Tuesday, January 26, 2021

ग्लोबल वॉर्मिंग का असर: यूरोप के लिए 2020 रहा सबसे गर्म साल, 2021 में भी राहत के आसार नहीं

- Advertisement -


बर्लिन
ग्लोबल वॉर्मिंग का असर भारत और चीन में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में दिखने लगा है। यूरोपीय संघ की जलवायु निगरानी सेवा द्वारा शुक्रवार को प्रकाशित किए गए आंकड़ों के अनुसार 27 देशों वाले संगठन के लिए 2020 सबसे गर्म वर्ष रहा। आंकड़ों में कहा गया है कि जबसे जलवायु संबंधी रिकॉर्ड रखने की शुरुआत हुई है, उसके बाद से पिछला साल यूरोपीय संघ के लिए सबसे गर्म वर्ष दर्ज किया गया।

2020 में टूटा तापमान का रिकॉर्ड
यूरोपीय संघ की ‘कॉपरनिकस क्लाइमेट चेंज सर्विस’ ने कहा कि यूरोप में पिछले साल के तापमान ने 0.4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि के साथ 2019 के तापमान के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। विश्व में तापमान में वृद्धि ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में वृद्धि की वजह से हो रही है जिनमें सबसे प्रमुख कार्बन डाई ऑक्साइड है। आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2020 पूर्व औद्योगिक काल 1850-1900 के तापमान के मुकाबले 1.25 सेंटिग्रेड अधिक गर्म रहा।

कैसा रहेगा 2021?
दरअसल जिस तरह से ग्लोबल इनवॉयरमेंट बदल रहा है उससे अनुमान लगाया जा सकता है कि 2021 में सब कुछ सामान्य तो नहीं ही होने वाला है। जिस तरह जलवायु परिवर्तन और ग्लेशियरों का पिघलना लगातार जारी है उससे तो यही लगता है कि 2021 भी गर्म साल की लिस्ट में शुमार हो सकता है। यूरोप में भी साल दर साल गर्मी में इजाफा हो रहा है।

भारत के लिए भी 2020 रहा आठवां सबसे गर्म साल
साल 2020 भारत में 1901 के बाद से 8वां सबसे गर्म साल दर्ज किया गया। भारतीय मौसम विभाग ने कहा कि इससे पहले भारत में 2016 सर्वाधिक गर्म वर्ष दर्ज किया गया था। अब सवाल उठता है कि क्या नया साल कि साल 2021 में मौसम इसी तरह की बेरुखी दिखाएगा या फिर हालात कुछ सामान्य की ओर बढ़ेंगे। मौसम विभाग ने 2020 के दौरान भारत की जलवायु संबंधी एक बयान में कहा कि वर्ष के दौरान देश में औसत वार्षिक तापमान सामान्य से 0.29 डिग्री सेल्सियस अधिक था। यह आंकड़ा 1981-2010 के आंकड़ों पर आधारित है।



Source link

इसे भी पढ़ें

Permanent Ban on Chinese Apps: टिकटॉक, वीचैट और यूसी ब्राउजर समेत 59 चीनी ऐप्स पर सरकार ने लगाया परमानेंट बैन

हाइलाइट्स:भारत ने 59 चीनी ऐप्स पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगायाइनमें टिकटॉक, वीचैट, अलीबाबा का यूसी ब्राउजर जैसे ऐप्स शामिल हैंइससे पहले सरकार...

Coronavirus Vaccine के सहारे दबदबा कायम करना चाहता था चीन, उल्टा पड़ा दांव?

पेइचिंगकोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति का केंद्र होने का आरोप झेल रहे चीन ने सोचा था कि दूसरे देशों को वैक्सीन पहुंचाकर बाकी...
- Advertisement -

Latest Articles

Permanent Ban on Chinese Apps: टिकटॉक, वीचैट और यूसी ब्राउजर समेत 59 चीनी ऐप्स पर सरकार ने लगाया परमानेंट बैन

हाइलाइट्स:भारत ने 59 चीनी ऐप्स पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगायाइनमें टिकटॉक, वीचैट, अलीबाबा का यूसी ब्राउजर जैसे ऐप्स शामिल हैंइससे पहले सरकार...

Coronavirus Vaccine के सहारे दबदबा कायम करना चाहता था चीन, उल्टा पड़ा दांव?

पेइचिंगकोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति का केंद्र होने का आरोप झेल रहे चीन ने सोचा था कि दूसरे देशों को वैक्सीन पहुंचाकर बाकी...

62 साल पुराने संपत्ति विवाद की सुनवाई में बोला सु्प्रीम कोर्ट, आप हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाइये

नयी दिल्लीनवाब मीर यूसुफ अली खान सलार जंग तृतीय के वंशज 62 साल पुराने संपत्ति विवाद को सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के समक्ष...

Padma Shri Award: टेनिस प्लेयर मौमा दास समेत 7 खिलाड़ियों को पद्म श्री पुरस्कार

नई दिल्लीअनुभवी टेबल टेनिस खिलाड़ी मौमा दास समेत 7 खिलाड़ियों को देश के 72वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार द्वारा...