Saturday, December 5, 2020

चेन्नै: स्वागत को एयरपोर्ट के बाहर उमड़े BJP समर्थक, प्रोटोकॉल तोड़ पैदल चले अमित शाह, हाथ हिलाकर किया अभिवादन

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • दो दिवसीय दौरे पर तमिलनाडु पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह
  • चेन्नै एयरपोर्ट के बाहर स्वागत को बड़ी संख्या में पहुंचे BJP समर्थक
  • समर्थकों को देखकर अमित शाह ने अपनी कार रुकवाई और पैदल चलने लगे
  • बीजेपी समर्थकों में दिखा गजब का उत्साह, नारेबाजी कर शाह का स्वागत किया

चेन्नै
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah in Tamilnadu) शनिवार को दो दिवसीय दौरे पर तमिलनाडु पहुंचे हैं। चेन्नै एयरपोर्ट पर उनका स्वागत राज्य के मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी, डेप्युटी सीएम ओ. पन्नीरसेल्वम, कैबिनेट के वरिष्ठ मंत्रियों और बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष एल. मुरुगन ने किया। अमित शाह (Amit shah news) यूं तो तमिलनाडु सरकार के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे हैं, लेकिन उनकी निगाह अगले साल राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों पर भी रहेगी।

बीजेपी ने राज्य में अगले साल के चुनाव (Tamilnadu assembly elections) के लिए माहौल तैयार करने की कवायद अभी से शुरू कर दी है। इसकी एक बानगी शनिवार को चेन्नै एयरपोर्ट के बाहर देखने को मिली। जहां भारी संख्या में बीजेपी और राज्य में उसकी सहयोगी पार्टी एआईएडीएमके के समर्थक अपनी-अपनी पार्टियों के झंडों के साथ अमित शाह के स्वागत के लिए मौजूद थे।

प्रोटोकॉल तोड़कर कार से उतरे अमित शाह


कार से उतरकर पैदल चलने लगे अमित शाह

इतनी भारी संख्या में मौजूद समर्थकों को देखकर अमित शाह ने अचानक अपनी कार रुकवाई और बाहर उतरकर पैदल चलने लगे। अमित शाह ने भारी सुरक्षा के बीच हाथ हिलाकर समर्थकों का अभिवादन किया। अपने नेता को अपने बीच देखकर बीजेपी समर्थकों में गजब का उत्साह देखने को मिला और नारेबाजी कर उन्होंने अमित शाह का चेन्नै में स्वागत किया।

पढ़ें: कौन हैं अलागिरी, जिन पर तमिलनाडु में कमल खिलाने के लिए टिकी हैं BJP के ‘चाणक्‍य’ की

रजनीकांत से मुलाकात, अलागिरी से गठबंधन के कयास

दरअसल अगले साल विधानसभा चुनाव से पहले तमिलनाडु की राजनीति करवट ले रही है। करुणानिधि के बेटे एमके अलागिरी के अपनी अलग पार्टी बनाने की चर्चा जोरों पर है। दूसरी तरफ, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रजनीकांत से मुलाकात होनी है और उनके अलागिरी से मिलने की भी चर्चा है। कयास लग रहे हैं कि बीजेपी और अलागिरी की पार्टी में गठबंधन हो सकता है। कुल मिलाकर अलागिरी फिलहाल तमिलनाडु की राजनीति के केंद्र में हैं।



Source link

इसे भी पढ़ें

किसान आंदोलन के समर्थन में 36 ब्रिटिश सांसद, भारत पर दबाव बनाने के लिए लिखी चिट्ठी

हाइलाइट्स:भारत के किसान आंदोलन को 36 ब्रिटिश सांसदों ने दिया समर्थनब्रिटिश विदेश सचिव को लिखी चिट्ठी, भारत से बात करने की अपील कीबोले-...

Aus vs Ind: कनकशन विवाद पर बोले सहवाग, 24 घंटे बाद तक भी दिखते हैं लक्षण, भारत ने कुछ भी गलत नहीं किया

नयी दिल्लीपूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि भारतीय टीम रविंद्र जडेजा के कनकशन विकल्प को लेने में बिलकुल सही थी...
- Advertisement -

Latest Articles

किसान आंदोलन के समर्थन में 36 ब्रिटिश सांसद, भारत पर दबाव बनाने के लिए लिखी चिट्ठी

हाइलाइट्स:भारत के किसान आंदोलन को 36 ब्रिटिश सांसदों ने दिया समर्थनब्रिटिश विदेश सचिव को लिखी चिट्ठी, भारत से बात करने की अपील कीबोले-...

Aus vs Ind: कनकशन विवाद पर बोले सहवाग, 24 घंटे बाद तक भी दिखते हैं लक्षण, भारत ने कुछ भी गलत नहीं किया

नयी दिल्लीपूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि भारतीय टीम रविंद्र जडेजा के कनकशन विकल्प को लेने में बिलकुल सही थी...

एर्दोगन ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों को बताया ‘मुसीबत’, बोले- उनसे जल्द छुटकारा पा लेगा फ्रांस

अंकारामुस्लिम देशों के खलीफा बनने की कोशिश कर रहे तुर्की के राष्ट्रपति रेचप तैय्यप एर्दोगन फ्रांस के खिलाफ लगातार जहर उगल रहे हैं।...