Saturday, May 15, 2021

मदद के लिए दिल बड़ा होना चाहिए जनाब, देश नहीं…भारत के इस ‘दोस्त’ ने भेजे 200 ऑक्सिजन कंसंट्रेटर्स

- Advertisement -


पोर्ट लुईस
कोरोना संकट से जूझ रहे भारत की मदद करने के लिए दुनियाभर के कई देशों ने हाथ बढ़ाया है। लेकिन, इन सबके बीच एक देश ऐसा भी है, जिसने अपनी दरियादिली से कई महाशक्तिशाली देशों को आईना दिखाने का काम किया है। भारत ने भी कई बार इस देश को आर्थिक और सामान देकर मदद की है। हाल में ही विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इस देश में भारत की मदद से बने मेट्रो सर्विस का उद्धाटन किया था।

भारत को गिफ्ट किए 200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स
जी हां, इस देश का नाम मॉरीशस है, जिसने संकट के समय भारत को 200 ऑक्सिजन कंसंट्रेटर्स उपहार स्वरूप भेजे हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी इस बहुमूल्य उपहार के लिए मॉरीशस की सरकार को धन्यवाद भेजा है। मॉरीशस के साथ भारत की दोस्ती इसलिए भी खास है, क्योंकि इस देश पर चीन ने भी काफी दबाव बनाया हुआ है। उसके बावजूद इस देश ने भारत के साथ अपने संबंधों को पहली प्राथमिकता दी है।

रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण है मॉरीशस
मॉरीशस हिंद महासागर के रणनीतिक रूप से काफी महत्वपूर्ण क्षेत्र में स्थित है। इस इलाके से होकर हर साल खरबों डॉलर का व्यापार होता है। अफ्रीकी महाद्वीप के नजदीक होने से इस देश से हिंद महासागर के बड़े इलाके पर नजर रखी जा सकती है। इस देश के पास ही रेयूनियों द्वीप है, जिसपर फ्रांस का कब्जा है। फ्रांस ने इस द्वीप पर बड़ा मिलिट्री बेस बनाकर रखा हुआ है। मॉरीशस के उत्तर-पूर्व में डिएगो गार्सिया है, जहां अमेरिकी और ब्रिटिश मिलिट्री का बेस है।

मॉरीशस और भारत में करीबी रिश्ता
भारत और मॉरीशस के बीच संबंधों की मजबूती को इसी बात से समझा जा सकता है कि यह देश अपना राष्ट्रीय दिवस गांधीजी की नमक सत्याग्रह के वर्षगांठ के दिन यानी 12 मार्च को मनाता है। मॉरीशस का मानना है कि इसी की प्रेरणा से उसे 1968 में अंग्रेजों से आजादी मिली। भारत के साथ मुक्त व्यापार समझौता, ब्लू ओशन इकनॉमी, समुद्री सुरक्षा, एंटी पायरेसी ऑपरेशन जैसे कई महत्वपूर्ण अभियानों में मॉरीशस हमेशा भारत के साथ रहा है।

Mauritius 03

भारत ने मॉरीशस में बनाए मेट्रो और अस्पताल
भारत ने वर्ष 2016 में मॉरीशस को दिए गए 353 मिलियन अमेरिकी डॉलर का विशेष आर्थिक पैकेज के जरिए न्यू मॉरीशस सुप्रीम कोर्ट बिल्डिंग प्रोजेक्ट को शुरू किया था। इस बिल्डिंग का उद्धाटन साल 2020 में किया गया। इसके अलावा भारत की मदद से मॉरीशस की राजधानी पोर्ट लुईस में मेट्रो एक्सप्रेस सर्विस को शुरू किया गया। इसके अलावा 100-बेड वाले अत्याधुनिक ईएनटी अस्पताल का भी निर्माण भारत के सहयोग से किया गया है।



Source link

इसे भी पढ़ें

बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड से पूछा मजेदार सवाल

बॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है?नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 15, 2021, 06:00AM ISTबॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है? गर्लफ्रेंड - तमन्ना... बॉयफ्रेंड...
- Advertisement -

Latest Articles

बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड से पूछा मजेदार सवाल

बॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है?नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 15, 2021, 06:00AM ISTबॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है? गर्लफ्रेंड - तमन्ना... बॉयफ्रेंड...

बंगाल के खेल मंत्री बने मनोज तिवारी को हरभजन सिंह ने दी तंज भरी बधाई, विवाद बढ़ा तो ट्वीट करना पड़ा डिलीट

नई दिल्लीभारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) अपने राजनीतिक करियर का शानदार आगाज कर चुके हैं। उन्हें वेस्ट बंगाल (West Bengal) की नवनिर्मित...

अनुष्का और विराट ने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए जुटाए 11 करोड़ रुपये

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) ने अपने पति और भारतीय क्रिकेट टीम के कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) ने कोविड से प्रभावित...