Monday, June 14, 2021

Covid Vaccination : कोविन पर ये गलती करेंगे तो हो जाएंगे ब्लॉक, अब खुद सुधार पाएंगे वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट की गलतियां

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • कोविन ऐप पर तुरंत-तुरंत वैक्सीन स्लॉट सर्च करने पर आप ब्लॉक हो जाएंगे
  • 50 से ज्यादा ओटीपी जेनरेट करने पर भी कोविन प्लैटफॉर्म आपको ब्लॉक कर देगा
  • आपने टीका लगवा लिया है और सर्टिफिकेट में गलतियां हैं तो अब खुद ही सुधार सकेंगे

नई दिल्ली
कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान को सुचारू बनाने की दिशा में प्रयास लगातार जारी हैं। इसी क्रम में एक तरफ वैक्सीन स्लॉट बुक करने को ऑटोमेट करने की कोशिश पर पाबंदी लगाई गई है तो दूसरी तरफ वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट में दर्ज गलतियां यूजर को खुद से सुधारने की सुविधा दी गई है।

कोविन पर कभी न करें ये गलतियां, ब्लॉक हो जाएंगे
अगर आपने कोविन प्लैटफॉर्म पर 24 घंटे के अंदर वैक्सीन स्लॉट के लिए 1,000 बार सर्च कर लिया या फिर 50 से ज्यादा ओटीपी जेनरेट कर ली तो आप ब्लॉक हो जाएंगे। कोविन पोर्टल को मैनेज कर रही टीम के एक अधिकारी ने हमारे सहयोगी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया (ToI) को बताया कि ऐसे यूजर अगले 24 घंटे के लिए ब्लॉक कर दिए जाएंगे। इसके साथ ही, 15 मिनट में 20 से ज्यादा बार वैक्सीन स्लॉट सर्च किए जाने पर पोर्टल अपने आप लॉग आउट हो जाएगा।

कोविन मैनेजमेंट टीम ने ये कदम वैक्सीन स्लॉट बुकिंग्स को ऑटोमेट करने के लिए बॉट्स या स्क्रिप्टस डिप्लॉयमेंट की तरकीब को रोकने के लिए उठाए हैं। एक अधिकारी ने कहा, “ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि मैनुअली स्लॉट बुक करने वालों को बॉट्स के साथ प्रतिस्पर्धा नहीं करना पड़े।” उन्होंने कहा कि एक या दो पिन कोड या फिर जिले में 15 मिनट के अंदर 20 बार सर्च करने से आशंका होती है कि कहीं ना कहीं बॉट एक्टिविटी हो रही है। इसलिए, ऐसे यूजर्स को लॉग आउट कर दिया जाता है।

Coronavirus Update: कोरोना ने मचाया हाहाकार, देश में पहली बार 24 घंटे में संक्रमण से 6148 मौतें
सर्टिफिकेट की गलतियां खुद सुधार सकेंगे टीका लेने वाले
टीका लाभार्थी अपने कोविड-19 टीकाकरण प्रमाण पत्र में हुई गलतियों को कोविन पोर्टल पर अब खुद ही ठीक कर सकते हैं। सरकार ने एक नए अपडेट की घोषणा की है जो आवेदक को टीकाकरण प्रमाण पत्र में मुद्रित नाम, जन्मतिथि और लिंग में अनजाने में हुई गलती को सुधारने की सुविधा देगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अतिरिक्त सचिव विकास शील ने बताया कि यूजर्स कोविन वेबसाइट के जरिए यह सुधार कर सकते हैं।

आरोग्य सेतु ऐप के आधिकारिक हैंडल पर एक ट्वीट किया गया, “अगर कोविन वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट में अनजाने में आपके नाम में, जन्मतिथि में और लिंग में कोई त्रुटि हुई है तो आप उन्हें ठीक कर सकते हैं। कोविन की वेबसाइटट पर जाएं और इस संबंध में अपनी समस्या बताएं।” कोविड टीकाकरण प्रमाण-पत्र यात्रा के वक्त और कई अन्य परिसरों तक जाने-आने में मदद करते हैं।

इससे पहले, सरकार ने टीका लगवा चुके लोगों को स्व-मूल्यांकन प्रक्रिया के माध्यम से आरोग्य सेतु ऐप पर अपनी स्थिति स्वेच्छा से अपडेट करने की भी अनुमति दी थी। जिन लोगों को टीके की एक खुराक लगी है उन्हें अपने होम स्क्रीन पर टीकाकरण स्थिति के सामने नीले रंग का एक टिक दिखाई देगा और दोनों खुराकें ले चुके लोगों को ऐप पर 14 दिन बाद नीले रंग के दो टिक दिखाई देंगे। यह दोनों टिक कोविन पोर्टल से टीकाकरण की स्थिति के सत्यापन के बाद नजर आएंगे। टीकाकरण की स्थिति को कोविन पर रजिस्ट्रेशन के लिए इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबर के जरिए अपडेट किया जा सकता है।

(भाषा से इनपुट के साथ)

CoWin

सांकेतिक तस्वीर।



Source link

इसे भी पढ़ें

- Advertisement -

Latest Articles

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...