Sunday, August 1, 2021

Parliament Monsoon Session: सरकार का कई विधेयक पारित कराने का प्लान, कोरोना, महंगाई और किसानों के मुद्दे पर घेरेगा विपक्ष

- Advertisement -


हाइलाइट्स

  • संसद का मॉनसून सत्र सोमवार यानी आज से शुरू होने वाला है
  • 17 नए विधेयकों को पेश करने के लिए तैयार है सरकार
  • कोरोना, महंगाई और किसान जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

नई दिल्ली
सरकार सोमवार यानि आज से शुरू हो रहे संसद के मानसून सत्र के दौरान कई विधेयकों को पारित कराने के एजेंडे के साथ सदन में जाएगी। वहीं, विपक्ष भी कोविड-19 की दूसरी लहर से निपटने के तरीके, ईंधन की कीमतों में वृद्धि और किसान आंदोलन के मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी कर रहा है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को सर्वदलीय बैठक में कहा कि सरकार संसद में विभिन्न मुद्दों पर उपयोगी चर्चा करने के पक्ष में है। बाद में जारी आधिकारिक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री ने सदन में विभिन्न दलों के नेताओं से कहा कि देश की स्वस्थ लोकतंत्र की परंपरा, लोगों से जुड़े मुद्दों को सौहार्दपूर्ण तरीके से उठाया जाना चाहिए और सरकार को इन चर्चाओं पर प्रतिक्रिया देने का विकल्प देना चाहिए।

पीएम मोदी बोले-सौहार्दपूर्ण वातावरण सबकी जिम्मेदारी
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ऐसा सौहार्दपूर्ण वातावरण तैयार करना सबकी जिम्मेदारी है और जनप्रतिनिधियों को जमीनी स्तर की जानकारी होती है, इसलिए ऐसी चर्चाओं और निर्णय लेने की प्रक्रिया में उनकी भागीदारी उसे समृद्ध बनाती है। सरकार को घेरने की अपनी रणनीति के तहत कई विपक्षी दल किसानों के मुद्दे को लेकर सोमवार को संसद के दोनों सदनों में स्थगन प्रस्ताव लाने की योजना बना रहे हैं। सरकार द्वारा आहूत सर्वदलीय बैठक के बाद विपक्षी दलों ने संसद में रणनीति पर चर्चा के लिए अलग से बैठकें कीं।

Monsson Session News: सर्वदलीय बैठक में बोले पीएम मोदी, संसद में विभिन्न मुद्दों पर स्वस्थ चर्चा को तैयार है सरकार
स्थगन नोटिस की तैयारी में विपक्षी पार्टियां
विपक्षी दल की बैठक के बाद आरएसपी नेता एन. के. प्रेमचन्द्रन ने बताया कि विभिन्न विपक्षी पार्टियां किसानों के मुद्दे पर संसद के दोनों सदनों में स्थगन प्रस्ताव लाएंगी। विपक्षी दलों की बैठक में कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा), मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा), आईयूएमएल, आरएसपी, शिवसेना और आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं ने हिस्सा लिया। किसान यूनियन पिछले साल नवंबर से दिल्ली की सीमाओं पर केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में और अपनी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) की कानूनी गारंटी मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

Monsoon Session: संसद सत्र से पहले पीयूष गोयल ने की विपक्षी नेताओं से मुलाकात
बैठक में 33 पार्टियों के 40 से ज्यादा नेताओं ने लिया हिस्सा
सर्वदलीय बैठक में कुल 33 पार्टियों के नेताओं ने हिस्सा लिया। तृणमूल कांग्रेस और माकपा सहित अन्य दलों के नेताओं ने कहा कि अगर महामारी और उससे जुड़े मुद्दों पर सदन में चर्चा होगी, तो ऐसे में बाहर जाने की जरुरत क्या होगी। सौंद संसद भवन परिवर में एक अगल भवन है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने बैठक में कहा कि प्रधानमंत्री मोदी 20 जुलाई को संसद के दोनों सदनों… राज्यसभा और लोकसभा… के सदस्यों को महामारी के मुद्दे पर संबोधित करेंगे।

बैठक में मौजूद तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ’ब्रायन ने कहा, ‘संसद के बाहर जाने की जरुरत क्या है? कोई भी चर्चा सदन में होनी चाहिए।’ अन्य विपक्षी दलों के सूत्रों ने पुष्टि की है कि जोशी की पेशकश को खारिज कर दिया गया है और कुछ ने तो संसद के सेंट्रल हॉल में संयुक्त बैठक बुलाने की भी बात की है।

दिल्ली में वायु प्रदूषण से मानव तस्करी तक, संसद के मॉनसून सत्र में ये 30 विधेयक पास करवाना चाहेगी सरकार
17 नये विधेयकों को पेश करने के लिए तैयार है सरकार
सरकार ने इस सत्र के दौरान 17 नये विधेयकों को पेश करने के लिए सूचीबद्ध किया है। इनमें से तीन विधेयक हाल में जारी अध्यादेशों के स्थान पर लाए जाएंगे। इनमें से एक अध्यादेश 30 जून को जारी किया गया था जिसके जरिये रक्षा सेवाओं में शामिल किसी के विरोध प्रदर्शन या हड़ताल में शामिल होने पर रोक लगाई गई है। आवश्यक रक्षा सेवा अध्यादेश 2021 आयुध फैक्टरी बोर्ड (ओएफबी) के प्रमुख संघों द्वारा जुलाई के अंत में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी देने की पृष्ठभूमि में लाया गया है।

संबंधित संघ ओएफबी के निगमीकरण के सरकार के फैसले का विरोध कर रहे हैं। लोकसभा द्वारा 12 जुलाई को जारी बुलेटिन के मुताबिक अध्यादेश का स्थान लेने के लिए आवश्यक रक्षा सेवा विधेयक 2021 को सूचीबद्ध किया गया है। वहीं, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और इससे सटे इलाकों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन के लिए आयोग-2021 अन्य विधेयक है जो अध्यादेश की जगह लाया जाएगा।

Farmers Protest: किसानों ने विपक्षी सांसदों को ‘मतदाता विप’ जारी किया, कहा- सदन में दर्ज कराएं जबरदस्त विरोध
कोरोना, महंगाई जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष
वहीं, विपक्ष कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान स्वास्थ्य सेवाओं की कथित कमी और राज्यों को टीके के वितरण के मुद्दे पर सरकार को घेरने की तैयारी कर रहा है। विपक्ष पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि को लेकर भी सरकार से जवाब मांगेगा। संसद का मानसून सत्र 13 अगस्त तक चलेगा।

बुलेटिन में सूचीबद्ध वित्तीय विषयों में वर्ष 2021-22 के लिए अनपूरक मांग और अनुदान पर चर्चा एवं मतविभाजन शामिल है। उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने शनिवार को संसद सदस्यों से अपील की कि महामारी के बीच वे लोगों के साथ खड़े हों और सदन में जनता से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करें।

फाइल फोटो

फाइल फोटो



Source link

इसे भी पढ़ें

जुलाई में लॉन्च हुए OnePlus Nord 2, Oppo Reno 6 5G, Redmi Note 10T 5G जैसे दमदार स्मार्टफोन, देखें पूरी लिस्ट

नई दिल्लीदेश और दुनिया की जानी-मानी स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां एक से बढ़कर एक स्मार्टफोन की पेशकश करती रहती हैं। अगर आप अपने लिए...

शिल्पा शेट्टी के सपोर्ट में ऋचा चड्ढा, बोलीं- आदमी की गलती पर औरत को दोष देना बंद करें

पोर्नोग्राफी केस (Pornography Case) में जब से बॉलिवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति और बिजनसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) को मुंबई...
- Advertisement -

Latest Articles

जुलाई में लॉन्च हुए OnePlus Nord 2, Oppo Reno 6 5G, Redmi Note 10T 5G जैसे दमदार स्मार्टफोन, देखें पूरी लिस्ट

नई दिल्लीदेश और दुनिया की जानी-मानी स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां एक से बढ़कर एक स्मार्टफोन की पेशकश करती रहती हैं। अगर आप अपने लिए...

शिल्पा शेट्टी के सपोर्ट में ऋचा चड्ढा, बोलीं- आदमी की गलती पर औरत को दोष देना बंद करें

पोर्नोग्राफी केस (Pornography Case) में जब से बॉलिवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के पति और बिजनसमैन राज कुंद्रा (Raj Kundra) को मुंबई...