Tuesday, December 1, 2020

‘दलितों की जमीन हड़पने’ के केस में बीजेपी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष बैजयंत पांडा की हो सकती है गिरफ्तारी, ओडिशा HC ने अरेस्‍ट से रोक हटाई

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • बीजेपी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष बैजयंत पांडा को ओडिशा हाई कोर्ट के एक फैसले से बड़ा झटका लगा है
  • कोर्ट ने पांडा के स्‍वामित्‍व वाली कंपनी पर लगे दलितों की जमीन हड़पने के आरोप केस में दखल करने से इनकार किया
  • इतना ही नहीं ओडिशा हाई कोर्ट ने पहले के सभी अंतरिम आदेशों को भी खारिज कर दिया है

भुवनेश्‍वर
बीजेपी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष बैजयंत पांडा को ओडिशा हाई कोर्ट के एक फैसले से बड़ा झटका लगा है। कोर्ट ने पांडा के स्‍वामित्‍व वाली कंपनी पर लगे दलितों की जमीन हड़पने के आरोप मामले में दखल करने से इनकार कर दिया है। इतना ही नहीं हाई कोर्ट ने पहले के सभी अंतरिम आदेशों को भी खारिज कर दिया है। इससे पांडा और उनकी पत्‍नी जागी पांडा की ग‍िरफ्तारी के रास्‍ते खुल गए हैं। यह केस आईपीसी की कई धाराओं और एससी/एसटी ऐक्‍ट के तहत दर्ज किया गया है।

पांडा और उनकी पत्‍नी ओडिशा इन्‍फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड (ओआईपीएल) कंपनी के मालिक हैं। इससे पहले हाई कोर्ट ने एक आदेश पारित करके इनकी गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी। इसके बाद पांडा ने अपने और कंपनी के खिलाफ दर्ज एफआईआर को निरस्‍त कराने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दी थी।

नवीन पटनायक पर बदले की राजनीति का आरोप
शनिवार को पांडा ने अपने खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों से इनकार किया। उन्‍होंने कहा कि ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक की बदले की राजनीति की वजह से उनके खिलाफ यह मामला चलाया जा रहा है। अपने बयान में जागी पांडा ने कहा, ‘हमने कुछ भी गलत नहीं किया है, हमें भरोसा है कि अंतत: अदालतों में यह साबित हो जाएगा।’

अपने ड्राइवर की मदद से दलितों की जमीन खरीदी
इंडियन एक्‍सप्रेस में छपी खबर के अनुसार, इसी साल 31 अक्‍टूबर को ओडिशा पुलिस की इकॉनमिक ऑफेंस विंग ने कंपनी के खिलाफ एक एफआईआर दर्ज की थी। इसमें आरोप है कि साल 2010 से 2013 के बीच दलित समुदाय के रबिंद्र कुमार सेठी पर दबाव डालकर पांडा दंपती ने उन्‍हें 22 दलितों की 7.294 एकड़ जमीन खरीदने को मजबूर किया। उस समय रबिंद्र कंपनी में ड्राइवर के तौर पर काम कर रहे थे। पांडा दंपती पर आरोप है कि इस तरह उन्‍होंने दलितों की जमीन गैर दलितों को खरीदने से रोकने वाले कानून का उल्‍लंघन किया है।

बीजू जनता दल से सस्पेंड किया गया था
बैजयंत पांडा केंद्रपाड़ा से बीजू जनता दल के टिकट पर चुनाव जीते थे लेकिन 2018 में पार्टी नेताओं से मतभेद के कारण उन्हें पार्टी से सस्पेंड कर दिया गया था। उस वक्त माना जा रहा था कि उनकी बीजेपी नेताओं से नजदीकी की वजह से उन्हें सस्पेंड किया गया है। इसके बाद पांडा पिछले साल मार्च में औपचारिक तौर पर बीजेपी में शामिल हो गए थे। बाद में उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता भी बनाया गया।



Source link

इसे भी पढ़ें

SCO की बैठक में पाकिस्तान का दिखावा, आतंकवाद की सार्वजनिक निंदा की

इस्लामाबादपाकिस्तान ने भारत की मेजबानी में सोमवार को आयोजित शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) डिजिटल बैठक के दौरान आतंकवाद के सभी रूपों की निंदा...

पुलिस ने माराडोना के निजी डॉक्टर के घर और क्लीनिक की तलाशी ली

ब्यूनस आयर्सअर्जेंटीना पुलिस ने फुटबॉल स्टार डिएगो माराडोना के निधन की जांच में उनके निजी डॉक्टर के घर और क्लीनिक की तलाशी ली।...

नाराज चैनल 7 ने कहा, बीसीसीआई से डरता है क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया

मेलबर्नक्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और चैनल सेवन के बीच विवाद बढता ही जा रहा है और अब प्रसारक ने दोनों बोर्ड के बीच संवाद की...
- Advertisement -

Latest Articles

SCO की बैठक में पाकिस्तान का दिखावा, आतंकवाद की सार्वजनिक निंदा की

इस्लामाबादपाकिस्तान ने भारत की मेजबानी में सोमवार को आयोजित शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) डिजिटल बैठक के दौरान आतंकवाद के सभी रूपों की निंदा...

पुलिस ने माराडोना के निजी डॉक्टर के घर और क्लीनिक की तलाशी ली

ब्यूनस आयर्सअर्जेंटीना पुलिस ने फुटबॉल स्टार डिएगो माराडोना के निधन की जांच में उनके निजी डॉक्टर के घर और क्लीनिक की तलाशी ली।...

नाराज चैनल 7 ने कहा, बीसीसीआई से डरता है क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया

मेलबर्नक्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और चैनल सेवन के बीच विवाद बढता ही जा रहा है और अब प्रसारक ने दोनों बोर्ड के बीच संवाद की...

इस पाकिस्तानी नेता से शादी करना चाहती है दाऊद की ‘गर्लफ्रेंड’? इंटरव्यू में खोला राज!

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कथित गर्लफ्रेंड महविश हयात इन दिनों शादी को लेकर दिए गए अपने बयान के कारण फिर चर्चा में...