Wednesday, June 16, 2021

कोलकाता नाइट राइडर्स को ज्यादा नहीं खलेगी पैट कमिंस की गेंदबाजी: आकाश चोपड़ा

- Advertisement -


नई दिल्ली
आकाश चोपड़ा का मानना है कि कोलकाता नाइट राइडर्स को इंडियन प्रीमियर लीग के बाकी बचे मैचों के लिए कोलकाता नाइट राइडर्स को पैट कमिंस की ज्यादा कमी महसूस नहीं होगी।

खबरों के अनुसार पैट कमिंस ने आईपीएल 2021 के बाकी बचे मैचों में खेलने की संभावना से इनकार किया है। हालांकि इसका कोई कारण उन्होंने नहीं बताया है। लेकिन माना जा रहा है कि कड़े अंतरराष्ट्रीय अनुबंधों के कारण कमिंस ने ऐसा फैसला किया है।

अपने यूट्यूब चैनल पर शेयर किए गए एक वीडियो में आकाश चोपड़ा ने कहा कि शायद पैट कमिंस का जाना कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए ज्यादा बड़ा नुकसान हो। उन्होंने कहा कि अगर लॉकी फर्ग्युसन उपलब्ध रहते हैं तो केकेआर को ज्यादा चिंता नहीं होगी। चोपड़ा की नजर में फर्ग्युसन टी20 के बेहतर गेंदबाज माने जाते हैं।

चोपड़ा ने कहा, ‘केकेआर के पास पहले से ही लॉकी फर्ग्युसन हैं। और मेरी राय में अगर आपके पास दोनों में से किसी एक को टी20 गेंदबाज चुनने का विकल्प हो, तो मैं लॉकी फर्ग्युसन को कमिंस पर तरजीह दूंगा। अगर लॉकी उपलब्ध है और वह खेलते हैं तो सब ठीक है। मुझे नहीं लगता कि वह पैट कमिंस को एक गेंदबाज के रूप में ज्यादा मिस करेंगे।’

क्रिकेटर से कॉमेंटेटर बने चोपड़ा ने कहा कि आईपीएल के बीते दो सीजन से पैट कमिंस के गेंदबाजी आंकड़े काफी औसत रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘कमिंस का प्रदर्शन एक महान गेंदबाज का नहीं रहा है। अगर हम पिछले साल की बात करें तो उन्होंने 14 मैचों में 12 विकेट लिए। पिछला सीजन यूएई में खेला गया था और इस साल भी बाकी बचे हुए मैच वहीं पर होने हैं। उनकी इकॉनमी 8 के करीब रही थी जो सही कही जा सकती है। इस ला भी उन्होंने सात मैचों में नौ विकेट लिए हैं। वह काफी महंगे भी साबित हुए हैं। उन्होंने लगभग नौ रन प्रति ओवर के हिसाब से गेंदबाजी की है।’

हालांकि चोपड़ा ने माना कि पैट कमिंस ने एक बल्लेबाज के रूप में अपनी पहचान साबित की है, जिसे शायद फर्ग्युसन न कर पाएं। उनका मानना है कि फर्ग्युसन बल्ले से उतना योगदान नहीं दे पाएंगे।

चोपड़ा ने कहा, ‘एक बल्लेबाज के रूप में उनका प्रदर्शन ठीक-ठाक रहा है। यूएई में हालांकि यह उतना अच्छा नहीं था। उन्होंने एक हाफ सेंचुरी लगाई थी लेकिन उनका बल्लेबाजी औसत करीब 20 का ही रहा था। इस बार हालांकि उन्होंने एक हाफ सेंचुरी लगाई और उनका बल्लेबाजी औसत 31 का रहा। उनका स्ट्राइक रेट 66 का था।’



Source link

इसे भी पढ़ें

Supreme Court News: राज्यों में बोर्ड एग्जाम कैंसल करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्लीसुप्रीम कोर्ट उस याचिका पर 17 जून को सुनवाई करेगा जिसमें याचिकाकर्ता ने कहा है कि राज्यों के बोर्ड एग्जाम कैंसल किया...
- Advertisement -

Latest Articles

Supreme Court News: राज्यों में बोर्ड एग्जाम कैंसल करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्लीसुप्रीम कोर्ट उस याचिका पर 17 जून को सुनवाई करेगा जिसमें याचिकाकर्ता ने कहा है कि राज्यों के बोर्ड एग्जाम कैंसल किया...