Wednesday, August 4, 2021

चीन ने मानी गलवान में भारतीयों की शौर गाथा, घिर गया था PLA कमांडर, मृतकों की संख्‍या बदली

- Advertisement -


पेइचिंग
लद्दाख की गलवान घाटी में खून हमला करने वाले चीन ने माना है कि भारतीय जवानों ने पलटवार करते हुए चीनी कमांडर की फाबाओ समेत कई PLA के सैनिकों को घेर लिया था। यही नहीं चीन ने 5 महीने बाद अपने सैनिकों के मरने की संख्‍या को भी बदल दिया है। चीन ने कहा है कि गलवान हिंसा में उसके 4 नहीं बल्कि 5 सैनिक मारे गए थे। चीन ने अपने सैनिक चेन होंगजून के मारे जाने के बारे में काफी नई जानकारी दी है।

चीन की सरकारी संवाद समिति शिन्‍हुआ के हवाले से सरकारी भोंपू ग्‍लोबल टाइम्‍स ने कहा कि 33 साल के बटालियन कमांडर चेन होंगजून ने सीमा पर ड्यूटी निभाते हुए भारत के साथ संघर्ष में चार अन्‍य साथियों के साथ जान गवां दी। ये सभी सैनिक शिंजियांग मिलिट्री कमांड के थे और कराकोरम की पड़‍ाड़‍ियों पर तैनात थे। इससे पहले फरवरी में चीन ने पहली बार माना था कि उसके 4 सैनिकों की गलवान हिंसा में मौत हुई थी।

PLA कमांडर समेत कई जवान हिंसा के दौरान घिर गए
ड्रैगन ने यह स्‍वीकारोक्ति ऐसे समय पर की थी कि जब पैंगोंग झील से चीन और भारत की सेनाएं पीछे हट रही थीं। भारत का मानना है कि गलवान हिंसा में चीन के मरने वालों की संख्‍या चीन के आधिकारिक ऐलान से कहीं ज्‍यादा है। प्रिंट की रिपोर्ट के मुताबिक अब तक यह कहा जा रहा था कि भारतीय सैनिक गलवान में कम पड़ गए थे लेकिन अब चीन ने माना है कि उसके कमांडर समेत कई जवान हिंसा के दौरान घिर गए थे। यही नहीं जब भारतीय सैनिक भारी पड़ने लगे तब चीनी सेना ने और सैनिकों को बुला लिया था।

ग्‍लोबल टाइम्‍स ने चेन होंगजून के बारे में लिखा, ‘लड़ाई के दौरान जब रेजिमेंटल कमांडर कि फाबाओ को भारतीय सैनिकों ने घेर लिया तो चेन होंगजून ने अपने साथ अन्‍य सैनिकों को लिया और आगे बढ़ गए ताकि भारतीय जवानों की लाठी और पत्‍थरों का मुकाबला कर सकें। चेन ने अपने शरीर को एक ढाल बनाकर कमांडर को बचा लिया। जब चेन ने देखा कि कई और चीनी सैनिक घ‍िर गए हैं तो चेन ने एक बार फिर से जंग के मैदान में कूद गए। इस संघर्ष में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। इनमें से ज्‍यादातर की मौत ठंडे पानी में गिरने की वजह से हुई थी।



Source link

इसे भी पढ़ें

- Advertisement -

Latest Articles

भव्य स्वागत देख बोले पीवी सिंधु के कोच कोच पार्क ताइ सांग- मुझे ‘गुरु’ बनाने के लिए शुक्रिया

नई दिल्लीतोक्यो ओलिंपिक में इतिहास रचने वाली भारत की बेटी पीवी सिंधु के विदेशी कोच पार्क ताइ सांग भव्य स्वागत से अभिभूत दिखे।...