Sunday, January 24, 2021

Central Vista News : नए संसद भवन का निर्माण कार्य 15 जनवरी से शुरू होगा – सूत्र

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • इस सप्ताह की शुरुआत में हेरिटेज पैनल ने नए संसद भवन के निर्माण को मंजूरी दी थी
  • सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से समिति और अन्य संबंधित प्राधिकरणों से मंजूरी लेने का आदेश दिया था
  • सेंट्रल विस्टा का काम 10 महीने में पूरा होने की संभावना है और 2022 में नया संसद तैयार हो जाएगा

नई दिल्ली
सेंट्रल विस्टा प्रॉजेक्ट के तहत नए संसद भवन का निर्माण कार्य 15 जनवरी से शुरू होना है। सूत्रों ने बताया कि मकर संक्रांति के अगले दिन को ऐसी परियोजनाओं की शुरुआत के लिए शुभ मुहुर्त माना जाता है। इस सप्ताह की शुरुआत में 14 सदस्यीय विरासत समिति (Heritage Panel) ने सरकार की महत्वाकांक्षी सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास योजना (Central Vista Redevelopment Plan) के तहत नए संसद भवन के निर्माण को मंजूरी दी थी।

15 जनवरी को शुभ मुहूर्त

आधिकारिक सूत्रों ने बताया, ‘‘केंद्रीय लोक निर्माण विभाग (सीपीडब्ल्यूडी) ने टाटा प्रॉजेक्टस लिमिटेड से 15 जनवरी से नए संसद भवन का निर्माण कार्य शुरू करने को कहा है। मकर संक्रांति के अगले दिन को ऐसी परियोजनाएं शुरू करने के लए शुभ मुहुर्त माना जाता है।’’ नए भवन का निर्माण टाटा प्रॉजेक्टस लिमिटेड द्वारा किया जाना है।

टाटा प्रॉजेक्ट्स को मिला ठेका

सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास परियोजना के तहत नए त्रिभुजाकार संसद भवन और साझा केन्द्रीय सचिवालय का निर्माण, राष्ट्रपति भवन से इंडिया गेट तक तीन किलोमीटर लंबे राजपथ का पुनर्विकास, नए प्रधानमंत्री आवास और कार्यालय का निर्माण और उपराष्ट्रपति के लिए नए एन्क्लेव का निर्माण शामिल है। सूत्रों ने कहा कि सरकार की इस महत्वाकांक्षी परियोजना पर काम शुरू करने के लिए टाटा प्रॉजेक्टस ने मशीन आदि एकत्र करना शुरू कर दिया है।
Central Vista Project : सेंट्रल विस्टा परियोजना की जरूरत पर सवाल उठा 69 पूर्व नौकरशाहों ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी
10 महीने में बनकर होगा तैयार

विरासत संरक्षण समिति (Heritage Conservation Committee) ने सोमवार को नई संसद भवन परियोजना को मंजूरी दे दी। इससे पहले उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) ने केंद्र सरकार से कहा था कि वह निर्माण कार्य शुरू करने से पहले समिति और अन्य संबंधित प्राधिकरणों से इसके लिए मंजूरी प्राप्त करे। योजना के अनुसार, राजपथ के पुनर्विकास का कार्य गणतंत्र दिवस समारोह के तुरंत बाद शुरू होगा। यह काम 10 महीने में पूरा होने की संभावना है और 2022 में गणतंत्र दिवस समारोह का आयोजन पुनर्विकसित राजपथ पर होगा।

94 साल पहले बनी थी मौजूदा संसद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले महीने नए संसद भवन की आधारशिला रखी थी। उम्मीद है कि इसका निर्माण कार्य 75वें स्वतंत्रता दिवस तक पूरा हो जाएगा। इस पर करीब 971 करोड़ रुपये का खर्च आने का अनुमान है। नए भवन का निर्माण करीब 94 साल पहले बनी मौजूदा संसद भवन के सामने होना है। उस वक्त 83 लाख रुपये की लागत से बने इस भवन को संग्रहालय में बदल दिया जाएगा।

नए भवन में लोकसभा और राज्यसभा की ज्यादा सीटें

नए भवन में लोकसभा और राज्यसभा के लिए हॉल का निर्माण किया जाएगा, जिनकी क्षमता क्रमश: 888 और 384 सीटों की होगी। इनका निर्माण 2026 में होने वाले संसद के सदस्यों में होने वाली वृद्धि को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है। लोकसभा हॉल में 1,272 लोगों के बैठने का इंतजाम होगा ताकि संयुक्त सत्र का आयोजन किया जा सके।



Source link

इसे भी पढ़ें

रहमत के शतक के दम पर अफगानिस्तान ने आयरलैंड को हराया, वनडे सीरीज पर किया कब्जा

अबु धाबीअफगानिस्तान ने रविवार को शेख जायेद स्टेडियम में खेले गए दूसरे वनडे मुकाबले में आयरलैंड को सात विकेट से हराकर तीन मैचों...

पाकिस्तान के लिए एडा क्लास के 4 युद्धपोत बना रहा तुर्की, जानें भारत के लिए कितना खतरनाक

हाइलाइट्स:पाकिस्तान के लिए एडा क्लास के चार कॉर्वेट बना रहा है तुर्कीएर्दोगन ने शनिवार को तीसरे कॉर्वेट के निर्माण की रखी आधारशिला2018 में...
- Advertisement -

Latest Articles

रहमत के शतक के दम पर अफगानिस्तान ने आयरलैंड को हराया, वनडे सीरीज पर किया कब्जा

अबु धाबीअफगानिस्तान ने रविवार को शेख जायेद स्टेडियम में खेले गए दूसरे वनडे मुकाबले में आयरलैंड को सात विकेट से हराकर तीन मैचों...

पाकिस्तान के लिए एडा क्लास के 4 युद्धपोत बना रहा तुर्की, जानें भारत के लिए कितना खतरनाक

हाइलाइट्स:पाकिस्तान के लिए एडा क्लास के चार कॉर्वेट बना रहा है तुर्कीएर्दोगन ने शनिवार को तीसरे कॉर्वेट के निर्माण की रखी आधारशिला2018 में...

इरफान पठान ने बताया क्यों राहुल द्रविड़ को मिल रहा टीम इंडिया की सफलता का क्रेडिट

नई दिल्लीभारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसकी के मैदान में धूल चटाकर 2-1 से बॉर्डर गावसकर ट्रोफी अपने नाम की थी। इस जीत...