Sunday, February 28, 2021

Kisan Andolan Canada: कनाडा का दावा, प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने पीएम मोदी से उठाया था किसानों का मुद्दा

- Advertisement -


ओटावा
भारत में किसानों के प्रदर्शन को लेकर एक बार फिर से कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो विवादों में आ गए हैं। कनाडा ने दावा किया है कि जस्टिन ट्रूडो ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ फोन पर हुई वार्ता के दौरान किसानों के प्रदर्शन के मुद्दे को उठाया था। उधर, भारत की ओर से जारी आधिकारिक बयान में किसानों के मुद्दे का कोई जिक्र नहीं है। इस पूरे मामले को लेकर राजनयिक विवाद खड़ा हो सकता है।

इससे पहले भी जब ट्रूडो ने किसानों के प्रदर्शन के मुद्दे को उठाया था तब भारत ने बहुत तीखी प्रतिक्रिया दी थी। ताजा बातचीत के बारे में भारत की ओर से जारी बयान में कहा गया था कि प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को अपने कनाडाई समकक्ष जस्टिन ट्रूडो को आश्वस्त किया कि भारत कनाडा के टीकाकरण प्रयासों में पूरा सहयोग करेगा। मोदी ने ट्वीट कर कहा कि ‘मैंने ट्रूडो को आश्वासन दिया है कि भारत कनाडा द्वारा मांगे गए कोविड-19 टीकों की आपूर्ति को सुविधाजनक बनाने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेगा।’

प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी एक बयान के मुताबिक मोदी ने जस्टिन ट्रूडो को आश्वस्त करते हुए कहा, ‘भारत ने जैसे कई अन्य राष्ट्रों के लिए किया, ठीक उसी तरह कनाडा के टीकाकरण प्रयासों को सहयोग देने में अपना सर्वश्रेष्ठ करेगा।’ बयान के मुताबिक ट्रूडो ने इस अवसर पर कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारत की अभूतपूर्व औषधीय क्षमता का महत्वपूर्ण योगदान होगा। भारत की इस क्षमता को विश्व के साथ साझा करने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व की सराहना की। ट्रूडो की इस भावना के लिए मोदी ने उनका धन्यवाद किया।

भारत की ओर से जारी पूरे बयान में कहीं भी कनाडा के पीएम के किसानों के मुद्दे को उठाने का जिक्र नहीं है। उधर, की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि पीएम ट्रूडो ने किसानों के प्रदर्शन के मुद्दे को पीएम मोदी से उठाया था। कनाडा ने अपने बयान में बयान में कहा, ‘दोनों नेताओं ने कनाडा और भारत के लोकतांत्रिक सिद्धांतों, हालिया प्रदर्शन और उसके बातचीत के जरिए सुलझाने के महत्‍व पर चर्चा की।’

कनाडा के व‍िपरीत भारत के बयान में किसानों के मुद्दे पर बातचीत का जिक्र नहीं है। कनाडा के पीएम ने अगर इस बातचीत में किसानों के मुद्दे को उठाया है तो ऐसा पहली बार होगा जब उन्‍होंने द्व‍िपक्षीय बातचीत में इस प्रदर्शन को शामिल किया है। कनाडा के पीएम अक्‍सर किसानों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन का समर्थन करते रहे हैं। इससे पहले भी वह एक वीडियो जारी करके किसानों के मुद्दे पर चिंता जताई थी।

कनाडा के पीएम के इस बयान पर भारत ने बहुत कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। यही नहीं भारत ने नई दिल्‍ली में कनाडा के उच्‍चायुक्‍त नादिर पटेल को समन किया था और आधिकारिक विरोध दर्ज कराया था। भारत के विरोध के बाद भी कनाडा के पीएम किसानों के प्रदर्शन का समर्थन कर रहे हैं। उन्‍होंने भारत सरकार और किसानों के बीच बातचीत शुरू होने का स्‍वागत किया था।



Source link

इसे भी पढ़ें

- Advertisement -

Latest Articles