Friday, May 7, 2021

मंगल पर नासा के Ingenuity हेलिकॉप्टर की तीसरी सफल उड़ान, इस बार 164 फीट की दूरी तय की

- Advertisement -


वॉशिंगटन
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के इनजेनिटी हेलिकॉप्टर ने मंगल ग्रह पर तीसरी बार सफल उड़ान भरी है। इस दौरान हेलिकॉप्टर 16 फीट की ऊंचाई तक गया और 164 फीट की दूरी तय की। उड़ान के समय हेलिकॉप्टर की अधिकतम रफ्तार 6.6 फीट प्रति सेकेंड रही, जो पहले की स्पीड से चार गुना ज्यादा है। नासा ने बताया कि इस पूरे अभियान का वीडियो क्लिप आने वाले दिनों में जारी किया जाएगा।

80 सेकेंड तक उड़ा नासा का हेलिकॉप्टर
इनजेनिटी प्रोजेक्ट के प्रोग्राम एक्जीक्यूटिव डेव लैवरी ने कहा कि आज की उड़ान वही थी जो हमने प्लान की थी और फिर भी यह किसी कमाल से कम नहीं था। 80 सेकेंड की इस उड़ान को नासा के परसेवेरेंस रोवर में लगे मास्टकैम जेड के जरिए शूट किया गया है। इसी रोवर ने चार पाउंड वजनी इस हेलिकॉप्टर को नासा के सहत पर पहुंचाया था।

मंगल के वातावरण से हो रही दिक्कत
नासा ने उड़ान के बारे में बताया कि अगर इनजीनिटी बहुत तेजी से उड़ान भरता है, तो फ्लाइट अल्गोरिदम सतह की विशेषताओं को ट्रैक नहीं कर सकता। इनजीनिटी की उड़ानें पृथ्वी से अलग-अलग स्थितियों के कारण चुनौतीपूर्ण हैं। इसमें सबसे बड़ी बाधा मंगल का वातावरण है। जो हमारे यहां के घनत्व से काफी पतला है।

चौथी उड़ान की तैयारी में जुटा नासा
नासा ने बताया कि वह अब चौथी उड़ान की तैयारी कर रहे हैं। प्रत्येक उड़ान में पहले से ज्यादा ऊंचाई और दूरी तय करने की कोशिश की जाएगी। इनजीनिटी ने 19 अप्रैल को अपनी पहली उड़ान भरी थी। इस दौरान वह जमीन से 10 फीट की ऊंचाई तक उड़ा था।

मंगल पर हेलिकॉप्टर का क्या काम?
मंगल पर रोटरक्राफ्ट की जरूरत इसलिए है क्योंकि वहां की अनदेखी-अनजानी सतह बेहद ऊबड़-खाबड़ है। मंगल की कक्षा में चक्कर लगा रहे ऑर्बिटर ज्यादा ऊंचाई से एक सीमा तक ही साफ-साफ देख सकते हैं। वहीं रोवर के लिए सतह के हर कोने तक जाना मुमकिन नहीं होता। ऐसे में ऐसे रोटरक्राफ्ट की जरूरत होती है जो उड़ कर मुश्किल जगहों पर जा सके और हाई-डेफिनेशन तस्वीरें ले सके। 2 किलो के Ingenuity को नाम भारत की स्टूडेंट वनीजा रुपाणी ने एक प्रतियोगिता के जरिए दिया था।



Source link

इसे भी पढ़ें

साली ने जीजा से पूछा मजेदार सवाल

साली - जीजा जी आप अंधेरे से डरते हैं?नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 7, 2021, 06:00AM ISTसाली - जीजा जी आप अंधेरे से डरते हैं? जीजा...

जिंदगी की जंग: 1980 ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता हॉकी टीम के दो खिलाड़ियों की हालत गंभीर

नई दिल्ली1980 मॉस्को ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली हॉकी टीम के दो खिलाड़ी महाराज कृष्ण कौशिक और रवींद्र पाल सिंह कोरोना वायरस...
- Advertisement -

Latest Articles

साली ने जीजा से पूछा मजेदार सवाल

साली - जीजा जी आप अंधेरे से डरते हैं?नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 7, 2021, 06:00AM ISTसाली - जीजा जी आप अंधेरे से डरते हैं? जीजा...

जिंदगी की जंग: 1980 ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता हॉकी टीम के दो खिलाड़ियों की हालत गंभीर

नई दिल्ली1980 मॉस्को ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली हॉकी टीम के दो खिलाड़ी महाराज कृष्ण कौशिक और रवींद्र पाल सिंह कोरोना वायरस...

कायरन पोलार्ड के लिए खुशखबरी, CPL 2021 में शाहरुख खान की टीम की करते दिखेंगे कप्तानी

नई दिल्लीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र में अपने छक्कों से गेंदबाजों को दहलाने वाले कायरन पोलार्ड (Kieron Pollard) के लिए खुशखबरी...