Wednesday, January 27, 2021

Covaxin News: बिना फेज 3 ट्रायल देसी वैक्‍सीन क्‍यों? कांग्रेस MP ने कहा- गिनी पिग नहीं हैं भारतीय

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • भारत बायोटेक और आईसीएमआर ने मिलकर कोवैक्‍सीन नाम से बनाया है टीका
  • 3 जनवरी को ड्रग कंट्रोलर जनरल ने दी थी आपातकालीन इस्‍तेमाल की मंजूरी
  • अभी फेज 3 ट्रायल नहीं हुआ है पूरा, इसी वजह से सवाल उठा रहे नेता और एक्‍सपर्ट
  • कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने कहा- भारतीय गिनी पिग नहीं, रोलआउट गलत

नई दिल्‍ली
देश में 16 जनवरी से कोरोना वैक्‍सीन को रोलआउट करने की तैयारी है। अलग-अलग हिस्‍सों में वैक्‍सीन की खेप पहुंच रही है। इस बीच, कांग्रेस ने फिर से भारत बायोटेक की वैक्‍सीन Covaxin को आपातकालीन इस्‍तेमाल की मंजूरी दिए जाने पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने एएनआई से बातचीत में कहा कि बिना फेज 3 ट्रायल पूरा किए वैक्‍सीन को मंजूरी नहीं दी जानी चाहिए थी। तिवारी ने कहा कि ‘भारतीय गिनी पिग नहीं हैं।’ उन्‍होंने कहा कि बिना फेज 3 ट्रायल पूरा किए वैक्‍सीन को अप्रूवल देने से उसकी एफेकसी (प्रभावोत्‍पादकता) पर सवाल खड़े होते हैं।

भारतीय गिनी पिग नहीं : तिवारी
तिवारी ने कहा, “कोवैक्‍सीन को इमर्जेंसी यूज के लिए लाइसेंस दिया गया था। अब सरकार कह रही है कि आप नहीं तय करेंगे कि आपको कौन सी वैक्‍सीन दी जाएगी। जब कोवैक्‍सीन का फेज 3 ट्रायल पूरा नहीं है तो उसकी प्रभावोत्‍पादकता को लेकर काफी चिंताएं खड़ी होती हैं। सरकार कोवैक्‍सीन को तबतक रोलआउट न करे जबतक उसकी प्रभावोत्‍पादकता और विश्‍वास पूरी तरह साबित न हो जाए और फेज 3 ट्रायल पूरा न हो जाए। सरकार को इस तरह काम करना चाहिए कि लोगों में (वैक्‍सीन को लेकर) पूरा विश्‍वास हो। आप फेज 3 ट्रायल की तरह वैक्‍सीन को रोलआउट नहीं कर सकते। भारतीय गिनी पिग नहीं हैं।”

206 रुपये/डोज है कीमत
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा 206 रुपये प्रति डोज की लागत से कोवैक्‍सीन के 55 लाख टीके खरीदे गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के मुताबिक, “करों को छोड़कर, कोवैक्सीन की 38.5 लाख डोज की लागत प्रति डोज 295 रुपये है। भारत बायोटेक केंद्र सरकार को कोवैक्सीन की 16.5 लाख डोज मुफ्त दे रहा है। इसलिए, कोवैक्सीन की लागत प्रति डोज 206 रुपये आई है।”


कोवैक्‍सीन की दो करोड़ डोज बनकर हैं तैयार
कोरोना टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू हो जाएगा। शुरुआती चरणों में पहले स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्राथमिकता दी जाएगी। इसके बाद 50 साल से ज्‍यादा उम्र वाले लोगों को टीका लगाया जाएगा। फिर गंभीर बीमारियों के शिकार लोगों को वैक्‍सीन दी जाएगी। हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक के सीएमडी डॉ. कृष्णा एला के मुताबिक, उनके पास अभी दो करोड़ खुराकें बनकर तैयार है। उन्होंने अप्रूवल के अगले दिन, यानी 4 जनवरी को कहा था कि जुलाई तक कंपनी आठ करोड़ डोज बना लेगी।

Covaxin-Manish-Tewari-News

कोरोना वैक्‍सीन पर कांग्रेस सांसद के सवाल।



Source link

इसे भी पढ़ें

दुनिया में कोरोना वायरस के मामलों की संख्‍या 10 करोड़ पार, अब तक 21 लाख लोगों की मौत

वॉशिंगटन चीन के वुहान शहर से करीब एक साल पहले शुरू हुई कोरोना वायरस महामारी के विश्‍वभर में कुल मामलों की संख्‍या 10...

लड़के की जमकर हुई पिटाई

लड़का- जब तुमको मेरी 'मोहब्बत' बोझ लगे तो बता देना?लड़की - क्यों, क्या करोगे फिर...?लड़का - मैं चुपचाप दूसरी पटा लूंगा...इसके बाद लड़के...
- Advertisement -

Latest Articles

दुनिया में कोरोना वायरस के मामलों की संख्‍या 10 करोड़ पार, अब तक 21 लाख लोगों की मौत

वॉशिंगटन चीन के वुहान शहर से करीब एक साल पहले शुरू हुई कोरोना वायरस महामारी के विश्‍वभर में कुल मामलों की संख्‍या 10...

लड़के की जमकर हुई पिटाई

लड़का- जब तुमको मेरी 'मोहब्बत' बोझ लगे तो बता देना?लड़की - क्यों, क्या करोगे फिर...?लड़का - मैं चुपचाप दूसरी पटा लूंगा...इसके बाद लड़के...

पॉल स्टर्लिंग के शतक पर भारी राशिद खान, अफगानिस्तान ने आयरलैंड को हरा जीती वनडे सीरीज

अबु धाबीपॉल स्टर्लिंग (118) के धांसू शतक पर करिश्माई स्पिनर राशिद खान (48 रन और 29/4) की घातक बोलिंग भारी पड़ गई। अफगानिस्तान...

किसान प्रदर्शन के बीच लाल किले की घटना से सनी देओल दुखी , कहा- दीप सिद्धू से कोई संबंध नहीं है

गणतंत्र दिवस परेड के बीच राजधानी दिल्‍ली में अलग-अलग जगहों पर प्रदर्शनकारी किसानों और पुलिस के बीच झड़प हो गई। भारी संख्या में...