Friday, May 14, 2021

कोरोना संकट में भारत की मदद न करने पर घिरे अमेरिका ने खोला मुंह, बोला- दोस्त की तेजी से करेंगे सहायता

- Advertisement -


वॉशिंगटन
कोरोना वायरस से मची त्रासदी पर भारत की मदद न करने पर घिरे अमेरिका ने पहली बार मुंह खोला है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने कहा कि उनकी पूरी संवेदना भारतीय लोगों के साथ है। उन्होंने यह भी कहा कि हम भारत सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। उधर अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने भी भारत के प्रति हमदर्दी दिखाते हुए तेजी से मदद का भरोसाा दिया है।

विदेश मंत्री बोले- तेजी से करेंगे मदद
एंटनी ब्लिंकेन ने कहा कि भारत में फैले भीषण कोविड संक्रमण को देख हम और मजबूती से भारत के साथ खड़े हैं। हम इस मामले में अपने साझेदार भारत की सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। हम भारत और भारत के स्वास्थ्यकर्मियों की मदद के लिए अतिरिक्त समर्थन तेजी से मुहैया कराएंगे।

अमेरिकी एनएसए बोले- 24 घंटे कर रहे काम
उधर, अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने कहा कि भारत में कोरोना के प्रकोप को लेकर अमेरिका बहुत चिंतित है। हम अपने दोस्त और सहयोगी भारत को अधिक आपूर्ति और समर्थन प्रदान करने के लिए चौबीस घंटे काम कर रहे हैं। इससे वे भीषम महामारी से बहादुरी से मुकाबला कर सकेंगे। और कुछ भी बहुत जल्द ही होगा।

भारत को कोरोना वैक्सीन बनाने का कच्चा माल नहीं देगा अमेरिका, ‘अमेरिका फर्स्ट’ बोल झाड़ा पल्ला
वैक्सीन के कच्चे माल पर लगे रोक को हटाएगा अमेरिका?
अमेरिका के दो शीर्ष अधिकारियों के लगातार दिए गए बयान के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि बाइडन प्रशासन कोविड वैक्सीन निर्माण में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल के निर्यात पर लगा प्रतिबंध हटा सकता है। भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने भी अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन के साथ वैक्सीन के कच्चे माल को लेकर कई बार बातचीत की है। भारतीय विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला ने अमेरिकी उप सचिव वेंडी शेरमन के साथ भी पाबंदियों को हटाने का अनुरोध किया है।

कोरोना का कहर झेल रहे भारत की मदद को कई देशों ने बढ़ाया हाथ, दोस्त ही नहीं ‘दुश्मन’ ने भी की पेशकश
कई देशों ने भारत को मदद की पेशकश की
रूस ने भारत को रेमडेसिवीर और ऑक्सीजन की सप्लाई का ऑफर दिया है। लद्दाख को लेकर जारी तनाव के बीच चीन ने भी भारत को कोरोना से निपटने में सहायता की पेशकश की है। हालांकि, भारत की तरफ से अभी किसी भी देश को सहायता के लिए औपचारिक सहमति नहीं दी गई है। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कोरोना से जूझ रहे भारतीयों के प्रति एकजुटता का संदेश दिया है और मदद की पेशकश की है। कई अमेरिकी सांसदों ने भी भारत को लेकर संवेदना जताई है।



Source link

इसे भी पढ़ें

VIDEO: श्रेयस अय्यर ने भरी हुंकार, कंधे की सर्जरी के बाद मैदान पर वापसी को बेकरार

नई दिल्लीमार्च में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में फिल्डिंग के दौरान श्रेयस अय्यर चोटिल हो गए थे। पहले वनडे के दौरान हुई...
- Advertisement -

Latest Articles

VIDEO: श्रेयस अय्यर ने भरी हुंकार, कंधे की सर्जरी के बाद मैदान पर वापसी को बेकरार

नई दिल्लीमार्च में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में फिल्डिंग के दौरान श्रेयस अय्यर चोटिल हो गए थे। पहले वनडे के दौरान हुई...