Thursday, August 5, 2021

Rashi Parivartan of Mars 2021: मिथुन राशि वाले गजब के शक्तिशाली होकर उभरेंगे, तो मीन राशि वाले बनेंगे शत्रु हन्ता

- Advertisement -


हिंदू नववर्ष के राजा व मंत्री मंगल एक बार फिर राशि परिवर्तन कर रहे हैं। जिसका प्रभाव सभी 12 राशियों पर काफी गहरा देखने को मिलेगा। एक ओर जहां अपने इस परिवर्तन से मंगल मिथुन राशि वालों के पराक्रम में इजाफा करेंगे। वहीं मीन राशि वालों के शत्रुओं का दमन करते हुए उन्हें रोगों से भी मुक्ति दिलवाएंगे।

दरअसल 2021 के जुलाई में सबसे खतरनाक व खास बदलाव 20 जुलाई की शाम का माना जा रहा है। इसका कारण यह है कि इसी दिन ग्रहों के राजा सूर्य के आधिपत्य वाली राशि सिंह में देवसेनापति मंगल प्रवेश करेंगे।

जहां उनकी मुलाकात दैत्यगुरु शुक्र से होगी जो उनके सिंह राशि में प्रवेश से 3 दिन पहले ही इस राशि में प्रवेश कर चुके हैं। ऐसे में करीब 22 दिनों तक शुक्र व मंगल की युति सूर्य की राशि सिंह में रहेगी। जो किसी भी स्थिति में उचित नहीं कही जा सकती।

Must read- हनुमान जी के वे प्रसिद्ध मंदिर जहां आज भी होते हैं चमत्कार

जुलाई 2021 में होने वाले इस मंगल ग्रह के गोचर की बात करें तो, सिंह राशि में मंगल 20 जुलाई 2021 को शाम को 05 बजकर 21 पर प्रवेश करेगा। और इसके बाद लगातार करीब डेढ़ माह तक यहीं रहने के बाद मंगल यहां से 06 सितंबर को सुबह 3.21 बजे कन्या राशि में प्रवेश कर जाएगा।

वहीं इस समय तक जहां शुक्र अपना स्थान बदल चुके होंगे, और सूर्य भी अपने स्वामित्व वाली इसी सिंह राशि में आ चुके होंगे।

1. मेष राशि:
आपकी ही राशि के स्वामी मंगल इस समय आपकी राशि से पंचम भाव यानि बुद्धि व पुत्र के भाव में गोचर करेंगे। इस दौरान आपके द्वारा लिए गए फैसले काफी मजबूत व दूरगामी परिणामों वाले होंगे। वहीं इस समय आपको छोटी छोटी बातों पर जल्द गुस्सा आ सकता है।

आर्थिक दृष्टिकोण से यह समय आपके लिए अच्छा साबित हो सकता है, इस समय आपको अप्रत्याशित या अचानक लाभ की संभावनाएं है। छात्रों के लिए यह एक अनुकूल अवधि होगी (खासकर मेडिकल से जुड़े) और वे बेहतर प्रदर्शन कर पाएंगे।

Must read- Indian astrology: अंगुलियों के 20 पोरों से जाने अपना भविष्य, ये हैं सबसे ताकतवर निशान

Indian vedic astrology

स्वास्थ्य की दृष्टि से इस समय पेट से संबंधित रोग उभर सकते हैं। ऐसे में बहुत गर्म और मसालेदार भोजन से बचें। इसके अलावा प्रेमियों के लिए भी ये समय परेशानी वाला रह सकता है। इस समय आपकी तीव्र भावनाओं सहित कुछ आदतें आपके प्रेमी को परेशान कर सकती हैं, जिससे तनाव हो सकता है। इस समय पुत्र से किसी बात को लेकर कुछ मतभेद भी हो सकते हैं।

इस दौरान सड़क पर अत्यंत सावधानी रखनी होगी चाहे आप पैदल ही क्यों न चल रहे हों। इसके साथ ही वाहन चलाते समय अत्यंत सावधानी बरतनी होगी, इसका कारण यह है कि इस समय मंगल की चतुर्थ दृष्टि आपके आठवें भाव पर होगी, जिससे आपको दुर्घटनाओं का खतरा होगा।

उपाय- प्रति दिन रामरक्षास्त्रोत का पाठ करें।

2. वृषभ राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से चतुर्थ भाव यानि सुख व माता के भाव में गोचर करेंगे। निवेश की दृष्टि से यह समय आपके लिए अच्छा रहने की उम्मीद है। लेकिन इस समय माता के स्वास्थ्य का खास ख्याल रखना होगा।

व्यवसाय में भी इस समय आपके हाथ किसी अच्छे सौदे के लगने की उम्मीद है। भले ही नौकरी पेशा लोगों का जीवन इस दौरान संतुलित रहेगा, लेकिन उनका आर्थिक जीवन इस समय बहुत अच्छा नहीं कहा जा सकता। उनकी आय तो अच्छी होगी लेकिन, अधिकांश पैसा स्वास्थ्य पर खर्च होता दिख रहा है। वहीं मंगल से जुड़े पेशों जैसे प्रशासन, सेना,इंजीनियरिंग से जुड़े जातक इस समय उन्नति कर सकते हैं।

वहीं इस दौरान विवाहित जातकों के जीवन में कुछ दिक्कतें पेश आ सकती हैं। इस समय संपत्ति को बेचने में आपके हाथ अच्छा सौदा भी आने की संभावना है।

उपाय- हर रोज हनुमान चालीसा का पाठ करें।

3. मिथुन राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से तृतीय भाव यानि पराक्रम के भाव में गोचर करेंगे। यह स्थिति आपको गजब शक्तिशाली बना कर सामने लाएगी। इस समय आप खुद में हर कार्य को पूरा करने के लिए साहस और शक्ति महसूस करेंगे। वहीं इस दौरान आपकी अपने छोटे भाई बहनों से कुछ अनबन भी हो सकती है।

स्थानांतरण चाहने वालों के लिए ये समय अनुकूल रहेगा। आप छोटी बड़ी यात्राएं भी इस समय कर सकते हैं। साथ ही इस समय नौकरी में बदलाव चाहने वालों को अच्छे प्रस्ताव मिल सकते हैं। मंगल के पराक्रम भाव में होने से आपकी गतिशीलता व कार्यकौशल आपकी साक्षात्कार के दौरान मदद करेगा।

उपाय- हनुमान जी को मंगलवार के दिन सिंदूर और लाल कपड़ा अर्पित करें।

4. कर्क राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से द्वितीय भाव यानि धन व वाणी के भाव में गोचर करेंगे। यह समय जहां धन को लेकर अच्छा रहने की संभावना है, वहीं इस दौरान आपको बोलते समय शब्दों का खास चयन करना होगा।

Must read– Hindu Calendar: कौन सा माह है किस देवी या देवता का? ऐसे समझें

month_wise_devi_and_devta

इस अवधि में किस्मत के चलते आप कई स्थानों पर कम मेहनत से भी अपने प्रयासों में सफलता प्राप्त कर पाएंगे।

एक ओर जहां ये समय विद्यार्थियों के लिए अनुकूल दिख रहा है। वहीं नौकरी पेशा लोगों के लिए भी यह समय शुभ रहेगा। जहां इस दौरान कुछ जातक अपने पेशे में बदलाव कर सकते हैं वहीं अच्छे अवसर लेकर आ रहे इस समय में आप अपने कौशल की मदद से काफी धन कमा सकते हैं। वहीं व्यवसायी वर्ग के वह लोग जो अपना पुश्तैनी व्यवसाय कर रहे हैं, इस समय उन्हें भी कइ लाभदायक सौदे मिलने की संभावना है।

वहीं इस समय आपकी वाणी में आक्रमकता और रुखापन मां को तनाव में ला सकता है। जिससे घर में टकराव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

उपाय- श्री गणेश की पूजा करें।

5. सिंह राशि
इस समय मंगल आपकी ही राशि में मतलब प्रथम भाव यानि लग्न के भाव में गोचर करेंगे। इसके चलते यह परिवर्तन सबसे अधिक आपकी राशि को ही प्रभावित करेगा। एक ओर जहां ये समय आपके आत्मविश्वास में वृद्धि करेगा वहीं इस समय आपको अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा।

नौकरी पेशा लोगों में इस समय सरकारी नौकरी कर रहे लोगों को खास सफलता मिली दिख रही है। वहीं विवाहितों को कुछ गलतफहमियों के चलते तनाव का समाना करना पड़ सकता है। वहीं तनाव के कारण सिरदर्द की समस्या हो सकती है, जबकि कुछ जातकों को इस दौरान एसीडिटी की समस्या से जुझना पड़ सकता है।

Must Read- लुप्त हो जाएगा आठवां बैकुंठ बद्रीनाथ : जानिये कब और कैसे! फिर यहां होगा भविष्य बद्री…

athwa bekunth

इस दौरान दृढ़ इच्छा-शक्ति के चलते आप कई कठिन कार्य अपनी मेहनत से पूरा कर लेंगे। इस समय आप सुख और समृद्धि वाली जीवन शैली की ओर अग्रसर होते दिख रहे हैं। उचित होगा इस समय आप अपने आत्मविश्वास को अहंकार रूपी अतिआत्मविश्वास से बचा कर रखें। वहीं इसी भाव में इस समय शुक्र का भी होना आपको मानसिक तनाव भी प्रदान कर सकता है।

उपाय- प्रतिदिन सूर्य को अर्घ्य दें।

6. कन्या राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से द्वादश भाव यानि व्यय के भाव में गोचर करेंगे। यह समय आपके लिए मिश्रित फलदायी रहने की उम्मीद है। इस दौरान आपको अपने फालतू के खर्चों पर अंकूश लगाना होगा।
इस समय कुछ अप्रत्याशित खर्चे आपकी वित्तीय स्थिति को अस्थिर बना सकते हैं। साथ ही विदेश जाने के लिए यह समय उचित नहीं है। यहां तक की विदेशों से व्यवसाय करने वालों को भी इस समय परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

विवाहित जातकों में इस दौरान कुछ मुद्दों पर टकराव की स्थिति बन सकती है। वहीं नौकरी पेशा व कारोबारियों के लिए यह समय आर्थिक लाभ का रहने की संभावना है। लेकिन इस समय तनाव की अधिकता आपकी रातों की नींद उड़ा सकती है। इस समय आपको कहीं भी आते जाते समय खास सतर्कता रखनी होगी, अन्यथा दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं। इस दौरान आपको कई स्त्रोतों से धन प्राप्त होने की उम्मीद भी है। इस समय आप अपनी कोशिशों के बदले प्रसिद्धि पा सकते हैं, जिससे समाज में आपका कद बढ़ सकता है।

उपाय- मां दुर्गा की पूजा करें।

7. तुला राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से एकादश भाव यानि आय के भाव में गोचर करेंगे। ध्यान रहे ग्यारहवें घर में बैठे मंगल की चतुर्थ दृष्टि आपके वाणी के द्वितीय भाव पर होगी इसलिए इस दौरान अपनी वाणी में संयम रखें, अन्यथा किसी के दिल को चोट पहुंच सकती है।

इस समय परिवार और दोस्तों का भी साथ मिलेगा। जो लोग प्रेम संबंधों में हैं वह इस समय कई बातों को लेकर उलझ सकते हैं।

मंगल के आय भाव में होने के चलते जहां इस समय आप धन संचय करने में भी सफल हों सकते हैं। वहीं इस दौरान आपको कड़ी मेहनत ही सफलता का स्वाद चखाएगी। साथ ही मंगल ही इस समय आपको मजबूत इच्छाशक्ति प्रदान करेगा, जिससे आप चुनौतीपूर्ण कार्यों को आसानी से पूरा कर पाएंगे।

उपाय- भगवान शंकर की हर रोज पूजा करें व उन्हें जल चढ़ाएं।

8. वृश्चिक राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से दशम भाव यानि कर्म व पिता के भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपकी प्रबंधन क्षमताओं को सराहा जाएगा। वहीं नियम के अनुसार चलने पर समाज मेें आपको सम्मान भी प्राप्त हो सकता है।

वहीं सरकारी नौकरी में कार्यरत जातको को यह समय खास सफलता दिलाता दिख रहा है, लेकिन उन्हें इस समय नियमों का खास ध्यान रखना होगा। नौकरी पेशा लोग इस समय कार्यालय की राजनीति में न उलझें, वरना यह आपकी प्रगति में बाधा बन सकती है। इस समय आपके आत्मविश्वास से भरे रहने के चलते आपका व्यक्तित्व मजबूत रहेगा। वहीं इस गोचर के दौरान आपको अपनी माता की सेहत का ख्याल रखना होगा।

उपाय- हनुमान जी की हर रोज पूजा करें।

9. धनु राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से नवम भाव यानि भाग्य के भाव में गोचर करेंगे। इस दौरान अपने पिता और गुरुओं के साथ अपने संबंधों में कुछ जटिलताओं का सामना कर सकते हैं।

Must read- Panchak 2021: साल 2021 के कैलेंडर में में कब-कब आएगा ‘पंचक’

panchak in 2021

इस समय यात्राओं की संभावना के बीच अपने साथी के साथ गर्मजोशी भरा समय बिताएंगे। इस समय आपको भाग्य का शानदार साथ मिलने की भी उम्मीद है। जिसके चलते आपके कई पूराने सपने पूरे हो सकते है। धन के मामले में ये समय अन्य की अपेक्षा आपके लिए कुछ बेहतर रहेगा। यह समय मुख्य रूप से विद्वानों और शिक्षकों के लिए अनुकूल रहने की संभावना है। शत्रु इस समय शांत रहेंगे।

उपाय- घर से निकलते समय माता, पिता और बड़ों से आशीर्वाद अवश्य लें।

10. मकर राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से अष्टम भाव यानि आयु के भाव में गोचर करेंगे। यह गोचर आपके लिए शुभ नहीं कहा जा सकता। इस समय आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति खास सचेत रहना होगा। इसके अलावा इस समय उंचाई से व वाहन चलते समय भी खास सतर्क रहना होगा।

इस दौरान आपकी आय में अचानक वृद्धि की संभावना है। वहीं इस समय कुछ गलतफहमियों के चलते आपको पारिवारिक जीवन में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समय अपनी योजनाओं को गुप्त रखें, अन्यथा इसका लाभ शत्रु भी उठाकर आपका नुकसान कर सकते हैं।

इस समय आपको किसी भी तरह के विवाद से बचना होगा साथ ही किसी नए दोस्त पर ज्यादा विश्वास करना घातक सिद्ध हो सकता है। साथ ही उचित होगा इस समय किसी वाहन को खरीदने की योजना को आगे बढ़ा लें।

उपाय- मंगलवार के दिन हनुमान जी के बजरंगबाण का पाठ करें।

11. कुंभ राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से सप्तम भाव यानि विवाह भाव में गोचर करेंगे। इस अवधि के दौरान आप ऊर्जा और गतिशीलता के साथ आगे बढ़ेंगे, और कम समय में अपने बहुत से कार्यों को पूरा करेंगे।

Must read- Hindu Panchang : जानिए ऐसे व्रत-पर्व जो हिंदू पंचांग के हर महीने आते हैं…

hindu calendar

वहीं इस समय मंगल के आपके सप्तम भाव में होने के कारण इस समय विवाहित जातकों अत्यंत सतर्क रहना होगा, अन्यथा ये समय आपके लिए परेशानियों का कारण बन सकता है। उचित होगा इस दौरान आप शांत रहते हुए क्रोध करने से बचें।

इस समय आप कई यात्रा कर सकते हैं, ये यात्राएं आपको भविष्य में लाभ देंगी। वहीं इस दौरान व्यवसायी ग्राहकों के दिल को जीत पाने में सक्षम होंगे। साथ ही उद्योग में फैलाव कर आप अपने संबंधित उद्योग में प्रतिष्ठा प्राप्त कर सकते हैं। आप इस दौरान अपने दोस्त और परिचितों की मदद भी ले सकते हैं, जिससे आपको और बल मिलेगा।

उपाय- मंगलवार और शनिवार को “बजरंगबाण” का पाठ करें।

12. मीन राशि
इस समय मंगल आपकी राशि से छठे भाव यानि शत्रु व रोग भाव में गोचर करेंगे। जिसके चलते यह समय आपके शत्रुओं के लिए काफी त्रास्दीपूर्ण रहने की संभावना है। इस समय शत्रुओं पर विजय प्राप्त करने के अलाव आपके व्यवहार में इस समय मजबूती देखी जाएगी।

यह समय आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आता दिख रहा है। आप इस दौरान संघर्ष और कड़ी मेहनत के बाद सफलता प्राप्त कर पाएंगे। वहीं इस समय कुछ अप्रत्याशित खर्चों के चलते आपकी आर्थिक स्थिति असंतुलित हो सकती है। साथ ही आपको इस समय अपने स्वास्थ्य पर भी खास ध्यान देना होगा।

इस समय आपका अपने भाई के साथ तनाव हो सकता है। ऐसे में यह समय आपके लिए थोड़ा कठिन हो सकता है। मंगल से जुड़े कार्य करने वाले जातकों को इस समय आसानी से सफलता प्राप्त हो सकती है।

उपाय- हर रोज हनुमानचालीसा का पाठ करें।






Source link

इसे भी पढ़ें

Today Olympic Schedule: एक गोल्ड समेत दांव पर चार मेडल, ऐसा है पांच अगस्त को भारत का कार्यक्रम

तोक्योओलिंपिक में चार अगस्त यानी बुधवार का दिन भारतीय दल के लिए थोड़ी खुशी थोड़ा गम जैसा रहा। मगर गुरुवार को एक नहीं...

पाकिस्तान में कट्टरपंथियों ने एक और मंदिर को तोड़ा, फेसबुक लाइव कर शेयर किया वीडियो

इस्लामाबादपाकिस्तान के पंजाब सूबे में कट्टरपंथियों ने हिंदुओं के एक और मंदिर को तोड़ दिया है। दिन के उजाले में मंदिर के ऊपर...
- Advertisement -

Latest Articles

Today Olympic Schedule: एक गोल्ड समेत दांव पर चार मेडल, ऐसा है पांच अगस्त को भारत का कार्यक्रम

तोक्योओलिंपिक में चार अगस्त यानी बुधवार का दिन भारतीय दल के लिए थोड़ी खुशी थोड़ा गम जैसा रहा। मगर गुरुवार को एक नहीं...

पाकिस्तान में कट्टरपंथियों ने एक और मंदिर को तोड़ा, फेसबुक लाइव कर शेयर किया वीडियो

इस्लामाबादपाकिस्तान के पंजाब सूबे में कट्टरपंथियों ने हिंदुओं के एक और मंदिर को तोड़ दिया है। दिन के उजाले में मंदिर के ऊपर...

क्या होता है ‘Win By Fall’? जिसके दम पर रवि दहिया ने विपक्षी पहलवान को चटाई धूल

तोक्योभारत के पहलवान रवि कुमार दहिया तोक्यो ओलिंपिक में कुश्ती के पुरुष फ्रीस्टाइल 57 किग्रा भार वर्ग के सेमीफाइनल मुकाबले में कजाखस्तान के...

IND vs ENG Day-1 Highlights: इंग्लैंड की पहली पारी 183 पर ढेर, पहले दिन बुमराह-शमी छाए रहे

नॉटिंघमजसप्रीत बुमराह ने अपनी खोयी लय हासिल की जबकि मोहम्मद शमी ने अपनी गेंदबाजी में पैनापन दिखाया जिससे भारत ने पहले टेस्ट क्रिकेट...