Sunday, August 1, 2021

क्या बदल रही है कांग्रेस? पंजाब में सिद्धू और तेलंगाना में रेवंत, राहुल-प्रियंका की सहमति के बाद टूट रही परंपरा

- Advertisement -


हाइलाइट्स

  • सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान, पार्टी नेताओं का विरोध न आया काम
  • विरोध के बावजूद रेवंत रेड्डी को बनाया गया तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष
  • राहुल गांधी ने भी कहा पार्टी के बाहर के निडर लोगों को भीतर लाने की जरूरत

नई दिल्ली
क्या कांग्रेस में भी पुराने ढर्रे से हटकर एक अलग राह पर बढ़ चली है। कांग्रेस पार्टी की नीतियों में हाल फिलहाल में जो बदलाव हुए हैं उसको देखकर यह कहा जा सकता है। हाल के कुछ फैसलों पर गौर करने पर इसका पता चल जाएगा कि आखिर हो क्या रहा है। क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू को जिस प्रकार विरोध के बावजूद कमान दी गई उससे यह संकेत साफ है कि पार्टी कुछ अलग सोच रही है। पार्टी में अब उन लोगों को भी महत्वपूर्ण पदों पर बिठाने से गुरेज नहीं जो हाल में ही पार्टी में शामिल हुए हैं।

सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान, क्या मायने
नवजोत सिद्धू की पंजाब कांग्रेस के प्रमुख के रूप में नियुक्ति गांधी भाई-बहनों की मंजूरी यह एक ऐसे बड़े बदलाव का संकेत है जहां अब तक पार्टी संगठन में ‘वफादारी’ को तरजीह दी जाती थी। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के विरोध के बावजूद सिद्धू का प्रमोशन उस एक पैटर्न का हिस्सा है जिस पर कांग्रेस आगे बढ़ रही है। पंजाब कांग्रेस के नेताओं के भीतर से यह बात निकल कर आई कि पार्टी के भीतर महत्वपूर्ण पद किसी पुराने कांग्रेसी को ही मिलना चाहिए। सिद्धू को लेकर यह बयान भी आया कि वो अभी हाल ही में आए हैं कुछ मेहनत करें। सिद्धू को तमाम विरोध के बावजूद कमान सौंप दी गई और वो कारण भी काम नहीं आया कि वो पुराने कांग्रेसी नहीं हैं।

विरोध के बावजूद यहां भी बदलाव
सिद्धू ही नहीं दक्षिण के एक राज्य में भी ऐसा एक बदलाव देखने को मिला है। तेलंगाना के भीतर भी कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर घमासान था। बमुश्किल दो हफ्ते पहले, कांग्रेस ने तमाम विरोध प्रदर्शनों को खारिज करते हुए रेवंत रेड्डी को तेलंगाना कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किया। रेड्डी अक्टूबर 2017 में तेलुगु देशम पार्टी से कांग्रेस में शामिल हुए थे। 53 साल के रेवंत रेड्डी का तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनना इसलिए भी चौंकाने वाला है क्योंकि उन्होंने आरएसएस के अनुषंगिक संगठन- अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपना राजनीतिक सफर शुरू किया था।

सिद्धू की नियुक्ति… कइयों को संदेश, जानें सोनिया गांधी के इस बड़े फैसले का क्‍या है मतलब?
कांग्रेस में आने से पहले उन्होंने राज्य के दो अन्य दलों में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। वह टीआरएस में भी रहे और तेलगुदेशम में भी।
सिद्धू या रेवंत रेड्डी पहले कांग्रेस में इतना जल्दी यह संभव नहीं था कि दूसरे दल से आए किसी नेता को राज्य की कमान इतनी जल्दी सौंप दी जाए। यह उस एक एक पैटर्न का हिस्सा है, जहां कांग्रेस नए लोगों को क्षेत्रीय स्तर पर आगे बढ़ा रही है जो हाल तक एक पार्टी के भीतर निषेध था।

लेटर एंट्री के लिए प्रशांत किशोर से भी चल रही बात

‘लेटरल एंट्री’ के तहत चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को कांग्रेस पार्टी के भीतर कोई बड़ा पद मिल सकता है। हालांकि यह इस बात पर निर्भर करेगा कि वो पार्टी से जुड़ने को राजी होते हैं या नहीं। पिछले दिनों ही उनकी पार्टी को पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से बातचीत हुई थी। जिसके बाद इस बात के कयास लगने शुरू हो गए कि वो भी जल्द कांग्रेस से जुड़ सकते हैं।

राहुल, प्रशांत किशोर, अभिषेक बनर्जी… हैकर्स के निशाने पर थे ये नाम, पेगासस फोन हैकिंग मामले में बड़ा दावा
पार्टी से कुछ साल पहले ही जुड़ने वाले हार्दिक पटेल भी गुजरात अध्यक्ष पद के प्रबल दावेदार हैं। पाटीदार आंदोलन के रूप में राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त करने वाले युवा नेता प्रमोशन न मिलने से AAP में जाने की खबरें आई। हालांकि वो इस वक्त प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष हैं। पार्टी से जुड़े उन्हें भी ज्यादा वक्त नहीं हुआ है। इससे पहले कांग्रेस ने नाना पटोले को महाराष्ट्र कांग्रेस का अध्यक्ष नियुक्त किया था। वो 2014 में बीजेपी के टिकट पर लोकसभा सांसद चुने गए, उन्होंने पीएम मोदी के खिलाफ बगावत की और 2018 में AICC में शामिल हो गए।

Rahul Gandhi News: राहुल गांधी का पीएम मोदी पर निशाना, आपकी सत्ता की भूख ने लोगों को दाने-दाने के लिए तरसाया
यह कुछ ऐसे बदलाव हैं जिसको देखकर यह कहा जा सकता है कि पार्टी को अब लेटरल एंट्री वाले लोगों को भी महत्वपूर्ण पद देने में कोई ऐतराज नहीं है। राहुल गांधी ने भी पिछले दिनों बातचीत में कहा था पार्टी के बाहर के निडर लोगों को पार्टी के भीतर लाने की जरूरत है।

congress plan structural changes



Source link

इसे भी पढ़ें

शी जिनपिंग ने चेताया,अफगानिस्‍तान में आ रहा तालिबान राज, ‘जंग’ को तैयार रहे चीनी सेना

बीजिंगचीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी सेना पीपल्‍स लिबरेशन आर्मी (PLA) को चेतावनी दी है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान राज आ रहा...

ब्रिटेन: PM बोरिस जॉनसन 7वीं बार बनने वाले हैं पिता, पत्नी ने शेयर की मिसकैरेज के बाद मिली खुशी की उम्मीद

लंदनब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन इस साल फिर से पिता बनने की उम्मीद में हैं। उनकी पत्नी कैरी प्रेग्नेंट हैं और दिसंबर में...

जानें कौन हैं भारतीय मूल के पहले अमेरिकी मुस्लिम रशद हुसैन, जो बाइडन ने लगाया दांव

वॉशिंगटनअमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने दुनियाभर में धार्मिक स्‍वतंत्रता को बढ़ावा देने के लिए भारतीय मूल के अटॉर्नी रशद हुसैन पर दांव लगाया...
- Advertisement -

Latest Articles

शी जिनपिंग ने चेताया,अफगानिस्‍तान में आ रहा तालिबान राज, ‘जंग’ को तैयार रहे चीनी सेना

बीजिंगचीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी सेना पीपल्‍स लिबरेशन आर्मी (PLA) को चेतावनी दी है कि अफगानिस्‍तान में तालिबान राज आ रहा...

ब्रिटेन: PM बोरिस जॉनसन 7वीं बार बनने वाले हैं पिता, पत्नी ने शेयर की मिसकैरेज के बाद मिली खुशी की उम्मीद

लंदनब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन इस साल फिर से पिता बनने की उम्मीद में हैं। उनकी पत्नी कैरी प्रेग्नेंट हैं और दिसंबर में...

जानें कौन हैं भारतीय मूल के पहले अमेरिकी मुस्लिम रशद हुसैन, जो बाइडन ने लगाया दांव

वॉशिंगटनअमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने दुनियाभर में धार्मिक स्‍वतंत्रता को बढ़ावा देने के लिए भारतीय मूल के अटॉर्नी रशद हुसैन पर दांव लगाया...

Virat Kohli-Anushka Sharma Selfie: विराट कोहली ने पत्नी अनुष्का संग शेयर की लंच डेट वाली सेल्फी, नहीं दिखीं बेटी वमिका

हाइलाइट्सविराट कोहली की अगुआई वाली टीम इंडिया इंग्लैंड से 5 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगी अभिनेत्री अनुष्का शर्मा भी इस समय पति विराट...

गोलू ने पुलिस को दिया मजेदार जवाब

गोलू सजा री हो रही थी और वो आज रिहा होने वाला थापुलिस ने पूछा - जेल से निकलते ही पहला काम तुम...