Saturday, June 19, 2021

Jitin Prasad News : पहले सिंधिया और अब जितिन भी खिसक गए, राहुल की ‘चौकड़ी’ में बचे बस दो नाम

- Advertisement -


नई दिल्ली
कांग्रेस में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है, आज एक बार फिर यह बात सामने निकल कर आ गई। जितिन प्रसाद ने कांग्रेस का हाथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया। यूपी चुनाव से पहले कांग्रेस के लिए यह एक झटका है, साथ ही राहुल गांधी के लिए भी यह बहुत परेशान करने वाली खबर है। जो चार नेता सालों से राहुल के करीबी माने जाते रहे हैं, उनमें अब दो पार्टी छोड़कर जा चुके हैं। राहुल गांधी जब कांग्रेस अध्यक्ष बने थे तब इन्हीं चारों नेता उनके सबसे करीब थे और इनकी चर्चा भी खूब हुआ करती थी।

कांग्रेस से भी बड़ा राहुल गांधी को झटका

ज्योतिरादित्य सिंधिया, जितिन प्रसाद, सचिन पायलट और मिलिंद देवड़ा- ये वो चार नाम हैं जो सालों तक राहुल गांधी के करीबी रहे। राहुल गांधी की युवा टीम को लेकर जब भी चर्चा होती, इनका जिक्र जरूर आता। संसद के भीतर और बाहर भी, कई मौकों पर ये साथ ही देखे जाते थे। इस चौकड़ी में अब दो ही राहुल गांधी के साथ बचे हैं। बड़ा सवाल यह है कि ये दोनों भी राहुल का साथ कब तक दे पाएंगे क्योंकि भीमकाय होती बीजेपी के सामने पस्त पड़ी कांग्रेस में नई जान फूंकने की आस पर बार-बार पानी फेरा जा रहा है और नए कांग्रेस अध्यक्ष का चुनाव कोई ना कोई बहाने टाल दिया जा रहा है।

Jitin Prasad News: 2019 में प्रियंका की कॉल पर रास्ते से लौट आए थे जितिन प्रसाद, अब यूपी चुनाव से पहले थाम लिया बीजेपी का हाथ
चौकड़ी में बचे दो साथी, वो भी नाराज
पिछले साल राजस्थान में क्या कुछ हुआ, यह सबने देखा। यह झगड़ा अब भी खत्म नहीं हुआ है। पिछले साल जो अंदरखाने आग लगी थी, उसका धुआं अब तक छंटता नहीं दिख रहा है। राजस्थान में अपने ही मुख्यमंत्री के खिलाफ बागी हुए सचिन पायलट काफी मशक्कत के बाद पार्टी के साथ बने तो रह गए, लेकिन उनकी नाराजगी कम नहीं हुई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच क्या चल रहा है, यह बात शायद ही किसी से छिपी हो। कांग्रेस आलाकमान की ओर से लाख कोशिशों के बावजूद भी मामला पूरी तरह शांत नहीं हुआ है और सचिन पायलट बार-बार अलग-अलग तरीके से अपनी नाराजगी जाहिर करते रहे हैं।

जितिन प्रसाद भी हुए कांग्रेस से अलग

तमतमाए दिख रहे हैं देवड़ा
राहुल गांधी के करीबियों में जो दूसरा नाम बच गया है, वो है मिलिंद देवड़ा का। देवड़ा के पिछले कुछ बयानों पर गौर किया जाए तो इस आशंका को नकारना कठिन हो जाएगा कि हो ना हो, वो भी राहुल को अंगूठा दिखा दें। भारत-चीन मसले पर राहुल गांधी के रुख पर सवाल उठाना हो या महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपीके साथ गठबंधन की सरकार को लेकर दिया गया बयान हो, देवड़ा अंदर से तमतमाए जान पड़ते हैं।

Jitin Prasad in BJP: राहुल के करीबी जितिन प्रसाद ने छोड़ा ‘हाथ’ का साथ, बीजेपी में हुए शामिल, कांग्रेस को अलविदा कहने के पीछे बताई यह वजह
राहुल की बढ़ेगी चुनौती
कांग्रेस के लिए मौजूदा समय काफी चुनौतियों भरा है। ऐसे वक्त में जब पार्टी अपने लिए अगला अध्यक्ष नहीं तय कर पा रही है तब एक-एक करके युवा नेताओं का विरोधी खेमे में चले जाना, संकट को कई गुना बढ़ाने का सबब बन रहा है। राजस्थान में जीत के बाद भी सचिन पायलट को हाशिए पर ढकेल दिया गया तो दूसरी ओर कमलनाथ सरकार बनने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी पार्टी के अंदर प्रतिष्ठा प्राप्त करने का इंतजार करते रह गए। नतीजा यह हुआ कि ज्योतिरादित्य ने कमल थाम लिया और मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सत्ता चली गई।

पायलट ने 10 महीने बाद तोड़ी चुप्पी, कहा- आधा कार्यकाल पूरा हो चुका है लेकिन मुद्दे अब भी अनसुलझे
राजस्थान में सचिन पायलट की नाराजगी के बाद वहां की सरकार भी हिल गई। कांग्रेस का एक धड़ा पहले से ही नाराज है तो वहीं दूसरी ओर राहुल गांधी के ही करीबी नेता पार्टी छोड़ रहे हैं। ऐसे में सिर्फ कांग्रेस के लिए ही नहीं राहुल गांधी के लिए भी चुनौती और बढ़ जाएगी।



Source link

इसे भी पढ़ें

- Advertisement -

Latest Articles

जेनिफर विंगेट के हॉट और बोल्ड अवतार का तहलका, फैन्स बोले- खूबसूरती से ही मार डालोगी

टीवी शो 'बेहद' (Beyhadh) में माया का किरदार निभाने वालीं जेनिफर विंगेट (Jennifer Winget latest photoshoot) अपने एक लेटेस्ट फोटोशूट को लेकर चर्चा...

50 लाख पार! बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया की धमाकेदार एंट्री, प्लेयर्स को मिल रहा शानदार रिवॉर्ड

हाइलाइट्स:बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया का मिला अर्ली एक्सेस50 लाख पार हुए डाउनलोड्सप्लेयर्स को मिल रहे रिवॉर्ड्सप्लेयर्स को मिल रहे रिवॉर्ड्सनई दिल्ली। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया...