Sunday, June 13, 2021

मैंने अखबार में पढ़ा कि आपने….5वीं की छात्रा ने कोरोना पर CJI को लिखी भावुक चिट्ठी

- Advertisement -


नई दिल्ली
केरल की 5वीं क्‍लास की एक स्‍टूडेंट ने देश के प्रधान न्‍यायाधीश (CJI) को भावुक कर देने वाली चिट्ठी लिखी है। इसमें उसने कोरोना के खिलाफ जंग में सुप्रीम कोर्ट की भूमिका के लिए धन्‍यवाद दिया है। छात्रा ने चिट्ठी के साथ एक तस्‍वीर भी अटैच की है। इसमें एक न्‍यायाधीश को कोरोना पर वार करते दिखाया गया है। इस पत्र से गदगद CJI ने भी बच्‍ची को जवाब में चिट्ठी भेज उसके सुनहरे भविष्‍य की कामना की है।

केरल की पांचवीं कक्षा की छात्रा लिडविना जोसेफ ने देश के प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण को पत्र लिख कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में प्रभावी रूप से हस्तक्षेप करने और लोगों की जान बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट की सराहना की है।

सबको मुफ्त वैक्‍सीन, क्‍या वाकई सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद सरकार ने लिया फैसला?
बच्‍ची ने पत्र में क्‍या लिखा?
ल‍िडविना जोसेफ त्रिशूर में केंद्रीय विद्यालय की छात्रा है। अपने पत्र में उसने शीर्ष अदालत की ओर से कर्तव्यों के निर्वहन को चित्रित किया है। साथ ही इसमें एक चित्र भी अटैच किया है, जिसमें एक न्यायाधीश को कोरोना वायरस पर प्रहार करते दिखाया गया है।

जोसेफ ने पत्र में कहा है, ‘मैं दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में कोरोना के कारण हुई मौतों को लेकर बहुत चिंतित थी। अखबार से मुझे पता चला कि माननीय न्यायालय ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में आम लोगों की पीड़ा और मौतों पर प्रभावी ढंग से हस्तक्षेप किया है।’

जोसेफ ने कहा, ‘मैं खुश हूं और गर्व महसूस कर रही हूं कि माननीय अदालत ने ऑक्सि‍जन की आपूर्ति के आदेश दिए और कई लोगों की जान बचाई। मैं समझ गई कि माननीय न्यायालय ने हमारे देश में विशेष रूप से दिल्ली में कोविड-19 और मृत्यु दर को कम करने के लिए प्रभावी कदम उठाए हैं। इसके लिए मैं आपको धन्यवाद देती हूं। अब मैं बहुत गौरवान्वित और प्रसन्न महसूस कर रही हूं।’

joseph

जवाब में सीजीआई ने लिखी चिट्ठी
भाग्यशाली लड़की को भारत के प्रधान न्यायाधीश का जवाब और उसके ‘सुंदर पत्र’ के लिए शुभकामनाएं मिलीं। प्रधान न्यायाधीश ने छोटी बच्ची की सफलता की कामना करते हुए जवाबी पत्र लिखा।

Supreme Court News: कोरोना से अनाथ हुए बच्चों की पीएम केयर्स से कैसे मदद हो, इसपर काम जारी हैः केंद्र
प्रधान न्यायाधीश ने कहा, ‘मुझे आपका सुंदर पत्र मिला है। साथ ही काम कर रहे न्यायाधीश का चित्रण करने वाला दिल को छू लेने वाला चित्र भी मिला है। जिस तरह से आपने देश में होने वाली घटनाओं पर नजर रखी और महामारी के मद्देनजर लोगों की भलाई के लिए आपने जो चिंता दिखाई है, उससे मैं वास्तव में प्रभावित हूं।’

उन्होंने इस बच्ची की सफलता की कामना करते हुए कहा, ‘मुझे यकीन है कि आप एक सतर्क, जागरूक और जिम्मेदार नागरिक के रूप में विकसित होंगी, जो राष्ट्र निर्माण में बहुत योगदान देगी।’

collage



Source link

इसे भी पढ़ें

G7 की बैठक के बाहर पाकिस्तान का गंदा खेल, कश्मीर और पीएम मोदी के खिलाफ करवा रहा दुष्प्रचार

लंदनब्रिटेन में जारी दुनिया के सात सबसे बड़े अर्थव्यवस्था वाले देशों के सम्मेलन G7 में भी पाकिस्तान अपनी गंदी हरकतों से बाज नहीं...

VIDEO: जब सुशांत सिंह राजपूत की हुई थी पहली बार सुपरस्टार रजनीकांत से मुलाकात

सुशांत सिंह राजपूत सुपरस्टार रजनीकांत के बहुत बड़े फैन थे। अब एक पुराना वीडियो सामने आया है जिसमें सुशांत सिंह राजपूत एमएस धोनी...
- Advertisement -

Latest Articles

G7 की बैठक के बाहर पाकिस्तान का गंदा खेल, कश्मीर और पीएम मोदी के खिलाफ करवा रहा दुष्प्रचार

लंदनब्रिटेन में जारी दुनिया के सात सबसे बड़े अर्थव्यवस्था वाले देशों के सम्मेलन G7 में भी पाकिस्तान अपनी गंदी हरकतों से बाज नहीं...

VIDEO: जब सुशांत सिंह राजपूत की हुई थी पहली बार सुपरस्टार रजनीकांत से मुलाकात

सुशांत सिंह राजपूत सुपरस्टार रजनीकांत के बहुत बड़े फैन थे। अब एक पुराना वीडियो सामने आया है जिसमें सुशांत सिंह राजपूत एमएस धोनी...