Tuesday, January 26, 2021

लद्दाख से 10 हजार सैनिक ‘हटाकर’ माइंड गेम खेल रहा चीनी ड्रैगन, भारत के लिए चिंता का सबब

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • चीन के एलएसी से अपने 10 हजार सैनिकों को हटा लेने का दावा किया गया है
  • हॉन्‍ग कॉन्‍ग के अखबार ने बताया कि जंग की संभावना न होने चीनी सेना हटी है
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि सभी सैनिक सेना के वाहन में गए ताकि भारत देख सके

पेइचिंग
पूर्वी लद्दाख में पिछले कई महीने से चल रहे तनाव के बीच चीन के एलएसी से अपने 10 हजार सैनिकों को हटा लेने का दावा किया गया है। चीन के हॉन्‍ग कॉन्‍ग शहर से प्रकाशित अखबार साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्‍ट ने चीनी सेना के सूत्रों के हवाले से बताया कि भीषण सर्दी के इस मौसम में जंग की संभावना कम होने की वजह से चीनी सेना को भारत से लगी ‘विवादित सीमा’ से हटाया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सभी सैनिक सेना के वाहन में गए ताकि भारतीय पक्ष उन्‍हें देख सके और उसकी पुष्टि कर सके।

अखबार ने ये सैनिक अल्‍पकालिक समय के लिए शिंजियांग और तिब्‍बत मिलिट्री क्षेत्र से तैनात किए गए थे। भारतीय सेना ने भी माना है कि चीनी सैनिक वापस गए हैं। हालांकि भारतीय सेना ने कहा कि अभी तक तनाव वाले इलाकों से कोई चीनी सैनिक नहीं हटा है। इन जगहों पर गत वर्ष 5 मई से तनाव बना हुआ है। विशेषज्ञों का कहना है कि चीनी अखबार के 10 हजार सैनिकों को हटाने के दावे की स्‍व‍तंत्र पुष्टि करने कोई तरीका नहीं लेकिन अगर इतने बड़े पैमाने पर सैनिकों को हटाया गया होता तो सैटलाइट तस्‍वीरों या संचार उपकरणों की मदद से उसे पकड़ा जा सकता था।
टैंक, तोप, मिसाइल, रॉकेट… दौलत बेग ओल्डी से मात्र 36 किमी दूर युद्धाभ्यास कर रहा चीन
चीनी सैनिकों के वापस जाने की कोई तस्‍वीर भी नहीं
विशेषज्ञों के मुताबिक इन चीनी सैनिकों के वापस जाने की कोई तस्‍वीर भी नहीं है। उनका कहना है कि ये चीनी सैनिक इस खुशफहमी में वापस गए हैं कि चीनी सेना ने अंतिम पोस्‍ट तक धातु की रोड बना ली है और पूरे एलएसी पर अडवांस्‍ड लैंडिंग ग्राउंड बना ल‍िया है। चीन के पास अब इतनी क्षमता है कि वह मात्र एक सप्‍ताह के अंदर अपनी पूरी सेना को तैनात कर सकता है। उधर, भारतीय सेना के योजनाकारों के मुताबिक चीन के इसी खतरे को देखते हुए इंडियन आर्मी पूर्वी लद्दाख में यथास्थिति की बहाली तक पूरी तरह से अलर्ट रहेगी।

भारतीय सेना ने यह भी स्‍पष्‍ट कर दिया है कि वह चीनी सैनिकों के पूरी तरह से हटने से पहले पीछे नहीं हटेगी। चीनी सेना के अभ्‍यास में महत्‍वपूर्ण बात यह है कि उसने अपना वार्षिक अभ्‍यास शेदुला या शहीदुल्‍ला सैन्‍य ठिकाने पर किया है जो कराकोरम पास से मात्र 94 किमी दूर है। यह कराकोरम पास भारत के दौलतबेग ओल्‍डी हवाई ठिकाने के बेहद करीब है। 19वीं सदी में डोगरा जनरल जोरावर सिंह ने रणनीतिक रूप से महत्‍वपूर्ण इस पूरे इलाके पर कब्‍जा कर लिया था।
Ladakh Standoff: राफेल से टक्कर, चीन ने पैंगॉन्ग से सिर्फ 300 किमी दूर तैनात किया J20
‘चीन के सैनिक हटाने से भारत भी ऐसा करने पर विचार कर सकता है’
साउथ चाइना मार्निंग पोस्‍ट ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि सेंट्रल म‍िल‍िट्री कमिशन इस बात को लेकर आश्‍वस्‍त है कि इतनी ज्‍यादा ठंड में दोनों ही पक्षों के लिए यह असंभव है कि वे युद्ध करें। इस वजह से चीनी सैनिकों को उनके मूल बैरक में वापस भेजा गया है। इसी रिपोर्ट में एक भारतीय सेवानिवृत्‍त राजनयिक के हवाले से कहा गया है कि चीन के सैनिक हटाने से भारत भी ऐसा करने पर विचार कर सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक भारतीय सेना को इस तरह के माइंड गेम से स‍तर्क रहने की जरूरत है।



Source link

इसे भी पढ़ें

Permanent Ban on Chinese Apps: टिकटॉक, वीचैट और यूसी ब्राउजर समेत 59 चीनी ऐप्स पर सरकार ने लगाया परमानेंट बैन

हाइलाइट्स:भारत ने 59 चीनी ऐप्स पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगायाइनमें टिकटॉक, वीचैट, अलीबाबा का यूसी ब्राउजर जैसे ऐप्स शामिल हैंइससे पहले सरकार...

Coronavirus Vaccine के सहारे दबदबा कायम करना चाहता था चीन, उल्टा पड़ा दांव?

पेइचिंगकोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति का केंद्र होने का आरोप झेल रहे चीन ने सोचा था कि दूसरे देशों को वैक्सीन पहुंचाकर बाकी...
- Advertisement -

Latest Articles

Permanent Ban on Chinese Apps: टिकटॉक, वीचैट और यूसी ब्राउजर समेत 59 चीनी ऐप्स पर सरकार ने लगाया परमानेंट बैन

हाइलाइट्स:भारत ने 59 चीनी ऐप्स पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगायाइनमें टिकटॉक, वीचैट, अलीबाबा का यूसी ब्राउजर जैसे ऐप्स शामिल हैंइससे पहले सरकार...

Coronavirus Vaccine के सहारे दबदबा कायम करना चाहता था चीन, उल्टा पड़ा दांव?

पेइचिंगकोरोना वायरस महामारी की उत्पत्ति का केंद्र होने का आरोप झेल रहे चीन ने सोचा था कि दूसरे देशों को वैक्सीन पहुंचाकर बाकी...

62 साल पुराने संपत्ति विवाद की सुनवाई में बोला सु्प्रीम कोर्ट, आप हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाइये

नयी दिल्लीनवाब मीर यूसुफ अली खान सलार जंग तृतीय के वंशज 62 साल पुराने संपत्ति विवाद को सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के समक्ष...

Padma Shri Award: टेनिस प्लेयर मौमा दास समेत 7 खिलाड़ियों को पद्म श्री पुरस्कार

नई दिल्लीअनुभवी टेबल टेनिस खिलाड़ी मौमा दास समेत 7 खिलाड़ियों को देश के 72वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार द्वारा...