Friday, May 14, 2021

शहर ‘लॉक’ हवाई यात्रा ‘डाउन’: हवाई यात्रा करने वाले सबसे ज्यादा रिफंड को लेकर परेशान, अप्रैल में 17% गिर सकती है यात्रियों की संख्या

- Advertisement -


  • Hindi News
  • Business
  • Air Passengers Traffic April, Air India, Spicejet, Air Traffic , Mumbai Delhi Air India, Air Travel Demand

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर खाली खाली नजारा

  • 6 अप्रैल से 11 अप्रैल के दौरान मार्च की तुलना में यात्रियों की संख्या में 12% की गिरावट रही
  • फरवरी में 78 लाख लोगों ने यात्रा की जबकि जनवरी में 77.3 लाख यात्रियों ने यात्रा की थी
  • 13 अप्रैल को 5 महीने में पहली बार यात्रियों की संख्या 2 लाख से नीचे पहुंचकर 1,83,331 रही

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कई शहरों में लॉकडाउन है। कुछ शहरों में आवाजाही की सख्ती है। ऐसे में लोग यात्रा से बच रहे हैं। इसका असर हवाई सफर पर पड़ने की आशंका है। एक अनुमान के मुताबिक, अप्रैल के दौरान हवाई यात्रियों की संख्या में 17% की गिरावट आ सकती है। फरवरी और मार्च में इनकी संख्या अच्छी खासी बढ़ी थी।

मई के बाद दोबारा चालू हुई थी एयरलाइंस
रेटिंग एजेंसी इक्रा के मुताबिक, अप्रैल में एयर पैसेंजर ट्रैफिक की ग्रोथ में 15 से 17% की गिरावट आ सकती है। मई 2020 के बाद से घरेलू पैसेंजर का ट्रैफिक फरवरी में 64% पर पहुंच गया था। मार्च 2021 में रोजाना औसतन 2.49 लाख यात्रियों ने फ्लाइट से यात्रा की है। 6 अप्रैल से 11 अप्रैल के दौरान मार्च की तुलना में इसमें 12% की अचानक गिरावट आई। कोरोना के बढ़ते मामलों और नए प्रतिबंधों की वजह से ऐसी उम्मीद है कि इस महीने में एयर ट्रैफिक में और गिरावट आ सकती है।

13 अप्रैल को 2 लाख से नीचे पहुंची यात्रियों की संख्या
आंकड़ों के मुताबिक, 13 अप्रैल को करीब 5 महीने में पहली बार यात्रियों की संख्या 2 लाख से नीचे पहुंचकर 1 लाख 83 हजार 331 रह गई थी। डीजीसीए के आंकड़ों के मुताबिक, फरवरी में 78 लाख यात्रियों ने यात्रा की, जबकि जनवरी में 77.3 लाख यात्रियों ने यात्रा की थी। फरवरी 2021 के दौरान रोजाना 2,296 फ्लाइट्स ने उड़ान भरी, जबकि फरवरी 2020 में यह संख्या 3,137 थी। हालांकि जनवरी 2021 की तुलना में यह संख्या बेहतर रही है। जनवरी 2021 में कुल 2,190 फ्लाइट्स ने रोजाना उड़ान भरी थी।

जनवरी में 77.34 लाख लोगों ने यात्रा की
एविएशंस रेगुलेटर डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) के मुताबिक, जनवरी में हवाई यात्रियों की संख्या 77.34 लाख रही थी। फरवरी में प्रति फ्लाइट औसत यात्रियों की संख्या 121 रही, जबकि पिछले साल इसी महीने में यह 136 थी। फरवरी 2021 में पैसेंजर लोड फैक्टर्स 78% रहा जो एक साल पहले इसी महीने में 87.7% रहा था। हालांकि जनवरी में यह 73% ही था। पैसेंजर लोड फैक्टर मतलब फ्लाइट्स में कितनी सीटें भरी हैं।

गेट नंबर 40 ए पर अपने गंतव्य स्थान पर जाने के इंतजार में यात्री

गेट नंबर 40 ए पर अपने गंतव्य स्थान पर जाने के इंतजार में यात्री

मई 2020 से फरवरी 2021 तक 4.56 करोड़ यात्रियों ने यात्रा की
मई 2020 से लेकर फरवरी 2021 तक कुल 4.56 करोड़ यात्रियों ने यात्रा की। मई 2020 में ही घरेलू फ्लाइट्स को कोरोना के प्रतिबंध के बाद दोबारा शुरू करने की मंजूरी मिली थी। आंकड़ों के आधार पर देश में हवाई पैसेंजर ट्रैफिक 10 साल के निचले स्तर पर पहुंच गया है। वित्त वर्ष 2020-21 में कुल 5.34 करोड़ यात्रियों ने हवाई यात्रा की। वित्त वर्ष 2010-11 में 5.38 करोड़ यात्रियों ने यात्रा की थी। 31 मार्च 2020 को समाप्त वित्त वर्ष की तुलना में 31 मार्च 2021 में समाप्त वित्त वर्ष में यात्रियों की संख्या में 62% की गिरावट दर्ज की गई है।

मार्च में यात्रियों की संख्या कम हुई
मार्च 2021 में कुल 77-78 लाख यात्रियों ने यात्रा की थी, जो फरवरी की तुलना में महज 1% कम थी। मार्च 2020 की तुलना में इसमें 33.1% की गिरावट रही है। मार्च में प्रति फ्लाइट यात्रियों की औसत संख्या 109 थी, जो मार्च 2020 में 111 थी। मार्च 2021 में पैसेंजर लोड फैक्टर 72% था जो कि एक साल पहले इसी महीने में 73.1% था। हालांकि फरवरी 2021 में यह 79% था।

सबसे ज्यादा शिकायत रिफंड को लेकर
मार्च में ग्राहकों की शिकायतों की बात करें तो हर 10 हजार यात्रियों पर 101 यात्रियों ने शिकायत की है। इसमें सबसे ज्यादा शिकायत टिकटों के पैसों के रिफंड को लेकर की गई जो 65.7% थी। इसमें पहले नंबर पर एयर इंडिया थी जिसके खिलाफ 7.6% शिकायतें की गई थीं। गो एयर के खिलाफ 0.5% शिकायतें थीं। स्पाइस जेट और एयर एशिया के खिलाफ 0.2-0.2% शिकायतें दर्ज की गईं। टाइम पर बेहतर प्रदर्शन के मामले में चार प्रमुख महानगरों में इंडिगो टॉप पर रही है। इसका प्रदर्शन का औसत 97.8% रहा है। सबसे खराब एयर इंडिया रही है और इसका प्रदर्शन 86.2% रहा है।

इंडिगो की फ्लाइट नंबर 6 ई-5914 से प्रयागराज जा रही गीतिका सिंह ने कहा कि फ्लाइट में 70-80 पर्सेंट यात्री थे।

इंडिगो की फ्लाइट नंबर 6 ई-5914 से प्रयागराज जा रही गीतिका सिंह ने कहा कि फ्लाइट में 70-80 पर्सेंट यात्री थे।

एयर इंडिया ने सबसे ज्यादा यात्रियों को रोका
आंकड़े बताते हैं कि यात्रियों को यात्रा करने से रोकने में एयर इंडिया सबसे आगे रही है। इसमें 139 यात्रियों को यात्रा नहीं करने दी और इस वजह से इसे 13.74 लाख रुपए लौटाने पड़े। इसकी तमाम फ्लाइट के कैंसल होने से कुल 2,435 यात्री प्रभावित हुए और इसके एवज में इसे 6.96 लाख रुपए देने पड़े। सबसे ज्यादा कैंसल फ्लाइट गो एयर की हुई, जिससे इसके 10 हजार से ज्यादा यात्री प्रभावित हुए। स्पाइसजेट ने 69 यात्रियों को यात्रा नहीं करने दी। इसके एवज में इसे 99 हजार रुपए देने पड़े। फ्लाइट कैंसल होने से 1,942 यात्री प्रभावित हुए जिससे इसे 3 लाख रुपए यात्रियों को देने पड़े।

एयर एशिया और विस्तारा ने भी यात्रियों को रोका
इसी तरह से एयर एशिया ने 28 और विस्तारा ने 7 यात्रियों को यात्रा नहीं करने दी। कुल 245 यात्रियों को घरेलू एयरलाइंस ने यात्रा नहीं करने दी और इससे इनको 17.18 लाख रुपए मुआवजे के तौर पर देने पड़े। फ्लाइट्स के कैंसल होने से 16,940 यात्री प्रभावित हुए। फ्लाइट में देरी होने से 53,459 यात्री प्रभावित हुए जिससे एयरलाइंस कंपनियों को 16 लाख 85 हजार रुपए यात्रियों को देने पड़े।

जनवरी में स्पाइसजेट पहले नंबर पर
पैसेंजर लोड फैक्टर की बात करें तो जनवरी में स्पाइसजेट 76.6% के साथ पहले नंबर पर रही है। जबकि गो एयर का लोड फैक्टर 64.9%, इंडिगो का लोड फैक्टर 69.3%, विस्तारा का 70 और एयर एशिया का 66.8% रहा है। हालांकि फरवरी में एयर इंडिया 78.3% पर आ गई, जबकि स्पाइस जेट 78.9, गो एयर 76.5, इंडिगो 74, एयर एशिया 67.9% और विस्तारा 73.3% के साथ बढ़त हासिल की। मार्च में हालांकि लोड फैक्टर कम हो गया। एयर इंडिया का लोड फैक्टर घट कर 70.6% पर आ गया, जबकि स्पाइसजेट का 76.5, गो एयर का 71.5, इंडिगो का 66.4%, विस्तारा का 64.5% और एयर एशिया का 65.1% रहा है। इक्रा का वित्त वर्ष 2022 में इसमें 125% की ग्रोथ का अनुमान है।

खबरें और भी हैं…



Source link

इसे भी पढ़ें

Good News! इंतजार खत्म, Battlegrounds Mobile India के प्री-रजिस्ट्रेशन 18 मई से शुरू, मिलेंगे ढेरों Rewards

हाइलाइट्स:Battlegrounds Mobile India के प्री-रजिस्ट्रेशन की घोषणापहले प्री-रजिस्ट्रेशन कराने वाले प्लेयर्स को दिए जाएंगे रिवॉर्ड्स18 मई से शुरू होंगे प्री-रजिस्ट्रेशननई दिल्ली। PUBG Mobile...

‘हमें भी इजरायल की तरह आर्मी में जाना है’, कंगना ने पर ईद पर पढ़ाया भारतीयता का पाठ

बॉलिवुड ऐक्‍ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने शुक्रवार को अपने फैन्‍स और देशवासियों को भारतीयता (Nationalism) और इंसानियत (Humanity) का पाठ पढ़ाया है।...
- Advertisement -

Latest Articles

Good News! इंतजार खत्म, Battlegrounds Mobile India के प्री-रजिस्ट्रेशन 18 मई से शुरू, मिलेंगे ढेरों Rewards

हाइलाइट्स:Battlegrounds Mobile India के प्री-रजिस्ट्रेशन की घोषणापहले प्री-रजिस्ट्रेशन कराने वाले प्लेयर्स को दिए जाएंगे रिवॉर्ड्स18 मई से शुरू होंगे प्री-रजिस्ट्रेशननई दिल्ली। PUBG Mobile...

‘हमें भी इजरायल की तरह आर्मी में जाना है’, कंगना ने पर ईद पर पढ़ाया भारतीयता का पाठ

बॉलिवुड ऐक्‍ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने शुक्रवार को अपने फैन्‍स और देशवासियों को भारतीयता (Nationalism) और इंसानियत (Humanity) का पाठ पढ़ाया है।...

नोरा फतेही का इजरायल पर फूटा गुस्‍सा, सोशल मीडिया पर फिलिस्तीनियों के लिए छलका दर्द

बॉलिवुड ऐक्‍ट्रेस और मशहूर डांसर नोरा फतेही (Nora Fatehi) सोशल मीडिया पर काफी ऐक्‍टिव रहती हैं। अब उन्‍होंने फिलिस्तीन पर हमलों के खिलाफ...