Monday, March 8, 2021

निवेश नॉलेज: बच्चों को स्टॉक इनवेस्टमेंट के रिटर्न-रिस्क के बारे में बताएं, थोड़े पैसों से ज्यादा पैसा पैदा करने का कॉन्सेप्ट समझाएं

- Advertisement -


  • Hindi News
  • Business
  • Market
  • How To Tell Your Children About Stock Investment, Explain The Concept Of Making More Money With Little Money

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पिछले महीने यह खबर वायरल हुई थी कि 10 साल के बच्चे के स्टॉक इनवेस्टमेंट की वैल्यू लगभग एक साल में 50 गुना हो गई है। बच्चे की मां ने स्टॉक इनवेस्टमेंट के बारे में समझाने के लिए वीडियो गेम के प्रति उसकी दीवानगी का सहारा लिया था। उसको गिफ्ट दिलाने के लिए मां ने उसके नाम डिस्काउंट वीडियो गेम स्टोर गेमस्टॉप के 10 शेयर खरीदे थे। उस बच्चे की मां की तरह आप अपने बच्चे को शेयरों में निवेश के बारे में समझाने के लिए क्या कर सकते हैं, आइए हम उसके बारे में बात करते हैं।

बताएं कि लोग क्यों और कैसे निवेश करते हैं

बच्चों को शेयरों में निवेश के बारे में बताने की शुरुआत बुनियादी जानकारी से करनी चाहिए। उन्हें आसान शब्दों में और मिसाल देकर समझाना चाहिए। उनको बताना चाहिए कि लोग क्यों और कैसे निवेश करते हैं। निवेश के बारे में समझाने के लिए कह सकते हैं कि इसके जरिए थोड़े पैसों से ज्यादा पैसा पैदा किया जा सकता है। निवेश के बारे में समझने और समझाने के लिए ऐप, वेबसाइट, किताबों का सहारा लिया जा सकता है। ऐडम स्ट्रैमवैसर की A Kids Book About Money अच्छी किताब है। आप https://www.schwabmoneywise.com/ चेक कर सकते हैं।

बच्चे समझ जाएं तो निवेश की प्रैक्टिस कराएं

जब आपको लगे कि बच्चे को निवेश की जरूरी जानकारी हो गई है तो उन्हें पहले उसकी प्रैक्टिस कराएं। इसके लिए निवेश के बारे में बताने वाले ऐप या गेम का सहारा ले सकते हैं। उनको लॉन्ग टर्म यानी 10 से 20 साल के निवेश के फायदे के बारे में समझाना चाहिए। बच्चों को उनकी पसंद के शेयर चुनने और वर्चुअल करेंसी से उनकी चाल पर नजर रखने के लिए ऐप की मदद ले सकते हैं।

निवेश के फैसले लेने का तरीका बताएं

बच्चों को बैलेंसशीट, प्राइस टू अर्निंग रेशियो या मुश्किल चीजों के बारे में बताने की जरूरत नहीं। उन्हें बस इतना बताना है कि निवेश के फैसले लेने के लिए किस तरह सोचना चाहिए। जैसे अगर आप किसी चीज का इस्तेमाल नहीं करते तो उसे बनाने वाली कंपनी में निवेश क्यों करें। ऐसे में आपको बताना होगा कि कंपनी क्या करती है और आने वाले समय में उसका कारोबार किस वजह से बढ़ सकता है। कंपनी में निवेश सिर्फ इसलिए नहीं करना चाहिए कि किसी ने बताया है या आपको ब्रांड पसंद है।

रिटर्न के साथ रिस्क के बारे में भी बताएं

बच्चों को शेयरों में निवेश से मिलने वाले रिटर्न के साथ ही आपको रिस्क के बारे में भी बताना होगा। वीडियो गेम रिटेलर गेमस्टॉप की मिसाल ले लेते हैं। बताया जाता है कि कंपनी से नाउम्मीद कुछ हेज फंड और बड़े निवेशकों ने शॉर्ट सेलिंग की थी। यानी उन्होंने बाजार से कंपनी के शेयर उधार लेकर बेचे ताकि बाद में सस्ते भाव पर वापस खरीदकर मुनाफा कमा सकें। उनसे थोड़े छोटे निवेशकों ने कंपनी के शेयरों में खरीदारी शुरू करके खेल पलट दिया।

गेमस्टॉक में शॉर्ट सेलिंग का क्या था गेम?

दरअसल, जैसे ही शॉर्ट सेलिंग वाले शेयरों का दाम चढ़ना शुरू होता है, शॉर्ट सेल करने वाले लोग अपना मुनाफा बचाने या लॉस से बचने के लिए अपनी पोजिशन कवर करना शुरू कर देते हैं। यानी उधार लेकर बेचे गए शेयरों को बाजार से खरीदना शुरू कर देते हैं। इससे शेयरों का भाव चढ़ने लगता है, जिसको देख दूसरे निवेशक भी पीछे पड़ जाते हैं।

गेमस्टॉक में थोड़ी तेजी आने पर छोटे निवेशकों और पहली बार निवेश करने वालों ने ऑनलाइन फोरम का यूज करके उसके शेयरों को चढ़ाना शुरू कर दिया। इसके चलते 2019 में 10 डॉलर से कम का शेयर पिछले महीने 480 डॉलर पर पहुंच गया था। गुरुवार को यह 40 डॉलर के आसपास पर आ गया था।

चंद दिनों में पीक के दसवें हिस्से से कम रह गया

गेमस्टॉक का 10 डॉलर का शेयर एक साल में 48 गुना बढ़ा और फिर चंद दिनों में पीक के दसवें हिस्से से भी कम रह गया। यह रिस्क था, जिसमें बहुत से लोगों की शर्ट उतर गई होगी और कुछ लोगों को मुनाफा हुआ होगा। इसलिए बच्चों को बताना होगा कि किस तरह के निवेश में किस तरह का रिस्क होता है।

जिस निवेश में ज्यादा रिस्क होता है, उसमें प्रॉफिट और लॉस दोनों ही ज्यादा होते हैं। गेमस्टॉक में मोटी कमाई देख बच्चे फटाफट कमाने के चक्कर में न फंसें, इसलिए उनको लॉन्ग टर्म इनवेस्टमेंट के जरिए संपत्ति बनाने के बारे में बताने की जरूरत है।

रिस्की एसेट में उतना लगाएं, जितना डूबने पर गम न हो

अगर बच्चा ज्यादा रिटर्न चाहता है तो उसे बताएं कि जितने पैसे जाने पर दुख नहीं होगा, रिस्की एसेट में उतना पैसा ही लगाना चाहिए। उनको बताया जा सकता है कि नौसिखिया निवेशक कम जोखिम लेकर अच्छा रिटर्न कमा सकता है, लेकिन ज्यादा लालच करने पर बड़ा लॉस उठाना पड़ सकता है।

बच्चों को यह भी बताना जरूरी है कि निवेश का फैसला लेने के लिए किस तरह की जानकारी सही हो सकती है। बच्चों, खासतौर पर किशोरों को गेमस्टॉप के बारे में जानकारी सोशल मीडिया पर मिली थी। ऐसे में उन्हें यह बताना सही रहेगा कि हर तरह की ऑनलाइन जानकारी पर भरोसा नहीं किया जा सकता।



Source link

इसे भी पढ़ें

Flipkart Smartphone Carnival शुरू, Samsung Galaxy S20 FE समेत इन मोबाइल्स पर 31% तक की छूट

Flipkart Smartphone Carnival Sale: ग्राहकों के लिए Flipkart Sale का आगाज हो गया है और स्मार्टफोन खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो...
- Advertisement -

Latest Articles

Flipkart Smartphone Carnival शुरू, Samsung Galaxy S20 FE समेत इन मोबाइल्स पर 31% तक की छूट

Flipkart Smartphone Carnival Sale: ग्राहकों के लिए Flipkart Sale का आगाज हो गया है और स्मार्टफोन खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो...

व्लादिमीर पुतिन की ‘सीक्रेट बेटी’ जन्मदिन पर बनी डीजे, मॉस्को के नाइटक्लब में की धमाकेदार पार्टी

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की सीक्रेट बेटी लुइजा रोजोवा अपने 18वें जन्मदिन पर मॉस्को के एक नाइटक्लब में दिखाई दी। बताया जा...