Friday, March 5, 2021

Disease X: प्रकृति से करते रहे छेड़छाड़ तो डिजीज एक्‍स से मर सकते हैं 7.5 करोड़ लोग, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि डिज‍िज एक्‍स से 7.5 करोड़ लोग मर सकते हैं
  • उन्‍होंने यह भी कहा कि हर पांच में एक बार कोरोना जैसी महामारी फैल सकती है
  • वैज्ञानिकों ने यह भी कहा कि यह महामारी प्‍लेग के कहर से भी खतरनाक होगी

लंदन
कोरोना महासंकट के बीच वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि अगर ऐसे ही इंसान पशुओं के आवास के साथ छेड़छाड़ करता रहा तो डिजीज एक्‍स से 7.5 करोड़ लोग मर सकते हैं। यही नहीं हर पांच में एक बार महामारी फैल सकती है। उन्‍होंने कहा कि यह महामारी प्‍लेग के कहर से भी खतरनाक होगी जिससे एक समय में सबसे ज्‍यादा लोग मारे गए थे। वैज्ञानिकों ने कहा कि इंसान दुनियाभर में प्रकृति के साथ ख‍िलवाड़ कर रहा है जिससे पशुओं से पैदा होने वाली बीमारियों के इंसान में पहुंचने का खतरा पैदा हो गया है।

वैज्ञानिकों ने यह चेतावनी ऐसे समय पर दी है जब विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने चीन में कोरोना वायरस को लेकर जांच की है। अब वैज्ञानिकों ने आशंका जताई है कि इंसान कोरोना की तरह से एक और महामारी के मुहाने पर खड़ा है और इसकी चपेट में करोड़ों लोग आ सकते हैं। प्रतिष्ठित पत्रिका नेचर में छपे शोध में पर्यावरणीय शोध के विशेषज्ञ डॉक्‍टर जोसेफ सेटल ने द सन से कहा क‍ि पशुओं से संक्रमण के इंसानों में फैलने का खतरा बढ़ रहा है।


इंसान पशुओं के आवास में घुसपैठ कर रहा
डॉक्‍टर जोसेफ ने कहा कि इसकी वजह यह है कि इंसान पशुओं के आवास में घुसपैठ कर रहा है। शोध में कहा गया है कि दक्षिण पूर्वी एशिया , दक्षिणी और मध्‍य अफ्रीका, ऐमजॉन नदी के आसपास और पूर्वी ऑस्‍ट्रेलिया में नई महामारी फैलने का सबसे ज्‍यादा खतरा है। डॉक्‍टर जोसेफ ने कहा कि खेती के लिए बहुत तेजी से वनों का काटे जाना, खनन और आधारभूत ढांचा विकास तथा वन्‍य जीवों का दोहन पशुओं से बीमारियों के इंसानों में जाने के लिए बहुत अच्‍छा माहौल बनाता है।

उन्‍होंन कहा क‍ि इन इलाकों में जो लोग सबसे ज्‍यादा रहते हैं, उनके अंदर नई महामारी फैलने का ज्‍यादा खतरा है। वहीं लांसेट पत्रिका में छपे एक संपादकीय में चेतावनी दी गई है कि कोरोना वायरस अंतिम हेल्‍थ इमरजेंसी नहीं है और सबसे खराब भी नहीं है। जलवायु परिवर्तन ने इंसानी सभ्‍यता के लिए अस्तित्‍व का संकट पैदा कर दिया तो सभी लोग एकजुट हो गए थे। पशुओं से पैदा होने वाली बीमारियों के खिलाफ भी ऐसे ही एकजुटता की जरूरत होगी।



Source link

इसे भी पढ़ें

Quad: चीन को घेरने की तैयारी पूरी, जो बाइडेन, पीएम मोदी, मॉरिशन और जापानी प्रधानमंत्री पहली बार करेंगे बैठक

हाइलाइट्स:दक्षिण चीन सागर से लेकर पूर्वी लद्दाख तक दादागिरी दिखा रहे चीन को घेरने की तैयारी पूरी ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने ऐलान किया...

Earth’s Core: धरती की चार नहीं, पांच हैं परतें…4.5 अरब साल पहले की अनजान घटना और छिपी हुई संरचना के संकेत मिले

कैनबेरा अभी तक माना जाता रहा है कि धरती के अंदर चार परतें होती हैं- क्रस्ट, मैंटल, बाहरी कोर और अंदरूनी कोर। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया...
- Advertisement -

Latest Articles

Quad: चीन को घेरने की तैयारी पूरी, जो बाइडेन, पीएम मोदी, मॉरिशन और जापानी प्रधानमंत्री पहली बार करेंगे बैठक

हाइलाइट्स:दक्षिण चीन सागर से लेकर पूर्वी लद्दाख तक दादागिरी दिखा रहे चीन को घेरने की तैयारी पूरी ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री ने ऐलान किया...

Earth’s Core: धरती की चार नहीं, पांच हैं परतें…4.5 अरब साल पहले की अनजान घटना और छिपी हुई संरचना के संकेत मिले

कैनबेरा अभी तक माना जाता रहा है कि धरती के अंदर चार परतें होती हैं- क्रस्ट, मैंटल, बाहरी कोर और अंदरूनी कोर। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया...

डिफेंस लेवल की सिक्यॉरिटी वाला Samsung Galaxy xCover 5 स्मार्टफोन लॉन्च

हाइलाइट्स:गैलेक्सी एक्सकवर 5 एक रग्ड स्मार्टफोन हैयह हैंडसेट IP 68 रेटिंग के साथ आता हैफोन में ग्लोव-टच फीचर भी दिया गया हैनई दिल्लीSamsung...

किराये पर मिल रहा है लेडी गागा का घर, महीने का रेंट जान होश फाख्‍ता हो जाएंगे

सिलेब्रिटीज के आलीशान घर देखकर हम सभी आंहे भरते हैं। लेकिन कैसा हो यदि किसी सिलेब्रिटी के घर में किराये पर रहने का...