Tuesday, March 2, 2021

फिर से उड़ान की तैयारी: 25 फ्लाइट के साथ शुरू हो सकती है जेट एयरवेज, नए मालिक ने जीती बोली

- Advertisement -


  • Hindi News
  • Business
  • Jet Airways May Start With 25 Flights, New Owner Wins Bid, Jet Airways Share

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

जेट का घाटा मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में बढ़कर 5,535.75 करोड़ रुपए हो गया। जेट को फिर से उड़ान सेवा शुरू करने के लिए बड़ी संख्या में नई नियुक्तियां करनी होगी

  • दिवालिया हो चुकी जेट एयरवेज की बोली को जालान कल्क्रॉक कंसोर्टियम ने जीत लिया है
  • जेट के पास 120 फ्लाइट थी। कंपनी बंद हुई तो इसके पास केवल 16 फ्लाइट रह गई थी

जेट एयरवेज की फ्लाइट्स एक बार फिर से उड़ान भरने को तैयार है। कंपनी को नया खरीदार मिल गया है। लेनदारों की समिति द्वारा दिवालिया हो चुकी जेट एयरवेज की बोली को जालान कल्क्रॉक कंसोर्टियम ने जीत लिया है। कंसोर्टियम शुरुआत में 25 फ्लाइट के साथ जेट एयरवेज को शुरू करेगा।

सिविल एविएशन मंत्रालय के पास जाएगा प्लान

NCLT से मंजूरी मिलने के बाद रिजॉल्यूशन प्लान को सिविल एविएशन मंत्रालय के पास भेजा जाएगा। उसके बाद इसे सिविल एविएशन डायरेक्टरेट (DGCA) के पास भेजा जाएगा। उम्मीद है कि इसी गर्मी से जेट एयरवेज फिर से शुरू हो सकती है। हालांकि उससे पहले कंसोर्टियम को नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (NCLT) से रिजोल्यूशन प्लान की मंजूरी लेनी होगी। ऐसा माना जा रहा है कि यह मंजूरी अगले 3-4 महीनों में मिल सकती है।

4-6 महीनों मे शुरू होने की उम्मीद

जालान कंसोर्टियम ने कहा कि NCLT के फैसले के बाद हम 4-6 महीने के भीतर विमान सेवा शुरू कर पाएंगे। कंपनी मानती है कि एविएशन सेक्टर अच्छा है। भारी घाटे और कर्ज के कारण जेट एयरवेज अप्रैल 2019 से बंद है। कंपनी के प्रमोटर नरेश गोयल को 500 करोड़ रुपए की जरूरत थी, लेकिन वे इसे जुटा नहीं पाए। जेट एयरवेज को कर्ज देने वाले बैंकों के कंसोर्टियम ने नरेश गोयल को कंपनी के बोर्ड से हटा दिया। बाद में कर्मचारियों की सैलरी और अन्य खर्च भी मुश्किल हो गया। इसके बाद इसे पूरी तरह से बंद कर दिया गया। जेट एयरवेज बंद होने के बाद इसके करीब 17 हजार कर्मचारी सड़कों पर आ गए थे।

जेट के पास 120 फ्लाइट थी

जेट के पास कुल 120 फ्लाइट थी। हालांकि जब कंपनी बंद हुई तो इसके पास केवल 16 फ्लाइट रह गई थी। इसका घाटा मार्च 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में बढ़कर 5,535.75 करोड़ रुपए हो गया। जेट को फिर से उड़ान सेवा शुरू करने के लिए बड़ी संख्या में नई नियुक्तियां करनी होगी। हालांकि कंपनी भले बंद हो गई, पर पिछले 6 महीनों से इसके शेयरों में लगातार अपर सर्किट और लोअर सर्किट लगता है।

शेयरों में लगातार अपर और लोअर सर्किट

कुछ दिन तक शेयर लगातार बढ़ते रहते हैं और अपर सर्किट लगते रहता है। फिर कुछ दिन तक लगातार गिरते रहता है और लोअर सर्किट लगता है। इसमें लोअर और अपर सर्किट की लिमिट 4.99% है। यानी एक दिन में लोअर सर्किट में या अपर सर्किट में शेयरों में इससे ज्यादा की न तो गिरावट हो सकती है न इससे ज्यादा की बढ़त हो सकती है। पिछले साल जनवरी में यह शेयर 13 रुपए तक चला गया था। इस साल 11 जनवरी को 165 रुपए तक गया और शुक्रवार को यह 109 रुपए पर बंद हुआ है।



Source link

इसे भी पढ़ें

Yesterday and Tomorrow Islands: 3 मील दूर दो टापू, फिर भी वक्त में 21 घंटे का अंतर कैसे?

मॉस्को/वॉशिंगटनबिग डायोमीड और लिटिल डायोमीड नाम के दो टापू एक-दूसरे से सिर्फ तीन मील दूर हैं लेकिन इनके बीच आती है प्रशांत महासागर...

Cheteshwar Pujara vs off Spin: ऑफ स्पिन का तोड़ नहीं निकाल पा रहे चेतेश्वर पुजारा, जानिए कितना लंबा है संघर्ष

हाइलाइट्स:मिडल ऑर्डर के दिग्गज बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ऑफ स्पिन के आगे संघर्ष करते दिख रहे हैंदेखा जाए तो उनकी यह कमी रणजी ट्रोफी...
- Advertisement -

Latest Articles

Yesterday and Tomorrow Islands: 3 मील दूर दो टापू, फिर भी वक्त में 21 घंटे का अंतर कैसे?

मॉस्को/वॉशिंगटनबिग डायोमीड और लिटिल डायोमीड नाम के दो टापू एक-दूसरे से सिर्फ तीन मील दूर हैं लेकिन इनके बीच आती है प्रशांत महासागर...

Cheteshwar Pujara vs off Spin: ऑफ स्पिन का तोड़ नहीं निकाल पा रहे चेतेश्वर पुजारा, जानिए कितना लंबा है संघर्ष

हाइलाइट्स:मिडल ऑर्डर के दिग्गज बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ऑफ स्पिन के आगे संघर्ष करते दिख रहे हैंदेखा जाए तो उनकी यह कमी रणजी ट्रोफी...

Tandav Controversy: ऐमजॉन प्राइम वीडियो ने मांगी माफी, कहा- भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था इरादा

ओटीटी प्लेटफॉर्म ऐमजॉन प्राइम वीडियो ने अपनी विवादित वेब सीरीज 'तांडव' को लेकर माफीनामा जारी किया है। माफीनामे में कहा गया है कि...

सीरिया को सुरक्षित बताकर शरणार्थी लौटा रहा डेनमार्क, यूरोप में सबसे पहले उठाया कदम

कॉपेनहेगनडेनमार्क ने युद्धग्रस्त सीरिया से आए शरणार्थियों को वापस भेजना शुरू कर दिया है। सरकार का कहना है कि अब उनके लौटने के...