Saturday, November 28, 2020

आयुर्वेद के डॉक्टर भी अब कर सकेंगे सर्जरी, केंद्र सरकार से मिली हरी झंडी

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • भारतीय चिकित्सा केंद्रीय परिषद की ओर से जारी किया गया नोटिफिकेशन
  • अब पीजी के विद्यार्थियों को विभिन्न सर्जरी के बारे में गहन जानकारी दी जाएगी
  • केंद्र सरकार के आयुर्वेद के पूर्व सलाहकार ने इस पहल को मील का पत्थर करार दिया

नई दिल्ली
आयुर्वेद के डॉक्टर भी अब जनरल और ऑर्थोपेडिक सर्जरी के साथ आंख, कान और गले की सर्जरी कर सकेंगे। केंद्र सरकार ने इसके लिए हरी झंडी दे दी है। भारतीय चिकित्सा केंद्रीय परिषद की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि स्नातकोत्तर (पीजी) के विद्यार्थियों को विभिन्न सर्जरी के बारे में गहन जानकरी दी जाएगी।

आयुर्वेद के विद्यार्थियों को अभी सर्जरी की शिक्षा दी जाती थी, लेकिन उनके सर्जरी करने के अधिकारों को सरकार की ओर से स्पष्ट नहीं किया गया था। सरकार के नोटिफिकेशन के मुताबिक, अब आयुर्वेद के सर्जरी में पीजी करने वाले छात्रों को आंख, नाक, कान, गले के साथ ही जनरल सर्जरी के लिए विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जाएगा। इन छात्रों को स्तन की गांठों, अल्सर, मूत्रमार्ग के रोगों, पेट से बाहरी तत्वों की निकासी, ग्लुकोमा, मोतियाबिंद हटाने और कई सर्जरी करने का अधिकार होगा।

‘मील का पत्थर है यह पहल’
केंद्र सरकार के आयुर्वेद के पूर्व सलाहकार डॉ. एस.के. शर्मा ने इस पहल को मील का पत्थर करार दिया है। उनका कहना है कि इससे देश में कुशल सर्जन की कमी दूर होगी। साथ ही, देश के दूरदराज इलाकों के मरीजों को भी उच्च स्तर का इलाज मिल सकेगा।

‘झोलाछाप डॉक्टरों को बढ़ावा मिलेगा’
हालांकि, दिल्ली मेडिकल असोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉ. अनिल बंसल का कहना है कि इससे झोलाछाप डॉक्टरों को बढ़ावा मिलेगा और मरीजों के लिए संकट पैदा होगा। वहीं, डॉ. शर्मा कहना है कि आयुर्वेद के विद्यार्थियों को प्रसव, गर्भपात, गर्भाशय की सर्जरी का भी अधिकार दिया जाना चाहिए।



Source link

इसे भी पढ़ें

हिंद महासागर में बड़ी भूमिका को तैयार भारत, NSA डोभाल ने श्रीलंकाई राष्ट्रपति से की मुलाकात

कोलंबोभारत ने हिंद महासागर में चीन की बढ़ती गतिविधियों को रोकने के लिए अपने पड़ोसियों को साधने की कोशिशों को तेज कर दिया...

Women Big Bash League: सिडनी थंडर दूसरी बार बनी चैंपियन, फाइनल में दी मेलबर्न स्टार्स को शिकस्त

सिडनीसिडनी थंडर ने दमदार प्रदर्शन करते हुए शनिवार को महिला बिग बैश लीग का खिताब दूसरी बार जीत लिया। नॉर्थ सिडनी ओवल में...

गिलगित-बाल्टिस्तान में चुनाव करवा कर फंसे इमरान, बहुमत तो दूर- राज्य का भी नहीं मिलेगा दर्जा

इस्लामाबादपाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के गिलगित-बाल्टिस्तान प्रांत में जबरदस्ती चुनाव करवाने का फैसला प्रधानमंत्री इमरान खान को उल्टा पड़ता दिखाई दे रहा है। सरकारी...
- Advertisement -

Latest Articles

हिंद महासागर में बड़ी भूमिका को तैयार भारत, NSA डोभाल ने श्रीलंकाई राष्ट्रपति से की मुलाकात

कोलंबोभारत ने हिंद महासागर में चीन की बढ़ती गतिविधियों को रोकने के लिए अपने पड़ोसियों को साधने की कोशिशों को तेज कर दिया...

Women Big Bash League: सिडनी थंडर दूसरी बार बनी चैंपियन, फाइनल में दी मेलबर्न स्टार्स को शिकस्त

सिडनीसिडनी थंडर ने दमदार प्रदर्शन करते हुए शनिवार को महिला बिग बैश लीग का खिताब दूसरी बार जीत लिया। नॉर्थ सिडनी ओवल में...

गिलगित-बाल्टिस्तान में चुनाव करवा कर फंसे इमरान, बहुमत तो दूर- राज्य का भी नहीं मिलेगा दर्जा

इस्लामाबादपाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के गिलगित-बाल्टिस्तान प्रांत में जबरदस्ती चुनाव करवाने का फैसला प्रधानमंत्री इमरान खान को उल्टा पड़ता दिखाई दे रहा है। सरकारी...

दशक में दुनिया के सबसे बिजी क्रिकेटर विराट कोहली, 668 दिन खेले इंटरनैशनल क्रिकेट

नई दिल्लीटीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली पिछले एक दशक में दुनिया के सबसे बिजी क्रिकेटर रहे हैं। दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार विराट...

हरियाणा में किसानों से ऐसे व्यवहार के बाद अब खट्टर से बात करने की गुंजाइश नहीं: अमरिंदर

चंडीगढ़किसानों के प्रदर्शन के मुद्दे पर हरियाणा और पंजाब की राज्य सरकारों के बीच मतभेद की स्थितियां बन गई हैं। पंजाब सरकार ने...