Friday, March 5, 2021

होम इंश्योरेंस पॉलिसी: नुकसान की भरपाई के लिए पेश कर रहे हैं दावा, तो सभी डॉक्यूमेंट्स और सामान की रसीदों का होना जरूरी

- Advertisement -


  • Hindi News
  • Business
  • Home Insurance Policy; Do You Need It And What It Covers? Things You Need To Know

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

हमारे देश में ज्यादातर लोग अपने जीवन की बचत के एक बढ़े हिस्से का उपयोग घर खरीदने या बनाने में करते हैं। लेकिन इसके बाद भी वो अपनी प्रॉपर्टी को सुरक्षित करने पर ध्यान नहीं देते। प्राकृतिक आपदाएं पहले की तुलना में अब ज्यादा होती जा रही हैं, जो न केवल घर को बल्कि उसमें रखे सामान को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं। यूँ तो हम अपने घरों को सुरक्षित करने के लिए सभी आवश्यक उपाय करते हैं लेकिन फिर भी खतरा तो बना ही रहता है।

ऐसे में होम इंश्योरेंस महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। क्योंकि यह आपके घर और समान को नुकसान पहुंचने से होने वाले वित्तीय नुकसान की भरपाई करता है। वर्तमान में, कई प्रकार की होम इंश्योरेंस पॉलिसी जैसे हाउसहोल्डर्स पॉलिसी और ऑल रिस्क होम इंश्योरेंस पॉलिसी आदि हैं, जो कई प्रकार के कवरेज देती हैं। आपको अपनी आवश्यकता के हिसाब से पॉलिसी चुनना होती है।

जब आप बीमा पॉलिसी चुन रहे होते हैं, तो पहला बड़ा कदम यह है कि पॉलिसी के नियमों और शर्तों पर एक नजर डालें ताकि इसके कवरेज और नॉन-कवरेज को समझा जा सके। क्लेम करने के तरीके को जानना बहुत जरूरी है ताकि आपको पता चल सके कि किसी होनी अनहोनी की स्थिति में क्या करना और क्या नहीं करना चाहिए। हालांकि अधिकांश बीमा कंपनियों के पास होम इंश्योरेंस के तहत दावा पेश करने के लिए एक तय प्रोसेस होती है, पर यहां नीचे कुछ जरूरी बातें बताई गई हैं जो आसानी से दावा पाने में आपकी मदद करेंगी।

डॉक्यूमेंट की सॉफ्ट कॉपी जरूरी

  • आजकल ज्यादातर बीमा कंपनियों ने क्लेम पास करने की प्रक्रिया को डिजिटल कर दिया है, इसलिए हमेशा पॉलिसी डॉक्यूमेंट्स की एक सॉफ्ट कॉपी को हमेशा अपने पास रखें, जो काफी आसान भी है।
  • किसी भी नुकसान की स्थिति में आपको पहले बीमा कंपनी को ईमेल या टेलीफोन के माध्यम से सूचित करना होगा और उन्हें अपनी पॉलिसी के संबंध में दुर्घटना या घटना की संक्षिप्त जानकारी देनी चाहिए।
  • एक बार जब आप अच्छी तरह से समझ लेते हैं कि आपको क्लेम पाने के लिए क्या करना है, उसके बाद क्लेम फॉर्म भरें और बीमा कंपनी द्वारा मांगे गए आवश्यक डॉक्यूमेंट तैयार करें।
  • यदि आपके बीमा कंपनी के पास एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है, तो क्लेम नोटिफिकेशन से लेकर सभी आवश्यक दस्तावेजों को डिजिटल रूप से जमा किया जा सकता है। नीचे क्लेम करने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट की सूची दी जा रही है, हालांकि कंपनी के हिसाब से इनमें कोई डॉक्यूमेंट कम या ज्यादा हो सकता है।

अगर आपने होम लोन लिया है तो जरूर लें टर्म इंश्योरेंस, ये आपके न होने पर परिवार को देगा वित्तीय सुरक्षा

विभिन्न स्थितियों में देने होते हैं अलग-अलग डॉक्यूमेंट

  • किसी आकस्मिक या अप्रत्याशित नुकसान के मामले में: नुकसान के बारे में जानकारी, क्षतिग्रस्त वस्तुओं के बिल, रिपेयर का एस्टीमेट, मरम्मत बिल और भुगतान रसीद आदि।
  • चोरी या सेंधमारी के मामले में: पॉलिसी के तहत कवर किए गए खोए हुए सामानों की जानकारी, खोए हुए सामान का बिल, घटना के बारे में स्टेटमेंट, FIR की कॉपी, फाइनल पुलिस रिपोर्ट आदि।

1 लाख से ज्यादा के नुकसान पर सर्वेयर नियुक्त कर सकते हैं
यदि नुकसान 1 लाख रुपए से ऊपर है, तो बीमा कंपनी नुकसान के सत्यापन और मूल्यांकन के लिए एक स्वतंत्र सर्वेयर नियुक्त कर सकती है। उसके विजिट पर, सर्वेयर को सभी नुकसान दिखाएं और खोए/क्षतिग्रस्त सामान की लिस्ट भी रखें। यदि आपके पास इन वस्तुओं की कोई रसीद है, तो सर्वेयर के साथ भी साझा करें। एक बार जब आप सर्वेयर के साथ आवश्यक जानकारी दे देते हैं, तो वह बीमा को फाइनल सर्वे रिपोर्ट देगा।

बीमा कंपनी बाद में किसी और जानकारी या दस्तावेज़ की आवश्यकता होने की स्थिति में आपसे संपर्क कर सकता है। आमतौर पर, 1 लाख रुपए तक के छोटे-छोटे दावों को निपटाने में 5-7 वर्किंग डेज लगते हैं। बीमित व्यक्ति द्वारा सभी डॉक्यूमेंट प्रस्तुत किए जाने के बाद 1 लाख रुपए से ऊपर के बड़े क्लेम के लिए लगभग 10 वर्किंग डे लगते हैं।



Source link

इसे भी पढ़ें

Earth’s Core: धरती की चार नहीं, पांच हैं परतें…4.5 अरब साल पहले की अनजान घटना और छिपी हुई संरचना के संकेत मिले

कैनबेरा अभी तक माना जाता रहा है कि धरती के अंदर चार परतें होती हैं- क्रस्ट, मैंटल, बाहरी कोर और अंदरूनी कोर। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया...

किराये पर मिल रहा है लेडी गागा का घर, महीने का रेंट जान होश फाख्‍ता हो जाएंगे

सिलेब्रिटीज के आलीशान घर देखकर हम सभी आंहे भरते हैं। लेकिन कैसा हो यदि किसी सिलेब्रिटी के घर में किराये पर रहने का...
- Advertisement -

Latest Articles

Earth’s Core: धरती की चार नहीं, पांच हैं परतें…4.5 अरब साल पहले की अनजान घटना और छिपी हुई संरचना के संकेत मिले

कैनबेरा अभी तक माना जाता रहा है कि धरती के अंदर चार परतें होती हैं- क्रस्ट, मैंटल, बाहरी कोर और अंदरूनी कोर। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया...

किराये पर मिल रहा है लेडी गागा का घर, महीने का रेंट जान होश फाख्‍ता हो जाएंगे

सिलेब्रिटीज के आलीशान घर देखकर हम सभी आंहे भरते हैं। लेकिन कैसा हो यदि किसी सिलेब्रिटी के घर में किराये पर रहने का...

iQOO 5 Neo5 में 2200mAh की दो बैटरी और 65 वॉट की फ्लैशचार्ज टेक्नॉलजी

हाइलाइट्स:iQOO 5 Neo5 में मिलेगी 4400mAh की बैटरी65 वॉट की फ्लैशचार्ज टेक्नॉलजी से लैस है फोन16 मार्च को लॉन्च होगा iQOO 5 Neo5...