Saturday, July 31, 2021

देसी-विदेशी फंड्स ने लगाए हुए हैं 28,750 करोड़: अडाणी की 6 कंपनियों के शेयरों में 556 ग्लोबल फंड का निवेश, 286 घरेलू फंड्स ने लगाए हुए हैं 3,320 करोड़ रुपए

- Advertisement -


  • Hindi News
  • Business
  • Economy
  • 556 Global Funds Have Invested In Shares Of 6 Companies Of Adani, 286 Domestic Funds Have Invested Rs 3,320 Crore

4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • ग्रुप की कंपनियों में अडाणी पोर्ट्स में फंड्स का सबसे ज्यादा निवेश, 730 फंड्स ने लगाए हुए हैं 13,651 करोड़ रुपए
  • अडाणी पावर में है फंड्स का सबसे कम निवेश, 114 देसी-विदेशी फंड्स ने कंपनी में लगाए हुए हैं 884 करोड़ रुपए

अडाणी ग्रुप से जुड़े विदेशी निवेशकों को लेकर आई नेगेटिव खबर से कैपिटल मार्केट में हलचल मच गई, क्योंकि ग्रुप की कंपनियों में सैकड़ों विदेशी निवेशकों के अरबों डॉलर लगे हुए हैं। मॉर्निंगस्टार इंडिया के आंकड़ों के मुताबिक, अडाणी ग्रुप की छह कंपनियों में 556 ग्लोबल फंड ने भारी भरकम निवेश किया हुआ है। उनके निवेश की मार्केट वैल्यू लगभग 3.52 अरब डॉलर (25,961 करोड़ रुपए) है।

ग्रुप की कंपनियों में 14 जून से ही हो रही है बिकवाली

इस खबर को लेकर अडाणी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में इस हफ्ते बड़ी उथल-पुथल रही है। उन शेयरों में 14 जून, सोमवार से ही बिकवाली हो रही है। असल में ग्रुप की कंपनियों में जिन विदेशी निवेशकों ने पैसा लगाया हुआ है, उनमें से तीन को लेकर एक नेगेटिव खबर आई थी। खबर के मुताबिक, नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी (NSDL) ने तीन विदेशी निवेशकों के एकाउंट फ्रीज कर दिए हैं। हालांकि, विदेशी निवेशकों और अडाणी ग्रुप, दोनों ने उस खबर का खंडन किया था।

कथित मामला जून 2016 का, ग्रुप से कोई लेना-देना नहीं

जब NSDL ने स्पष्टीकरण जारी करते हुए कहा कि संबंधित एकाउंट एक्टिव हैं, तो ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में सुधार आया। लेकिन आज फिर अडाणी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में बिकवाली का दबाव बना हुआ है। यह सच है कि NSDL ने तीन विदेशी निवेशकों- एल्बुला इनवेस्टमेंट फंड, क्रेस्टा फंड और APMS इनवेस्टमेंट फंड के एकाउंट फ्रीज किए हैं। लेकिन यह जून 2016 का दूसरा मामला है, जिसमें NSDL ने सेबी के निर्देश पर एकाउंट फ्रीज किए थे। इस मामले का अडाणी ग्रुप की कंपनियों से कोई लेना-देना नहीं था।

ETF, इंडेक्स फंड, म्यूचुअल फंड वगैरह का निवेश

आइए देखते हैं कि अडाणी ग्रुप की किन कंपनियों के शेयरों में किस तरह के निवेशकों का पैसा लगा हुआ है। मॉर्निंगस्टार इंडिया के मुताबिक, अडाणी ग्रीन, अडाणी टोटल गैस, अडाणी ट्रांसमिशन, अडाणी पावर, अडाणी एंटरप्राइजेज और अडाणी पोर्ट्स में ETF, इंडेक्स फंड, म्यूचुअल फंड वगैरह का निवेश है।

अडाणी ग्रुप की कंपनियों में 286 घरेलू फंड का निवेश

जानकारी के मुताबिक अडाणी ग्रुप की कंपनियों में लगभग 286 घरेलू फंड का निवेश है। इस निवेश की मार्केट वैल्यू फिलहाल 0.450 अरब डॉलर (लगभग 3,320 करोड़ रुपए) है। जहां तक घरेलू और विदेशी निवेशकों के कुल निवेश की बाजार वैल्यू की बात है तो यह 3.9 अरब डॉलर (लगभग 28,750 करोड़ रुपए) है।

खबरें और भी हैं…



Source link

इसे भी पढ़ें

चीन को आंख दिखा रहा हॉन्ग कॉन्ग जितना छोटा यह देश, जिनपिंग के सपनों पर ऐसे फेरा पानी

सिडनीऑस्ट्रेलिया से थोड़ी दूर स्थित दुनिया का 29वां सबसे छोटा देश सामोआ ने चीन को करारा झटका दिया है। सामोआ के प्रधानमंत्री ने...

40 हजार रुपये से कम में ASUS के ये टॉप 5 Laptop आपके काम आ सकते हैं, फीचर्स से हैं लोडेड

हाइलाइट्सआसुस के लैपटॉप की भारत में अच्छी बिक्रीकम दाम में ज्यादा फीचर्स का दावा करती है आसुसज्यादा स्टोरेज और बड़ी बैटरी समेत कई...
- Advertisement -

Latest Articles

चीन को आंख दिखा रहा हॉन्ग कॉन्ग जितना छोटा यह देश, जिनपिंग के सपनों पर ऐसे फेरा पानी

सिडनीऑस्ट्रेलिया से थोड़ी दूर स्थित दुनिया का 29वां सबसे छोटा देश सामोआ ने चीन को करारा झटका दिया है। सामोआ के प्रधानमंत्री ने...

40 हजार रुपये से कम में ASUS के ये टॉप 5 Laptop आपके काम आ सकते हैं, फीचर्स से हैं लोडेड

हाइलाइट्सआसुस के लैपटॉप की भारत में अच्छी बिक्रीकम दाम में ज्यादा फीचर्स का दावा करती है आसुसज्यादा स्टोरेज और बड़ी बैटरी समेत कई...

कांसे के लिए भिड़ेंगी सिंधु, हॉकी का भी बड़ा मैच, रविवार को ओलिंपिक में भारत का कार्यक्रम

तोक्योओलिंपिक खेलों में भारत के लिए रविवार का दिन बेहद अहम है। रियो ओलिंपिक की सिल्वर मेडलिस्ट पीवी सिंधु भारत को कांस्य पदक...