Monday, April 12, 2021

निवेशकों का भरोसा बढ़ा: 8 महीने बाद इक्विटी म्यूचुअल फंड में लौटे निवेशक, मार्च में 9,115 करोड़ रुपए का निवेश

- Advertisement -


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • जुलाई 2020 से लगातार इक्विटी म्यूचुअल फंड से पैसे निकाल रहे थे निवेशक
  • मार्च में 31.43 लाख करोड़ रुपए रहा म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का कुल AUM

कोरोना के कारण प्रभावित हुए म्यूचुअल फंड में अब निवेशकों का भरोसा लौटने लगा है। यही कारण है कि मार्च में इक्विटी म्यूचुअल फंड में 9,115 करोड़ रुपए का नेट इनफ्लो यानी शुद्ध निवेश रहा है। बीते 9 महीनों में यह पहला मौका है जब इक्विटी म्यूचुअल फंड में नेट इनफ्लो रहा है। जुलाई से अब तक इक्विटी म्यूचुअल फंड से नेट आउटफ्लो यानी पैसे की निकासी ही हो रही थी।

फरवरी में निवेशकों ने 52,528 करोड़ रुपए निकाले

एसोसिएशन ऑफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (Amfi) के ताजा डाटा के मुताबिक, पिछले महीने निवेशकों ने डेट म्यूचुअल फंड से 52,528 करोड़ रुपए की निकासी की थी, जबकि फरवरी 2021 में 1,735 करोड़ रुपए का निवेश किया था। डाटा के मुताबिक, फरवरी में 4,090 करोड़ रुपए के नेट इनफ्लो को मुकाबले समीक्षा अवधि में ओवरऑल म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री से नेट आउटफ्लो 29,745 करोड़ रुपए रहा। फरवरी में 4,534 करोड़ रुपए के आउटफ्लो के मुकाबले मार्च में इक्विटी और इक्विटी लिंक्ड ओपन-एंडेड स्कीम्स का इनफ्लो 9,115 करोड़ रुपए रहा। पिछले महीने मल्टी कैप और वैल्यू फंड को छोड़कर सभी कैटेगिरी में इनफ्लो देखा गया।

नवंबर में सबसे ज्यादा 12,917 करोड़ रुपए की निकासी

डाटा के मुताबिक, पिछले साल जुलाई में 2480 करोड़ रुपए की शुद्ध निकासी रही थी। बीते चार सालों में यह पहला मौका था जब इक्विटी स्कीम्स में शुद्ध निकासी दर्ज की गई थी। इसके बाद अगस्त में 4,000 करोड़ रुपए, सितंबर में 734 करोड़ रुपए, अक्टूबर में 2,725 करोड़ रुपए की शुद्ध निकासी रही। 2020 में नवंबर में सबसे ज्यादा 12,917 करोड़ रुपए की निकासी की गई। इसके बाद दिसंबर में 10,147 करोड़ रुपए, जनवरी 2021 में 9,253 करोड़ रुपए और फरवरी 2021 में 4,534 करोड़ रुपए की शुद्ध निकासी रही। इससे पहले जून 2020 में इन स्कीम्स में 240.55 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश रहा था।

इक्विटीज और गोल्ड ETF में भी निवेश बढ़ा

इक्विटी म्यूचुअल फंड के अलावा इक्विटीज और गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स यानी ETF में भी पिछले महीने निवेश में बढ़ोतरी रही। डाटा के मुताबिक, मार्च में इन स्कीम्स में 662 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश हुआ। जबकि फरवरी में 491 करोड़ रुपए का निवेश हुआ था। मार्च में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का कुल असेट अंडर मैनेजमेंट (AUM) 31.43 लाख करोड़ रुपए रहा। फरवरी में म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का AUM 31.64 लाख करोड़ रुपए था।

खबरें और भी हैं…



Source link

इसे भी पढ़ें

खुशी दिखाने और छिपाने में क्या फर्क है?

खुशी दिखाने और छिपाने में फर्क...जब घर पर पड़ोसी आए, तो दिखानी पड़ती हैऔरअगर पड़ोसन आए, तो छिपानी पड़ती हैविकास, रोहतक Source link

BAFTA में कहर ढाने को तैयार प्रियंका चोपड़ा, कातिल अदाओं पर हार जाएंगे दिल

बॉलिवुड से लेकर हॉलिवुड तक अपने टैलेंट का परचम लहराने वाली प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) अक्सर अपने अदाओं से फैंस को दीवाना बनाती...
- Advertisement -

Latest Articles

खुशी दिखाने और छिपाने में क्या फर्क है?

खुशी दिखाने और छिपाने में फर्क...जब घर पर पड़ोसी आए, तो दिखानी पड़ती हैऔरअगर पड़ोसन आए, तो छिपानी पड़ती हैविकास, रोहतक Source link

BAFTA में कहर ढाने को तैयार प्रियंका चोपड़ा, कातिल अदाओं पर हार जाएंगे दिल

बॉलिवुड से लेकर हॉलिवुड तक अपने टैलेंट का परचम लहराने वाली प्रियंका चोपड़ा (Priyanka Chopra) अक्सर अपने अदाओं से फैंस को दीवाना बनाती...

बस थोड़ा और इंतजार, Google Pixel 5A 5G लॉन्च होने के लिए तैयार, देखें खूबियां

हाइलाइट्स:गूगल के इस अपकमिंग स्मार्टफोन का बेसब्री से इंतजारबजट फ्लैगशिप सेगमेंट का यह फोन शानदार फीचर्स के साथगूगल ने अपने इस फोन लॉन्च...

Election Commission News: सुशील चंद्रा का अगला मुख्य निर्वाचन आयुक्त बनना तय, जानिए कौन हैं यह

नई दिल्लीनिर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा का देश का अगला मुख्य निर्वाचन आयुक्त बनना तय हो गया है। सूत्रों ने रविवार को यह जानकारी...