Sunday, February 28, 2021

IPO के इतिहास में सबसे ज्यादा रकम जुटेगी: इस साल IPO से 2 लाख करोड़ जुटने की उम्मीद, अब तक का सबसे बड़ा इश्यू LIC के नाम

- Advertisement -


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई8 मिनट पहलेलेखक: अजीत सिंह

  • कॉपी लिंक
  • इस साल अब तक 7 कंपनियों ने 12 हजार करोड़ रुपए पहले ही जुटा लिए हैं
  • LIC का IPO दिसंबर तक आ सकता है, अभी इसका वैल्यूएशन हो रहा है

ऐतिहासिक रूप से 2021 का साल IPO यानी इनीशियल पब्लिक ऑफर के लिए सबसे बेहतरीन साल होगा। इस साल में IPO बाजार से कुल 2 लाख करोड़ रुपए कंपनियां जुटा सकती हैं। इसमें देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) का अकेले 90 हजार करोड़ रुपए का IPO हो सकता है।

इस साल अब तक 7 कंपनियां आई

इस साल अब तक 7 कंपनियों ने 12 हजार करोड़ रुपए पहले ही जुटा लिए हैं, जबकि आने वाले समय में 55 कंपनियां लाइन में हैं। इसमें से कुल कंपनियां जितना पैसा यानी 1 लाख करोड़ रुपए जुटाएंगी, उसके बराबर करीबन 90 हजार करोड़ अकेले LIC ही जुटा लेगी। LIC का IPO नवंबर या दिसंबर तक आ सकता है। अभी इसका वैल्यूएशन हो रहा है।

इस साल के ये सबसे बड़े IPO होंगे

इस साल LIC के अलावा जो बड़े IPO आएंगे, उसमें नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) भी है। यह 10 हजार करोड़ रुपए जुटा सकता है। इसके बाद HDB फाइनेंशियल 9 हजार करोड़ रुपए, आधार हाउसिंग 8 हजार करोड़ और देलहीवरी 6 हजार करोड़ रुपए जुटा सकती है।

ये भी IPO हैं लाइन में

IPO की लाइन में जो कंपनियां हैं, उनमें कल्याण ज्वेलर्स 1,750 करोड़, आरोहण फाइनेंशियल 1,800 करोड़, मैक्रोटेक डेवलपर्स 2,500 करोड़, पॉलिसी बाजार 3,500 करोड़ रुपए, स्टार हेल्थ इंश्योरेंस 5 हजार करोड़ रुपए जुटाने के लिए आएंगी।

IPO से मिला बेहतर रिटर्न

पिछले 3-4 महीनों से शेयर बाजार हर महीने नया रिकॉर्ड बना रहा है। बाजार में भरपूर पैसा है। अब तक जो IPO आए हैं उसमें मिसेज बेक्टर को छोड़ कर सभी IPO ने करीबन निवेशकों को बेहतर फायदा दिया है। बर्गर किंग से लेकर हैपिएस्ट माइंड ने दोगुना से ज्यादा रिटर्न दिया है।

सालों से अटका है NSE का IPO

NSE का IPO पिछले 5 सालों से अटका है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें कुछ कानूनी पेंच है। हाल में को-लोकेशन के मामले में इस पर सेबी ने फाइन लगाया है। NSE का शेयर BSE में लिस्ट होगा। यह क्रॉस लिस्टिंग के तहत होगा। इसी तरह से BSE का IPO जब 2017 में आया था, तो उसका शेयर NSE में लिस्ट हुआ था।

सबसे ज्यादा पैसा 2017 में कंपनियों ने जुटाया

NSE के आंकड़े बताते हैं कि अब तक 2017 में सबसे ज्यादा पैसा कंपनियों ने जुटाया है। इस साल में कुल 38 कंपनियों ने 75,728 करोड़ रुपए जुटाए। इससे पहले 2010 में 64 कंपनियों ने 36,362 करोड़ रुपए, 2007 में 104 कंपनियों ने 33,946 करोड़ रुपए, 2018 में 24 कंपनियों ने 31,731 करोड़ रुपए जुटाए थे। 2016 में 26 कंपनियों ने 26 हजार 500 करोड़ रुपए जुटाया था। सबसे कम 2013 और 2014 में पैसा जुटाया गया था। इन दोनों सालों में 1200-1283 करोड़ रुपए की रकम जुटाई गई थी।

कोल इंडिया का सबसे बड़ा IPO

अब तक भारतीय बाजार में सरकारी कंपनी कोल इंडिया का सबसे बड़ा IPO आया था। 2010 में इसने 15,199 करोड़ रुपए जुटाए थे। उसके अलावा बड़े IPO में रिलायंस पावर ने 2008 में 11 हजार 560 करोड़ रुपए जुटाया था। एसबीआई कार्ड एंड पेमेंट सर्विसेस ने 10 हजार करोड़ रुपए जुटाया था। डीएलएफ ने 2009 में 9,187 करोड़ रुपए जुटाया था। केयर्न एनर्जी ने 2007 में 8,616 करोड़ रुपए जुटाया था।



Source link

इसे भी पढ़ें

पिच विवाद पर इंग्लैंड के कोच जोनाथन ट्रॉट ने दिया ऐसा जवाब, भारतीय फैंस हो जाएंगे फिदा

अहमदाबादमोटेरा की पिच बल्लेबाजी के लिए आसान नहीं थी लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाजी कोच जोनाथन ट्रॉट का मानना है कि अपने कौशल पर...

भारतीय टीम की मानसिकता 90 के दशक की ऑस्ट्रेलियाई टीम की तरह: डेरेन गॉ

लंदनइंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डेरेन गॉ ने मौजूदा भारतीय टीम की तुलना 1990 के दशक की ऑस्ट्रेलियाई टीम की मानसिकता से करते...
- Advertisement -

Latest Articles

पिच विवाद पर इंग्लैंड के कोच जोनाथन ट्रॉट ने दिया ऐसा जवाब, भारतीय फैंस हो जाएंगे फिदा

अहमदाबादमोटेरा की पिच बल्लेबाजी के लिए आसान नहीं थी लेकिन इंग्लैंड के बल्लेबाजी कोच जोनाथन ट्रॉट का मानना है कि अपने कौशल पर...

भारतीय टीम की मानसिकता 90 के दशक की ऑस्ट्रेलियाई टीम की तरह: डेरेन गॉ

लंदनइंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज डेरेन गॉ ने मौजूदा भारतीय टीम की तुलना 1990 के दशक की ऑस्ट्रेलियाई टीम की मानसिकता से करते...