Monday, June 14, 2021

आपके फायदे की बात: बच्चों के इलाज और ट्यूशन फीस पर हुए खर्च पर भी ले सकते हैं टैक्स छूट का फायदा, यहां जानें इसको लेकर क्या हैं नियम

- Advertisement -


  • Hindi News
  • Business
  • Income Tax Benefits And Latest Rules; Children Treatment And Education Allowance And Tuition School Fees

नई दिल्ली22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

2020-21 के लिए इनकम टैक्स भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। ऐसे में अगर आप भी इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का विचार बना रहे हैं तो आपको इस बात की पूरी और सही जानकारी होनी चाहिए कि आप किन खर्चों या निवेश पर टैक्स छूट का लाभ ले सकते हैं। आप अपने बच्चे के ट्यूशन फीस या उसके इलाज के खर्च सहित उस पर किए गए कई अन्य खर्चों पर भी टैक्स छूट के लिए क्लेम कर सकते हैं।

आज हम आपको बच्चों पर किए गए ऐसे ही खर्चों के बारे में बता रहे हैं जिन पर आप छूट ले सकते हैं…

दो बच्चों की ट्यूशन फीस पर राहत
आप दो बच्चों के लिए स्कूल/कॉलेज की ट्यूशन फीस पर सेक्शन 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स बेनिफिट ले सकते हैं। यदि आपके दो से अधिक बच्चे हैं, तो आप किसी भी दो बच्चे के लिए यह दावा कर सकते हैं। इसके लिए शर्त यह है कि भारत में स्थित विश्वविद्यालय, कॉलेज, स्कूल या अन्य शैक्षणिक संस्थान को फीस का भुगतान किया जाना चाहिए। टैक्स में राहत केवल फुल टाइम एजुकेशन के लिए ही उपलब्ध है। टैक्स राहत के दायरे में निजी ट्यूशन, कोचिंग क्लास या कोई पार्ट टाइम कोर्स नहीं आता।

एजुकेशन लोन पर सेक्शन 80E का ले सकते हैं लाभ
अपने बच्चों के लिए लिए गए एजुकेशन लोन के लिए आप सेक्शन 80E के तहत टैक्स डिडक्शन को क्लेम कर सकते हैं। बच्चे की हायर एजुकेशन के खर्च के लिए बैंक से एजुकेशन लोन ले सकते हैं।

इलाज के खर्च पर भी ले सकते हैं टैक्स छूट
सेक्शन 80DDB के तहत अपने किसी आश्रित की गंभीर और लंबी बीमारी के इलाज में खर्च की गई रकम पर आय कर कटौती मिलती है। कोई आयकर दाता अपने माता-पिता, बच्चे, आश्रित भाई-बहनों और पत्नी के इलाज में खर्च की गई रकम की कटौती के लिए दावा कर सकता है। इनमें कैंसर, हीमोफीलिया, थैलीसीमिया और एड्स आदि बीमारियां शामिल हैं। बच्चे के लिए यह कटौती 40 हजार रुपए होती है। इसके लिए मेडिकल सर्टिफिकेट जरूरी है।

इंश्योरेंस के लिए चुकाए गए प्रीमियम पर भी ले सकते हैं छूट का फायदा
अपने बच्चों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम का भुगतान करने पर भी आप टैक्स बचा सकते हैं। इसमें सेक्शन 80D के तहत 25 हजार रुपए तक का डिडक्शन लिया जा सकता है। इसके अलावा टर्म लाइफ इंश्योरेंस प्लान के लिए चुकाए गए प्रीमियम की रकम पर आप इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट का लाभ ले सकते हैं। 80C के तहत 1.5 लाख रुपए तक टैक्स बेनिफिट ले सकते हैं।

30 सितंबर तक भरना है वित्त वर्ष 2020-21 के लिए रिटर्न
वित्त वर्ष 2020-21 का इनकम टैक्स रिटर्न 31 जुलाई तक फाइल करना है। इस तारीख तक इनकम टैक्स फाइल करने पर आपको कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

इसे भी पढ़ें

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...
- Advertisement -

Latest Articles

जोकोविच जैसा कोई नहीं: हर ग्रैंडस्लैम दो बार जीतने वाले ओपन ऐरा के पहले खिलाड़ी

हाइलाइट्स:नोवाक जोकोविच फ्रेंच ओपन के नए चैंपियन4 घंटे चले फाइनल में सितसिपास को हराया52 साल में चारों ग्रैंड स्लैम दो बार जीतने वाले...

भारत ने पिछले 3 साल में बांग्लादेश को को सौंपे 577 घुसपैठिए , इस साल अब तक 100 को वापस भेजा गया

नई दिल्लीभारत ने साल 2018 से अपने पड़ोसी देश बांग्लादेश को अधिकतम 577 घुसपैठिए सौंपे हैं, जो दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग...