Saturday, May 15, 2021

अगर लक्षण है तो बिना रिपोर्ट के भी कोविड पॉजिटिव मान लेना चाहिए : एम्स डायरेक्टर

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा- लोग गैरजरूरी पैनिक ना करें
  • 85 पर्सेंट लोग घर पर ही ठीक
  • 15 पर्सेंट को पड़ रही है हॉस्पिटल में एडमिट होने की जरूरत
  • ‘अगर तेज बुखार, सुस्ती, उल्टी हो रही है तो डॉक्टर से संपर्क करें’

नई दिल्ली
कोविड टेस्ट के लिए कहीं किट की कमी पड़ रही है तो कहीं लैब ने घर से सैंपल लेने से मना कर दिया है। अगर सैंपल ले भी रहे हैं तो रिपोर्ट आने में कई दिन लग जा रहा है। ऐसे में क्या जिन्हें बुखार या खांसी है वह रिपोर्ट के इंतजार में बैठे रहें? नहीं। एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि अगर किसी का टेस्ट नहीं हो पा रहा है या टेस्ट रिपोर्ट आने में देरी हो रही है और उसे कोविड की तरह से क्लासिक लक्षण हैं तो इस महामारी के वक्त उन लोगों को कोविड पॉजिटिव मान लेना चाहिए। कोविड पॉजिटिव मानते हुए उसी हिसाब से उनका इलाज शुरू कर देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अब वक्त है कि क्लीनिकल सिमटम्स यानी लक्षण के हिसाब से किसी को कोविड पॉजिटिव माना जाए। अगर इस वक्त किसी को बुखार, जुकाम, नजला, खांसी है तो इसके हाई चांस है कि वह कोविड ही है। उन्होंने कहा कि आरटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव भी आ सकती है लेकिन अगर सिमटम्स हैं तो मान कर चलें कि कोरोना संक्रमित हैं।

इसे भी पढ़ें:- ‘रेमडिसिविर की माइल्ड केस में जरूरत नहीं’, नीति आयोग सदस्य ने कहा- और दवाइयों पर भी हो बात

सेचुरेशन 94 या ज्यादा तो ऑक्सिजन की जरूरत नहीं
एम्स के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि लोग गैरजरूरी पैनिक ना करें। उन्होंने कहा कि कुछ लोग पहले ही दवाई स्टोर कर ले रहे हैं जिसकी दवाई की कमी पैदा हो रही है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि कुछ लोग यह सोचकर पहले ही दवाई खाना शुरू कर दे रहे हैं कि इससे संक्रमण नहीं होगा लेकिन यह गलत है। इससे साइडइफेक्ट ज्यादा होता है, फायदा नहीं। उन्होंने कहा कि यह भी गलत धारणा है कि अगर पहले ही ऑक्सिजन लेना शुरू कर दें तो बाद में जरूरत नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि अगर ऑक्सिजन सेचुरेशन 94 या इससे ज्यादा है तो इसका मतलब है कि खून में पर्याप्त ऑक्सिजन है और सभी अंगों को ऑक्सिजन पहुंच रही है। उसे 94-95 से बढ़ाकर 98 करने के लिए ऑक्सिजन का मिसयूज नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह ऑक्सिजन उनके काम आ सकती है जिनका ऑक्सिजन सेचुरेशन 90 या इससे कम है। उन्होंने ऑक्सिजन की लीकेज बचाने पर भी जोर देने को कहा। साथ ही कहा कि अगर ऑक्सिजन कम हो रही है तो पेट के बल लेटकर डीप ब्रीदिंग कर सकते हैं।

Wear Mask at Home: कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर सरकार ने चेताया- अब घर के अंदर भी मास्क पहनने का वक्त आ गया

85 पर्सेंट लोग घर पर ही ठीक
डॉ. गुलेरिया ने कहा कि 85 पर्सेंट लोगों को माइल्ड इलनेस है। इन्हें बुखार, जुकाम, नजला, खांसी हो रही है और यह बुखार, जुकाम की दवाई लेने और भाप लेने से ही ठीक हो जाएंगे। इन्हें बस होम आइसोलेशन की जरूरत है। वॉर्निंग साइन करीब 15 पर्सेंट लोगों में ही हैं जिन्हें हॉस्पिटल एडमिट करने की जरूरत पड़ रही है। उन्होंने कहा कि अगर तेज बुखार, सुस्ती, उल्टी हो रही है तो डॉक्टर से संपर्क करें।



Source link

इसे भी पढ़ें

बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड से पूछा मजेदार सवाल

बॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है?नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 15, 2021, 06:00AM ISTबॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है? गर्लफ्रेंड - तमन्ना... बॉयफ्रेंड...

बंगाल के खेल मंत्री बने मनोज तिवारी को हरभजन सिंह ने दी तंज भरी बधाई, विवाद बढ़ा तो ट्वीट करना पड़ा डिलीट

नई दिल्लीभारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) अपने राजनीतिक करियर का शानदार आगाज कर चुके हैं। उन्हें वेस्ट बंगाल (West Bengal) की नवनिर्मित...
- Advertisement -

Latest Articles

बॉयफ्रेंड ने गर्लफ्रेंड से पूछा मजेदार सवाल

बॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है?नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:May 15, 2021, 06:00AM ISTबॉयफ्रेंड - तुम्हारी बहन का क्या नाम है? गर्लफ्रेंड - तमन्ना... बॉयफ्रेंड...

बंगाल के खेल मंत्री बने मनोज तिवारी को हरभजन सिंह ने दी तंज भरी बधाई, विवाद बढ़ा तो ट्वीट करना पड़ा डिलीट

नई दिल्लीभारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) अपने राजनीतिक करियर का शानदार आगाज कर चुके हैं। उन्हें वेस्ट बंगाल (West Bengal) की नवनिर्मित...

अनुष्का और विराट ने कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए जुटाए 11 करोड़ रुपये

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस अनुष्का शर्मा (Anushka Sharma) ने अपने पति और भारतीय क्रिकेट टीम के कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) ने कोविड से प्रभावित...