Friday, January 22, 2021

President Donald Trump Impeached: बुरे वक्त में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अपनों ने भी छोड़ा साथ, 10 रिपब्लिकन सांसदों ने महाभियोग के पक्ष में डाले वोट

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को दूसरी बार महाभियोग का सामना करना पड़ रहा है
  • उनके खिलाफ महाभियोग चलाने के पक्ष में 232 वोट पड़े, जिसमें से 10 उनकी ही पार्टी के भी थे
  • 10 रिपब्लिकन सांसदों ने अपनी ही पार्टी के नेता के खिलाफ महाभियोग चलाए जाने का समर्थन किया है

वॉशिंगटन
कहते हैं वक्त बुरा चलता है तो परछाईं भी साथ छोड़ देती है फिर यह तो राजनीति है। यहां कौन किसका हुआ है। कुछ ऐसा ही हुआ अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ। महाभियोग चलाने के प्रस्ताव के लिए की गई वोटिंग में 232 सांसदों ने पक्ष में वोट किए, जबकि 197 वोट ट्रंप के पक्ष यानी महाभियोग के खिलाफ पड़े। जिन सांसदों ने महाभियोग के पक्ष में वोट किए थे, उनमें 10 रिपब्लिकन सांसद भी शामिल हैं। (US में सियासी संकट: डोनाल्ड ट्रंप दो बार महाभियोग झेलने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति, छोड़ना पड़ेगा पद!)

हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में वोटिंग की प्रक्रिया पूरी हुई और उसके बाद प्रतिनिधि सभा ने डोनाल्ड ट्रंप पर महाभियोग चलाने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी। वह महाभियोग का दो बार सामना करने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति हैं। बता दें कि उनका कार्यकाल खत्म होने में कुछ ही दिन शेष हैं और कैपिटल बिल्डिंग में हुई हिंसा की घटना से कई रिपब्लिकन सांसद उनसे नाराज बताए जा रहे थे। खैर, जिन रिपब्लिन सांसदों ने ट्रंप के खिलाफ वोट किए हैं, वे इस प्रकार हैं…

  1. एडम किंजिंगर (इलिनोइस)
  2. लिज चेनी (व्योमिंग)
  3. जॉन काटको (न्यूयॉर्क)
  4. फ्रेड अप्टन (मिशिगन)
  5. डैन न्यूहाउस (वॉशिंगटन)
  6. जेमी हेरेरा बेउटलर (वॉशिंगटन)
  7. एंथोनी गोंजालेज (ओहियो)
  8. पीटर मीजर (मिशिगन)
  9. टॉम राइस (साउथ कैलिफोर्निया)
  10. डेविड वलदो (कैलिफोर्निया)

इससे पहले महाभियोग पर ट्रंप ने कहा था, ‘देश के इतिहास में जानबूझकर किसी (ट्रंप) को परेशान करने के सबसे निंदनीय कृत्य को आगे बढ़ाते हुए महाभियोग का इस्तेमाल किया जा रहा है। इससे काफी गुस्से और विभाजन की स्थिति पैदा हो रही है। इसका दर्द इतना अधिक है कि कुछ लोग इसे समझ भी नहीं सकते, जो कि खासकर इस नाजुक समय में अमेरिका के लिए बेहद खतरनाक है।’

हिंसा पर ट्रंप ने कहा था, ‘हम कानून के शासन में विश्वास करते हैं, हिंसा या दंगों में नहीं।’ महाभियोग प्रस्ताव में ट्रंप पर ‘राजद्रोह के लिए उकसाने’ का आरोप लगाया गया है। महाभियोग के लिए 218 मतों की जरूरत होती है।



Source link

इसे भी पढ़ें

IPL 2021: गौतम गंभीर के निशाने पर फिर विराट कोहली, पूछा- बिना ट्रोफी कैसे कर रहे 8 साल से कप्तानी?

नई दिल्लीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र के लिए ऑक्शन कुछ ही दिनों में होना है। इससे पहले पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज...

India Covid-19 Vaccine: भारत ने मॉरीशस, म्यांमार और सेशेल्स को उपहार में दी कोविडशील्ड वैक्सीन की साढ़े 16 लाख खुराक

नई दिल्लीभारत कोरोना माहामारी से जूझ रहे जमीनी सीमा साझा करने वाले देशों के साथ पड़ोसी धर्म निभाने के बाद अब समुद्री सीमा...
- Advertisement -

Latest Articles

IPL 2021: गौतम गंभीर के निशाने पर फिर विराट कोहली, पूछा- बिना ट्रोफी कैसे कर रहे 8 साल से कप्तानी?

नई दिल्लीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र के लिए ऑक्शन कुछ ही दिनों में होना है। इससे पहले पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज...

India Covid-19 Vaccine: भारत ने मॉरीशस, म्यांमार और सेशेल्स को उपहार में दी कोविडशील्ड वैक्सीन की साढ़े 16 लाख खुराक

नई दिल्लीभारत कोरोना माहामारी से जूझ रहे जमीनी सीमा साझा करने वाले देशों के साथ पड़ोसी धर्म निभाने के बाद अब समुद्री सीमा...

ट्रंप को हमले की धमकी देना ईरान के सबसे बड़े लीडर को पड़ा भारी, ट्विटर ने सस्पेंड किया अकाउंट

तेहरानअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को ट्वीट कर हमले की धमकी देना ईरान के सर्वोच्च धर्मगुरु आयतुल्लाह अली खामेनेई को भारी पड़ गया। ट्विटर...

Vaccination In India: वैक्सीन को लेकर पूरी दुनिया में सबसे आगे हिंदुस्तानी, देखिए ये सर्वे

नई दिल्लीसाल 2020 को कोई भी यादों के कैलेंडर में सजाना नहीं चाहता। इस साल लाखों लोगों ने अपनो को खो दिया। पूरी...