Saturday, June 19, 2021

Alapan Bandyopadhyay News: ‘बंगाल के मुख्य सचिव को वापस बुला सकता है केंद्र, पर इनकार कर सकती हैं ममता’

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्‍याय को बुलाने के केंद्र के फैसले की TMC नाराज
  • ममता सरकार अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए मुख्य सचिव को कार्यमुक्त करने से कर सकती है इनकार
  • तबादलों के लिए जरूरी पश्चिम बंगाल सरकार और बंद्योपाध्याय की सहमति केंद्र सरकार ने नहीं ली

कोलकाता
पूर्व शीर्ष नौकरशाहों और कानून के जानकारों का मानना है कि केंद्र सरकार के लिए पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंद्योपाध्याय को सेवानिवृत्त होने के दिन दिल्ली बुलाने के अपने आदेश का पालन कराना मुश्किल हो सकता है। क्योंकि राज्य सरकार अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए उन्हें कार्यमुक्त करने से इनकार कर सकती है। दरअसल केंद्र ने बंद्योपाध्याय को दिल्ली बुलाने का आदेश चक्रवाती तूफान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बैठक को मुख्यमंत्री की ओर से महज 15 मिनट में निपटाने से पैदा विवाद के कुछ घंटों के बाद दिया।

इससे कुछ दिन पहले राज्य में कोविड-19 महामारी से निपटने में मदद के लिए बंद्योपाध्याय का कार्यकाल तीन महीने के लिए बढ़ाने का केंद्रीय आदेश जारी किया गया था। भारत सरकार के पूर्व सचिव जवाहर सरकार ने कहा कि राज्य सरकार ऐसे तबादलों को कंट्रोल करने वाले अखिल भारतीय सेवा नियमावली को विनम्रता से जवाब दे सकती है। उन्होंने कहा कि केंद्र के लिए एकतरफा तरीके से आईएएस या आईपीएस अधिकारी का तबादला करना मुश्किल है, जो उसके नियंत्रण में नहीं है बल्कि संघ के भीतर दूसरे सरकार के अधीन है।

केंद्र के फैसले को प्रभावी कर सकती है राज्य सरकार
अखिल भारतीय सेवा के अधिकरियों की प्रतिनियुक्ति के नियम 6 (1) के तहत किसी राज्य के काडर के अधिकारी की प्रतिनियुक्ति केंद्र या अन्य राज्य या सार्वजनिक उपक्रम में संबंधित राज्य की सहमति से की जा सकती है। भारतीय प्रशासनिक सेना (काडर) नियम-1954 के तहत, कोई असहमति होने पर मामले पर निर्णय केंद्र सरकार और राज्य सरकार कर सकती है या संबंधित राज्य सरकार केंद्र सरकार के फैसले को प्रभावी कर सकती है।

नारदा स्टिंग केस: गिरफ्तार हुए टीएमसी के कई मंत्री तो खुद CBI दफ्तर पहुंच गईं सीएम ममता बनर्जी

केंद्र सरकार ने नहीं ली किसी की सहमति
सरकार ने कहा, हालांकि, समस्या केंद्र सरकार के लिए यह है कि उसने न तो पश्चिम बंगाल सरकार की और न ही बंद्योपाध्याय की सहमति ली जो ऐसे तबादलों में आवश्यक मानी जाती है। जवाहर सरकार ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण या हाईकोर्ट के जरिये कानूनी रास्ता भी अपना सकती है। हालांकि, माना जा रहा है कि केंद्र ने दोनों मंचों पर कैविएट दाखिल किया है। यह वह तरीका है जिसमें सामान्य समझ महत्व रखता है। वरिष्ठ अधिवक्ता अरुणाभ घोष ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री तत्काल अधिकारी को कार्यमुक्त नहीं करने का फैसला करती हैं तो कानूनी जटिलताएं पैदा हो जाएंगी। घोष ने कहा कि मुख्य सचिव सीधे मुख्यमंत्री के नियंत्रण में है।

Alapan Bandyopadhyay News: ‘बंगाल के मुख्य सचिव को वापस बुला सकता है केंद्र, पर इनकार कर सकती हैं ममता’



Source link

इसे भी पढ़ें

50 लाख पार! बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया की धमाकेदार एंट्री, प्लेयर्स को मिल रहा शानदार रिवॉर्ड

हाइलाइट्स:बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया का मिला अर्ली एक्सेस50 लाख पार हुए डाउनलोड्सप्लेयर्स को मिल रहे रिवॉर्ड्सप्लेयर्स को मिल रहे रिवॉर्ड्सनई दिल्ली। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया...

Milkha Singh Olympic Dream: फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का वह बड़ा सपना, जो आज तक नहीं हो सका पूरा

नई दिल्लीमहान धावक मिल्खा सिंह 60 साल पहले ओलिंपिक पदक जीतने से मात्र कुछ इंचों से दूर रह गए थे। ओलिंपिक में एथलेटिक्स...
- Advertisement -

Latest Articles

50 लाख पार! बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया की धमाकेदार एंट्री, प्लेयर्स को मिल रहा शानदार रिवॉर्ड

हाइलाइट्स:बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया का मिला अर्ली एक्सेस50 लाख पार हुए डाउनलोड्सप्लेयर्स को मिल रहे रिवॉर्ड्सप्लेयर्स को मिल रहे रिवॉर्ड्सनई दिल्ली। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया...

Milkha Singh Olympic Dream: फ्लाइंग सिख मिल्खा सिंह का वह बड़ा सपना, जो आज तक नहीं हो सका पूरा

नई दिल्लीमहान धावक मिल्खा सिंह 60 साल पहले ओलिंपिक पदक जीतने से मात्र कुछ इंचों से दूर रह गए थे। ओलिंपिक में एथलेटिक्स...

जैकलिन फर्नांडीस ने किया जबरदस्त पोल डांस, वायरल हुआ वीडियो

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस जैकलिन फर्नांडीस (Jacqueline Fernandez) की सोशल मीडिया पर काफी अच्छी फैन फॉलोइंग हैं और उनके वीडियोज-फोटोज आते ही वायरल हो जाते...