Friday, April 23, 2021

Cheteshwar Pujara vs off Spin: ऑफ स्पिन का तोड़ नहीं निकाल पा रहे चेतेश्वर पुजारा, जानिए कितना लंबा है संघर्ष

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • मिडल ऑर्डर के दिग्गज बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ऑफ स्पिन के आगे संघर्ष करते दिख रहे हैं
  • देखा जाए तो उनकी यह कमी रणजी ट्रोफी में विदर्भ के खिलाफ 2019 में देखने को मिली थी
  • अब लीच ने पिछले तीन टेस्ट मैचों की पांच पारियों में पुजारा को तीन बार आउट किया है

अहमदाबाद
वर्ष 2019 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टेस्ट में मैन ऑफ द सीरीज रहने के बाद भारतीय टेस्ट टीम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा रणजी ट्रोफी के फाइनल में विदर्भ के लेफ्ट आर्म स्पिनर आदित्य सरवटे के खिलाफ फंसते हुए दिखाई दिए थे। रणजी ट्रोफी के फाइनल में उस समय पुजारा सौराष्ट्र का प्रतिनिधित्व कर रहे थे और दोनों पारियों में 16 गेंदों का सामना करने के बाद वह एक रन और फिर खाता खोले बिना आउट हो गए थे।

अब इंग्लैंड के खिलाफ जारी टेस्ट सीरीज में भी पुजारा लेफ्ट आर्म स्पिनर जैक लीच के खिलाफ फंसते हुए दिखे हैं। लीच ने पिछले तीन टेस्ट मैचों की पांच पारियों में पुजारा को तीन बार आउट किया है। पूर्व भारतीय चयनकर्ता और कोच अंशुमन गायकवाड़ ने कहा, ‘चेतेश्चर, अपनी पैरों का इस्तेमाल कर रहे हैं, खिंच रहे हैं। सब कुछ ठीक है। लेकिन कई बार, वह खेल रहे हैं। जब वह दुविधा में होते हैं, तो वह लेफ्ट आर्म स्पिनरों के खिलाफ पूरी तरह से अपने पैरों का इस्तेमाल नहीं करते और यहीं पर वह फंस जाते हैं और पगबाधा तथा स्लिप में कैच आउट हो जाते हैं।’

Narendra Modi Stadium Pitch Report- पिच पिछले दो मैचों की तरह ही रहेगी, हमने विदेशों में नम पिच की कभी शिकायत नहीं की: रहाणे

ठीक इसी तरह पुजारा दो साल पहले भी विदर्भ के खिलाफ फंसते हुए दिखाई दिए थे। विदर्भ के कप्तान फैज फजल ने कहा कि वह टीम की रणनीतियों का खुलासा नहीं करना चाहते हैं, लेकिन उन्होंने पुजारा को क्रीज के अंदर ही रोकने का प्लान बनाया था।

एक हाथ टूटा, फिर भी टेनिस कोर्ट पर दमदार शॉट लगाती दिखीं डेविड वॉर्नर की बेटी, वीडियो वायरल

फजल ने कहा, ‘हम सभी जानते हैं कि उनका फुटवर्क काफी अच्छा है। वह क्रीज से खेलना पसंद नहीं करते। इसलिए हमने सोचा कि हमें उन्हें सिंगल लेने और स्ट्राइक रोटेट करने से रोकना है। हम उसी के हिसाब से फील्डिंग लगाई और गेंदबाजों ने उसी हिसाब से गेंदबाजी की तथा उन्हें सिंगल लेने नहीं दिया। आदित्य ने प्लान के हिसाब से ही गेंदबाजी की।’



Source link

इसे भी पढ़ें

- Advertisement -

Latest Articles

कोरोना का कहर झेल रहे भारत की मदद को कई देशों ने बढ़ाया हाथ, दोस्त ही नहीं ‘दुश्मन’ ने भी की पेशकश

मॉस्को/पेइचिंगभारत में कोरोना वायरस महामारी लगातार भयावह रूप लेती जा रही है। पिछले 24 घंटे में देश में रिकॉर्ड 3,32,730 नए मामले सामने...