Wednesday, April 14, 2021

Anil Deshmukh Resignation: देशमुख के इस्तीफे के बाद रामदास आठवले बोले- ‘महाराष्ट्र में लगे राष्ट्रपति शासन, सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पायेगी’

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा कि महाराष्ट्र में अब राष्ट्रपति शासन लागू करने का समय आ चुका है
  • आठवले ने कहा कि इस बाबत उन्होंने राष्ट्रपति को पत्र भी लिखा है
  • आठवले ने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं और राज्य की हालत एकदम बिगड़ती जा रही है
  • आठवले ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी

मुंबई
केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले (Central Minister Ramdas Athavale) ने महाराष्ट्र के सियासी भूचाल पर बयान देते हुए कहा है कि राज्य में कानून व्यवस्था बिगड़ चुकी है। लिहाजा अब यहां राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैंने इस बाबत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर मांग की है कि राज्य में अब राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया जाए।

रामदास आठवले ने कहा कि अब ऐसा नहीं लगता है कि महाविकास अघाड़ी सरकार (Mahavikas Aghadi Government) राज्य में अपना कार्यकाल पूरा कर पाएगी। देश में कोरोना (Corona) के 60 से 65% मामले महाराष्ट्र से आ रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकार की स्थिति काफी डावांडोल नजर आ रही है।

आठवले ने कहा कि गृह मंत्री अनिल देशमुख (Home Minister Anil Deshmukh) को पहले इस्तीफा देने की जरूरत थी। हालांकि उन्हें महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) और एनसीपी द्वारा बचाने के तमाम प्रयास किए गए। अब शरद पवार (Sharad Pawar) ने अनिल देशमुख को इस्तीफा देने की इजाजत दे दी है, यह अच्छी बात है।

पहले देना चाहिए था इस्तीफा
वहीं महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) ने अनिल देशमुख के इस्तीफे पर बयान देते हुए कहा कि देशमुख को इस्तीफा पहले ही दे देना चाहिए था जिस समय उन पर आरोप लगे थे। उच्च न्यायालय ने मामले में हस्तक्षेप किया उसके बाद गृह मंत्री ने इस्तीफा दिया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे अब तक खामोश क्यों है? यह सवाल भी फडणवीस ने उठाया है।

क्या है मामला
सचिन वझे (Sachin Waze Case) मामले में पद से हटाए जाने के बाद मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ बड़ा आरोप लगाया था। तब परमबीर सिंह (Parambir Singh) ने कहा था कि देशमुख ने सचिन वझे को 100 करोड़ रुपए की वसूली का टारगेट दिया था। वझे को गृह मंत्री अनिल देशमुख ने अपने बंगले पर भी बुलाया था। इन तमाम आरोपों के बाद महाराष्ट्र की सियासत में भी काफी हलचल हुई थी।

रामदास आठवले ने कहा कि महाराष्ट्र में अब राष्ट्रपति शासन लागू करने का समय आ चुका है



Source link

इसे भी पढ़ें

Xiaomi Mi 11 को मिला MIUI 12.5 अपडेट, जुड़े कई शानदार फीचर

हाइलाइट्स:शाओमी मी 11 को मिला MIUI 12.5 अपडेटनए फीचर्स के साथ कई ऑप्टिमाइजेशन भीदिया जा रहा मार्च 2021 का सिक्यॉरिटी पैचनई दिल्लीXiaomi Mi...

Covid-19 By Touching Surface: बेवजह पोछा मत लगाइए, सतह को छूने से कोरोना संक्रमित होने का अबतक नहीं मिला कोई सबूत

हाइलाइट्स:सतह को छूने से नहीं फैलता है कोरोना का संक्रमण, अमेरिकी सीडीसी ने बतायाविशेषज्ञ बोले- सतह से नहीं, बल्कि हवा के जरिए फैलता...
- Advertisement -

Latest Articles

Xiaomi Mi 11 को मिला MIUI 12.5 अपडेट, जुड़े कई शानदार फीचर

हाइलाइट्स:शाओमी मी 11 को मिला MIUI 12.5 अपडेटनए फीचर्स के साथ कई ऑप्टिमाइजेशन भीदिया जा रहा मार्च 2021 का सिक्यॉरिटी पैचनई दिल्लीXiaomi Mi...

Covid-19 By Touching Surface: बेवजह पोछा मत लगाइए, सतह को छूने से कोरोना संक्रमित होने का अबतक नहीं मिला कोई सबूत

हाइलाइट्स:सतह को छूने से नहीं फैलता है कोरोना का संक्रमण, अमेरिकी सीडीसी ने बतायाविशेषज्ञ बोले- सतह से नहीं, बल्कि हवा के जरिए फैलता...

IPL 2021: कमेंट्री के दौरान RCB से खुन्‍नस निकाल रहे पार्थिव पटेल? इस ट्वीट पर भड़क उठे फैन्‍स

हाइलाइट्स:क्‍या RCB से अबतक नाराज चल रहे हैं पार्थिव पटेल?कमेंट्री के आधार पर RCB फैन्‍स ने उठाए हैं सवालपार्थिव पटेल का ट्वीट- लोग...