Sunday, April 11, 2021

Aurangabad News: झूठा निकला 82 हजार रुपये किलो वाली सब्जी की खेती का दावा, किसान के घरवालों ने ही खोल दी पोल

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • औरंगाबाद में नहीं होती हॉप शूट्स की खेती
  • किसान अमरेश सिंह का दावा निकला झूठा
  • अमरेश सिंह के बेटे शुभम ने ही किया खुलासा
  • अमरेश जिसे हॉप शूट्स बता रहे थे वो मेंथा की खेती है

आकाश कुमार, औरंगाबाद
बिहार के औरंगाबाद में रहने वाले किसान अमरेश सिंह ने दावा किया था कि वह करीब 82 हजार रुपये प्रति किलो कीमत वाली सब्जी हॉप शूट्स की खेती कर रहे हैं। नवीनगर प्रखंड के करमड़ी गांव में वह करीब पांच कट्ठे में हॉप शूट्स की खेती कर रहे हैं। हालांकि, जब NBT.com ने इस बात की पड़ताल की तो किसान अमरेश सिंह का दावा झूठा साबित हुआ। अमरेश सिंह के बेटे शुभम ने ही बताया कि हॉप शूट्स की खेती इस गांव में नहीं होती है।

किसान अमरेश सिंह के बेटे ने ही किया चौंकाने वाला खुलासा
पिछले दिनों में कई मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया कि किसान अमरेश सिंह हॉप शूट्स की खेती कर रहे हैं। इसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब 82 हजार रुपये प्रति किलो है। हॉप शूट्स की खेती को लेकर अमरेश काफी चर्चा में आ गए। हालांकि, जब एनबीटी की टीम उनके गांव करमडीह पहुंचीं और हॉप शूट्स के बारे में जांच की गई तो उनके बेटे शुभम सिंह ने चौंकाने वाला खुलासा किया। उन्होंने बताया कि हॉप शूट्स की खेती इस गांव में नहीं होती है। इस क्षेत्र के मानसून के अनुसार यहां इसकी खेती संभव ही नहीं है।

इसे भी पढ़ें:- बिहार में और गहराया कोरोना संकट: एक दिन में आए 662 नए केस, अकेले पटना में 287 मामलों से हड़कंप

‘हॉप शूट्स की खेती पूरे औरंगाबाद में कहीं नहीं होती’
किसान अमरेश सिंह के बेटे शुभम ने बताया कि हॉप शूट्स की खेती यहां नहीं की गई है। यह खबर झूठी है। हॉप शूट्स की खेती पूरे औरंगाबाद जिले में कहीं नहीं होती है। वहीं अमरेश के पिता ने कहा कि उन्होंने कभी इस पौधे को नहीं देखा है, और न ही इसकी खेती यहां कभी हुई है।

Bihar News : टोपो लैंड नहीं है छपरा की जमीन, डबल डेकर पुल से विस्थापितों का दावा

किसान जिसे हॉप शूट्स की खेती बता रहा था वो मेंथा की निकली
एक फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। जिसमें किसान अमरेश सिंह एक खेत में बैठा हुआ है। किसान अमरेश दावा करते हैं कि यह हॉप शूट्स की खेती है। जब वायरल फोटो की बारीकी से जांच की तो फोटो भी गलत साबित हुई। किसान अमरेश जिसे हॉप शूट्स की खेती बता रहा था वो दरअसल मेंथा की खेती है।

हॉप शूट्स की खेती बिहार में संभव ही नहीं: कृषि वैज्ञानिक
इस बारे में जब कृषि वैज्ञानिक नित्यानंद से बात की गई तो उन्होंने साफ तौर पर इसे झूठा बताया और कहा कि यह खबर पूरी तरह झूठी है। हॉप शूट्स की खेती बिहार में संभव ही नहीं है। यह ठंडी जगह का पौधा है, जहां तापमान 10-12 डिग्री से नीचे रहता है। औरंगाबाद का तापमान हॉप शूट्स के मुताबिक नहीं है। ऐसे में यहां इसकी खेती की बात पूरी तरह से झूठी है।



Source link

इसे भी पढ़ें

मां की बात सुन किडनैपर बेहोश

किडनैपर: हमने तुम्‍हारे बेटे को किडनैप कर लिया है। मां: मेरी बात कराओ। किडनैपर: लो। मां: और चला मोबाइल। विशाल, मुंबई window.fbAsyncInit = function() { ...
- Advertisement -

Latest Articles

मां की बात सुन किडनैपर बेहोश

किडनैपर: हमने तुम्‍हारे बेटे को किडनैप कर लिया है। मां: मेरी बात कराओ। किडनैपर: लो। मां: और चला मोबाइल। विशाल, मुंबई window.fbAsyncInit = function() { ...

CSK v DC : 15 रन से शतक चूकने के बावजूद शिखर ने बनाए कई रेकॉर्ड, विराट कोहली भी छूटे पीछे

मुंबईदिल्ली कैपिटल्स के बाएं हाथ के अनुभवी ओपनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) चेन्नै सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) के खिलाफआईपीएल 2021 (IPL 2021) के...