Wednesday, January 27, 2021

ब्रिटेन में दुकानों तक पहुंची कोरोना वैक्सीन, फिर भी नहीं थम रही संक्रमण की रफ्तार, आखिर क्यों?

- Advertisement -


लंदन
ब्रिटेन में तीन-तीन कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दिए जाने के बाद भी संक्रमण की रफ्तार कम होती नहीं दिख रही है। ब्रिटिश सरकार ने तो वैक्सीनेशन प्रोग्राम को तेज करने के लिए देश भर की दवा दुकानों पर भी कोरोना वैक्सीन की आपूर्ति शुरू कर दी है। ब्रिटेन दुनिया का ऐसा इकलौता देश है, जहां कोरोना वायरस की तीन-तीन वैक्सीन को मंजूरी मिली हुई है। सबसे पहले फाइजर उसके बाद मॉडर्ना और अब ऑक्सफर्ड एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को भी मंजूरी दे दी गई है।

दवा के दुकानों तक पहुंची वैक्सीन
ब्रिटिश मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, बूट्स एंड सुपरड्रग जैसी ब्रिटिश फार्मेसी श्रृंखला और कई अन्य दवा दुकानें उन प्रथम सैकड़ों सामुदायिक फार्मेसी में शामिल होंगी, जिन्हें प्रायोगिक आधार पर टीके उपलब्ध कराये जाएंगे। अगले हफ्ते से ब्रिटेन में 200 सामुदायिक फार्मेसी वैक्सीन को लेकर ऑनलाइन सेवाएं उपलब्ध कराने वाली हैं। वहीं इस महीने के अंत तक फाइजर बायोएनटेक और ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन के अतिरिक्त डोज भी ब्रिटेन पहुंच जाएंगे।

क्यों बढ़ रही है संक्रमण की रफ्तार
ब्रिटेन में कोरोना वायरस का अलग स्ट्रेन पाए जाने के बाद से ही लगातार संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है। हर दिन ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए मामले रिकॉर्ड बना रहे हैं। रिपोर्ट ऐसी भी हैं कि ब्रिटेन में दक्षिण अफ्रीका से एक और अलग तरीके का स्ट्रेन मिला है, जो पहले वाले से भी अधिक संक्रामक है। इस कारण लगातार कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं।

ब्रिटेन में एक दिन में 1564 रोगियों की मौत
बुधवार को कोरोना वायरस के 1564 रोगियों की मौत हो गई जिसके साथ ही इस महामारी से देश में अबतक 84,767 लोगों की जान जा चुकी है। इन 1564 लोगों की मौत संक्रमित होने के 28 दिनों के अंदर हुई है जो पिछले साल महामारी के पैर पसारने के बाद सबसे बुरा आंकड़ा है। देश में 47,525 और लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है जबकि लंदन में दिसंबर की शुरुआत के बाद से अस्पताल में भर्ती मरीजों की संख्या में पहली बार गिरावट आई है।

NHS पर है दबाव
इसी बीच ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने चेतावनी दी कि अस्पतालों में सघन चिकित्सा क्षमता पर अत्याधिक दबाव का काफी जोखिम है। हाउस ऑफ कॉमंस की संपर्क समिति में जॉनसन ने कहा कि नेशनल हेल्थ सर्विस में स्थिति ‘बहुत, बहुत कठिन’ है और कर्मियों पर दबाव ‘काफी ज्यादा’ है। उन्होंने एक बार फिर लोगों से लॉकडाउन नियमों का पालन करने का आह्वान किया।

बिगड़े हालात के बीच वैक्सिनेशन
वायरस तेजी से फैलने के बाद देश में कड़ा लॉकडाउन लागू कर दिया गया था। यहां तक कि महामारी शुरू होने के बाद से कोविड अलर्ट भी सबसे हाई कर दिया गया था। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए पीएम जॉनसन ने अपना भारत दौरा भी रद्द कर दिया था। वहीं, देश में Pfizer और Oxford-AstraZeneca की वैक्सीन देने का काम भी शुरू हो चुका है।

70 साल के अधिक उम्र के लोगों को फोकस कर रहा ब्रिटेन
ब्रिटिश सरकार ने देश में लॉकडाउन हटाने के लिए 70 साल से अधिक उम्र के लाखों लोगों और अग्रिम मोर्चे के कर्मियों को मध्य फरवरी तक टीका लगाने का लक्ष्य रखा है, ऐसे में अब अस्पतालों सहित सैकड़ों स्थानों पर टीके उपलब्ध कराये जा रहे हैं। इस हफ्ते सात बड़े टीका केंद्र खोले गये। ये प्रत्येक एनएचएस क्षेत्र में हैं। आगामी हफ्तों में दर्जनों और टीकाकरण केंद्र खोले जाने हैं। ब्रिटेन के टीका मंत्री नदीम जहावी ने कहा कि फार्मेसी राष्ट्र की देखभाल में एक अहम भूमिका निभाती है और मैं राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम में मदद के लिए उन्हें आगे आते देख सचमुच में खुश हूं।



Source link

इसे भी पढ़ें

पिछले साल भारत में Xiaomi स्मार्टफोन्स की बिक्री सबसे ज्यादा, देखें टॉप ब्रैंड्स के हाल

हाइलाइट्स:शाओमी के स्मार्टफोन्स भारत में सबसे ज्यादा बिकते हैंसैमसंग दूसरे और वीवो तीसरे नंबर परभारत में ऐपल और वनप्लस के मोबाइल्स की भी...

डॉन्ट वरी, मैं सबकुछ हेडल कर लूंगा: नवदीप सैनी ने बताया ऋषभ पंत ने विनिंग चौका जड़ने से पहले क्या कहा था

अमित कुमार, नई दिल्लीऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक जीत के हीरो रहे युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत। उन्होंने गाबा में नाबाद 89 रनों की...
- Advertisement -

Latest Articles

पिछले साल भारत में Xiaomi स्मार्टफोन्स की बिक्री सबसे ज्यादा, देखें टॉप ब्रैंड्स के हाल

हाइलाइट्स:शाओमी के स्मार्टफोन्स भारत में सबसे ज्यादा बिकते हैंसैमसंग दूसरे और वीवो तीसरे नंबर परभारत में ऐपल और वनप्लस के मोबाइल्स की भी...

डॉन्ट वरी, मैं सबकुछ हेडल कर लूंगा: नवदीप सैनी ने बताया ऋषभ पंत ने विनिंग चौका जड़ने से पहले क्या कहा था

अमित कुमार, नई दिल्लीऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऐतिहासिक जीत के हीरो रहे युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत। उन्होंने गाबा में नाबाद 89 रनों की...

दुनिया का सबसे घातक जहर ‘नोविचोक’ बनाने वाले बायोकेमिस्ट ने बनाई कोरोना की दवा

मॉस्कोदुनिया की सबसे घातक नर्व एजेंट नोविचोक बनाने में मदद करने वाले रूसी बायोकेमिस्ट ने कोरोना वायरस की नई दवा की खोज की...