Tuesday, January 19, 2021

आर्मी में महिलाओं को परमानेंट कमिशन पर कल जारी होगा फर्स्ट डे कवर

- Advertisement -


नई दिल्ली
इंडियन आर्मी में महिला अधिकारियों को परमानेंट कमिशन मिलने की उपलब्धि को सेलिब्रेट करने के लिए आर्मी फर्स्ट डे कवर जारी कर रही है। सूत्रों के मुताबिक 15 जनवरी यानी शुक्रवार को आर्मी डे पर आर्मी चीफ जनरल एम एम नरवणे यह फर्स्ट डे कवर जारी करेंगे। फर्स्ट डे कवर डाक विभाग के जरिए जारी होता है जो किसी महत्वपूर्ण अवसर, घटना या शख्स को प्रदर्शित करता है। फर्स्ट डे कवर में मुहर लगा एक लिफाफा होता है जिसे जारी किया जाता है।

सूत्रों के मुताबिक आर्मी चीफ जनरल नरवणे जो फर्स्ट डे कवर जारी करेंगे उसमें आर्मी की महिला अधिकारियों की तस्वीर होगी। पिछले साल आर्मी डे परेड में पहली बार आर्मी की महिला अधिकारी ने पुरुषों के दस्ते को लीड किया था। आर्मी के सिग्नल कोर में कैप्टन तानिया शेरगिल ने यह दस्ता लीड किया था। सूत्रों के मुताबिक फर्स्ट डे कवर में तानिया शेरगिल या फिर किसी और महिला अधिकारी की तस्वीर हो सकती है। 2019 में गणतंत्र दिवस परेड में आर्मी की कैप्टन भावना कस्तूरी ने पुरुष दस्ते का नेतृत्व किया था। फर्स्ड डे कवर के साथ अंदर जो पर्चा होगा उसमें आर्मी में महिला अधिकारियों के शॉर्ट सर्विस कमिशन से लेकर परमानेंट कमिशन तक के सफर के बारे में बताया जाएगा।

आर्मी में महिलाओं को सभी ब्रांच में परमानेंट कमिशन देने के सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद आर्मी ने शॉर्ट सर्विस कमिशन से आई महिला अधिकारियों को परमानेंट कमिशन के लिए चुनने के लिए स्पेशल सिलेक्शन बोर्ड बैठाया। यह उन महिला अधिकारियों का परमानेंट कमिशन के लिए चयन करने के लिए था जिनके सर्विस में 14 साल पूरे हो गए थे, इसमें वे महिला अधिकारी भी शामिल थी जिनकी सर्विस को 20 साल तक भी हो गए थे। इसके अलावा एक और सामान्य बोर्ड हो चुका है जिसमें पुरुष अधिकारियों के साथ ही महिला अधिकारियों को भी परमानेंट कमिशन के लिए चुना गया।

यह बोर्ड सर्विस के 13 वें साल में होता है। लीगल और एजुकेशन ब्रांच में तो महिला अधिकारियों के लिए पहले से ही परमानेंट कमिशन था। लेकिन अब आर्मी एयर डिफेंस, सिगनल्स, इंजीनियर्स, आर्मी एविएशन, इलैक्ट्रॉनिक्स और मैकनिकल इंजीनियर्स, आर्मी सर्विस कोर, आर्मी ऑर्डिनेंस कोर और इंटेलिजेंस कोर में भी महिला अधिकारियों को परमानेंट कमिशन मिल गया है। अब महिला अधिकारी जनरल के रैंक तक भी जा सकती हैं और महिला अधिकारी भी पुरुष अधिकारियों की तरह 54 साल की उम्र तक आर्मी में सेवा दे सकती हैं।



Source link

इसे भी पढ़ें

Gabba Test Highlights: भारत ने 3 विकेट से जीता चौथा टेस्ट, 2-1 से सीरीज नाम कर रच दिया इतिहास

ब्रिसबेनभारतीय टीम ने ब्रिसबेन के गाबा में मंगलवार को चौथा टेस्ट मैच 3 विकेट से जीतकर इतिहास रच दिया। ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच...
- Advertisement -

Latest Articles

Gabba Test Highlights: भारत ने 3 विकेट से जीता चौथा टेस्ट, 2-1 से सीरीज नाम कर रच दिया इतिहास

ब्रिसबेनभारतीय टीम ने ब्रिसबेन के गाबा में मंगलवार को चौथा टेस्ट मैच 3 विकेट से जीतकर इतिहास रच दिया। ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच...

सावधान! Amazon या Flipkart पर शॉपिंग करने से पहले इन बातों का जरूर रखें ख्याल

Online Shopping Tips: ऑनलाइन शॉपिंग का चलन पिछले कुछ वर्षों में काफी बढ़ चुका है। चाहें सब्जी मंगवानी हों या फिर शादी में...

सोने की खान पर कब्‍जा करना पड़ा भारी, कंगाल पाकिस्‍तान को 6 अरब डॉलर का झटका

इस्‍लामाबादपाकिस्‍तान सरकार को ब्रिटिश वर्जिन द्वीप समूह की एक अदालत ने करीब 6 अरब डॉलर का झटका दिया है। कोर्ट के इस झटके...