मान लिया गया था।



Source link

इसे भी पढ़ें

रियलमी के दो प्रीमियम मोबाइल Realme Race Pro और Realme X9 Pro में धांसू खूबियां

नई दिल्ली।पॉप्युलर स्मार्टफोन कंपनी Realme जल्द ही भारत में Realme Race Pro और Realme X9 Pro नाम से दो प्रीमियम स्मार्टफोन लॉन्च करने...

IPL 2021: गौतम गंभीर के निशाने पर फिर विराट कोहली, पूछा- बिना ट्रोफी कैसे कर रहे 8 साल से कप्तानी?

नई दिल्लीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र के लिए ऑक्शन कुछ ही दिनों में होना है। इससे पहले पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज...
- Advertisement -

Latest Articles

रियलमी के दो प्रीमियम मोबाइल Realme Race Pro और Realme X9 Pro में धांसू खूबियां

नई दिल्ली।पॉप्युलर स्मार्टफोन कंपनी Realme जल्द ही भारत में Realme Race Pro और Realme X9 Pro नाम से दो प्रीमियम स्मार्टफोन लॉन्च करने...

IPL 2021: गौतम गंभीर के निशाने पर फिर विराट कोहली, पूछा- बिना ट्रोफी कैसे कर रहे 8 साल से कप्तानी?

नई दिल्लीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र के लिए ऑक्शन कुछ ही दिनों में होना है। इससे पहले पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज...

India Covid-19 Vaccine: भारत ने मॉरीशस, म्यांमार और सेशेल्स को उपहार में दी कोविडशील्ड वैक्सीन की साढ़े 16 लाख खुराक

नई दिल्लीभारत कोरोना माहामारी से जूझ रहे जमीनी सीमा साझा करने वाले देशों के साथ पड़ोसी धर्म निभाने के बाद अब समुद्री सीमा...

ट्रंप को हमले की धमकी देना ईरान के सबसे बड़े लीडर को पड़ा भारी, ट्विटर ने सस्पेंड किया अकाउंट

तेहरानअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को ट्वीट कर हमले की धमकी देना ईरान के सर्वोच्च धर्मगुरु आयतुल्लाह अली खामेनेई को भारी पड़ गया। ट्विटर...