Saturday, June 19, 2021

Jitin Prasad: यूपी चुनाव से पहले जितिन प्रसाद का बीजेपी में जाना कांग्रेस के लिए झटका, पायलट जैसे दूसरे नेताओं को लेकर भी अटकलों को मिली हवा

- Advertisement -


नई दिल्ली
कांग्रेस की पंजाब और राजस्थान इकाइयों में कलह के बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री जितिन प्रसाद का बीजेपी में जाना मुख्य विपक्षी पार्टी के लिए यूपी में बड़ा झटका है क्योंकि कुछ महीने बाद ही वहां विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। हालांकि, कांग्रेस का सूत्रों का कहना है कि प्रसाद का जाना झटका नहीं है, बल्कि यह ‘अवसरवादी राजनीति’ है जिसे जनता बखूबी समझती है।

हालिया पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के समय कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी रहे प्रसाद को उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के एक युवा ब्राह्मण नेता के तौर पर देखा जाता था।

सचिन पायलट और मिलिंद देवड़ा भी पकड़ेंगे जितिन की राह?
प्रसाद के जाने से एक बार फिर से कांग्रेस में कई युवा नेताओं की नाराजगी और पाला बदलने की अटकलों को हवा मिल गई है। सचिन पायलट और मिलिंद देवड़ा ऐसे नेताओं में शामिल हैं जिनकी नाराजगी की चर्चा इन दिनों हो रही है।

Jitin Prasad joins BJP: जितिन प्रसाद के बीजेपी में जाने पर बोले मल्लिकार्जुन खड़गे- जाने वाले जाते रहते हैं, हम रोक नहीं सकते
यही नहीं, प्रसाद ने ऐसे समय कांग्रेस छोड़ी है जब पार्टी की पंजाब एवं राजस्थान इकाइयों में कलह है और छत्तीसगढ़ समेत कई राज्यों की इकाइयों में गुटबाजी देखने को मिल रही है।

यूपी में कांग्रेस की रणनीति के लिए भी झटका
उत्तर प्रदेश में फरवरी-मार्च, 2022 में विधानसभा चुनाव होना है और इसमें कांग्रेस प्रियंका गांधी वाड्रा के चेहरे के साथ अपने पुराने वोटबैंक- ब्राह्मण, मुस्लिम और दलित वर्ग में फिर से पैठ बनाने की कोशिश में है। प्रसाद का जाना कांग्रेस की रणनीति के लिए भी झटका है।

Jitin Prasad News: छत्तीसगढ़ कांग्रेस का ट्वीट, जितिन प्रसाद को कांग्रेस छोड़ने के लिए कहा थैंक यू
जितिन प्रसाद के पिछले लोकसभा चुनाव से ठीक पहले भी बीजेपी में जाने की अटकलें थीं। कहा जाता है कि तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मनाने पर प्रसाद ने उस वक्त बीजेपी में जाने का फैसला बदल दिया था।

कांग्रेस के असंतुष्ट G-23 नेताओं में शामिल थे जितिन
जितिन प्रसाद उन 23 नेताओं में शामिल थे, जिन्होंने पिछले साल कांग्रेस में सक्रिय नेतृत्व और संगठनात्मक चुनाव की मांग को लेकर पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जितिन प्रसाद का किया स्वागत, कहा- वह मेरे छोटे भाई
पत्र से जुड़े विवाद को लेकर उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले की कांग्रेस कमेटी ने प्रस्ताव पारित कर जितिन प्रसाद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी, जिसे लेकर विवाद भी हुआ था। हालांकि बाद में प्रसाद ने कहा था कि उन्हें कांग्रेस के मौजूदा नेतृत्व में पूरा विश्वास है।

सोनिया गांधी को चुनौती देने वाले जितेंद्र प्रसाद के बेटे हैं जितिन
जितिन प्रसाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे जितेंद्र प्रसाद के बेटे हैं जिन्होंने पार्टी में कई अहम पदों पर अपनी सेवाएं दी थीं। उन्होंने सोनिया गांधी के खिलाफ कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव भी लड़ा था।

Jitin Prasad: यूपी चुनाव से पहले जितिन प्रसाद का बीजेपी में जाना कांग्रेस के लिए झटका, पायलट जैसे दूसरे नेताओं को लेकर भी अटकलों को मिली हवा
2004 में पहली बार बने सांसद, मनमोहन सरकार में रहे मंत्री
प्रसाद ने 2004 में शाहजहांपुर से पहली बार लोकसभा का चुनाव जीता था और उन्हें प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में इस्पात राज्यमंत्री बनाया गया था। इसके बाद उन्होंने 2009 में धौरहरा सीट से जीत दर्ज की। इसके बाद उन्होंने यूपीए सरकार में पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस, सड़क परिवहन और राजमार्ग व मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री की जिम्मेदारी संभाली।

राजीव गांधी और नरसिम्हा राव के राजनीतिक सलाहकार थे पिता, खुद HRD राज्यमंत्री रहे…जानिए, कौन हैं BJP में आए जितिन प्रसाद?
यूपी में कांग्रेस के बड़े ब्राह्मण चेहरा थे जितिन प्रसाद
उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के बड़े ब्राह्मण चेहरे के रूप में अपनी पहचान स्थापित करने वाले जितिन प्रसाद को 2014 के लोकसभा चुनाव में हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद उन्होंने पिछले विधानसभा चुनाव में तिलहर सीट से हाथ आजमाया लेकिन इसमें भी उन्हें निराशा ही मिली।

Jitin Prasad News: जब जितिन प्रसाद के पिता जितेंद्र प्रसाद ने सोनिया गांधी को दी थी चुनौती, पढ़ें पूरा किस्सा
2014, 2019 के चुनाव में मिली थी हार
वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में भी धौरहरा सीट से वह हार गए थे। उन्हें कुछ महीने पहले पश्चिम बंगाल के लिए कांग्रेस प्रभारी बनाया गया था। वहां राज्य विधानसभा चुनाव में कांग्रेस और वाम दलों के गठबंधन को करारी हार का सामना करना पड़ा। कांग्रेस एक भी सीट जीतने में सफल नहीं हुई।

jitin-prasad-joins-bjp



Source link

इसे भी पढ़ें

दोस्त तालिबान के खातिर अमेरिका की गुलामी से इमरान खान का इनकार, CIA को नहीं बनाने देंगे किलर ड्रोन का अड्डा

हाइलाइट्स:अमेरिका को पाकिस्तान में सैन्य अड्डा देने से इमरान का साफ इनकारतालिबान के साथ पाकिस्तान के दोस्ताना संबंधों के कारण लिया फैसलाअफगानिस्तान में...
- Advertisement -

Latest Articles

दोस्त तालिबान के खातिर अमेरिका की गुलामी से इमरान खान का इनकार, CIA को नहीं बनाने देंगे किलर ड्रोन का अड्डा

हाइलाइट्स:अमेरिका को पाकिस्तान में सैन्य अड्डा देने से इमरान का साफ इनकारतालिबान के साथ पाकिस्तान के दोस्ताना संबंधों के कारण लिया फैसलाअफगानिस्तान में...

सस्ता और अच्छा! Samsung के 3 धांसू 5G स्मार्टफोन लॉन्च होने वाले हैं, देख लें मॉडल और फीचर्स

हाइलाइट्स:भारत में बजट 5जी फोन की बंपर बिक्रीसैमसंग की मार्केट पर पकड़ बढ़ाने की कोशिशकम दाम में ज्यादा फीचर्स से लैस होंगे ये...