Saturday, February 27, 2021

Debate On Kohli Test Captaincy- विराट कोहली की टेस्ट कप्तानी को लेकर बहस गैरजरूरी लेकिन इससे बचना असंभव: केविन पीटरसन

- Advertisement -


लंदन
इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन को निकट भविष्य में विराट कोहली की कप्तानी को कोई खतरा नजर नहीं आता, लेकिन उनकी कप्तानी में भारत के लगातार चार टेस्ट गंवाने के बाद वह इसे लेकर को रही बहस को समझ सकते हैं। कोहली की कप्तानी में भारत ने पिछले साल की शुरुआत में न्यूजीलैंड में दो टेस्ट गंवाए थे जबकि इसके बाद टीम को ऑस्ट्रेलिया में दिसंबर में एडीलेड में पहले टेस्ट में शर्मनाक हार का सामना पड़ा और फिर इस हप्ते की शुरुआत में चेन्नै में इंग्लैंड ने मेजबान टीम को करारी शिकस्त दी।

पीटरसन ने ‘बेटवे’ के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट में लिखा, ‘मैं चीजों के बदलने की बिलकुल भी उम्मीद नहीं की है लेकिन भारत की टेस्ट कप्तानी को लेकर जारी बहस से बचना असंभव है।’ उन्होंने कहा, ‘विराट कोहली ने कप्तान के रूप में अब लगातार चार टेस्ट गंवाए है और टीम में अजिंक्य रहाणे हैं जिनकी अगुआई में भारत ने हाल में ऑस्ट्रेलिया में शानदार सीरीज जीती।’ कोहली की गैरमौजूदगी में रहाणे ने खिलाड़ियों की चोटों की समस्या से जूझ रही भारतीय टीम की अगुआई की जिसने ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट की सीरीज 2-1 से जीती।

पढ़ें- इंग्लैंड टीम में बड़ा बदलाव, एंडरसन सहित यह 4 खिलाड़ी हुए बाहर

ऑस्ट्रेलिया में मिली इस अप्रत्याशित जीत से इस बहस को हवा मिली कि कोहली की जगह रहाणे को भारतीय टेस्ट कप्तान बनाया जाना चाहिए। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने हालांकि कोहली का समर्थन करते हुए कहा कि वह अपनी कप्तानी में टीम को जीत दिलाने में पूरी तरह सक्षम हैं। पीटरसन ने कहा, ‘सोशल मीडिया पर, प्रत्येक रेडियो स्टेशन, प्रत्येक टेलीविजन चैनल और प्रत्येक समाचार चैनल, जो होना चाहिए उसे लेकर वहां काफी गहन चर्चाएं हो रही हैं।

पढ़ें- IND vs ENG: दूसरा टेस्ट हारा तो WTC फाइनल की रेस से बाहर हो जाएगा भारत

देश की कप्तानी करना काफी मुश्किल होता है और दुर्भाग्य से यह इस काम की प्रकृति है।’ उन्होंने कहा, ‘यह ध्यान भटकाने की एक और चीज है जिसकी कोहली को जरूरत नहीं है लेकिन बेशक चीजों को शांत करने के लिए वह दूसरे टेस्ट में अपनी कप्तानी में टीम को जीत दिलाने में सक्षम है।’

India vs England: दूसरे टेस्ट मैच से पहले जानिए किसका पलड़ा भारी

पीटरसन का साथ ही मानना है कि पहले टेस्ट में जेम्स एंडरसन की शानदार गेंदबाजी के बाद दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड के अनुभवी तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड पर अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव होगा। इंग्लैंड की रोटेशन नीति के तहत ब्रॉड को पहले टेस्ट से आराम दिया गया था लेकिन वह दूसरे टेस्ट में खेलने के लिए तैयार हैं और पीटरसन का मामना है कि इस तेज गेंदबाज के पास भारत में अपनी छाप छोड़ने का शायद यह अंतिम मौका है।



Source link

इसे भी पढ़ें

शॉटगन वर्ल्ड कप : भारतीय पुरुष स्कीट टीम ने जीता ब्रॉन्ज मेडल, कजाकिस्तान को दी मात

नई दिल्लीभारतीय पुरुष स्कीट टीम ने शुक्रवार को काहिरा में शॉटगन वर्ल्ड कप में टीम ब्रॉन्ज मेडल जीता। टीम में अंगदवीर सिंह बाजवा,...

द गर्ल ऑन द ट्रेन

के लीड किरदार वाली फिल्म '' को ओटीटी प्लैटफॉर्म नेटफ्लिक्स पर रिलीज कर दिया गया है। यह फिल्म इसी नाम से आए...
- Advertisement -

Latest Articles

शॉटगन वर्ल्ड कप : भारतीय पुरुष स्कीट टीम ने जीता ब्रॉन्ज मेडल, कजाकिस्तान को दी मात

नई दिल्लीभारतीय पुरुष स्कीट टीम ने शुक्रवार को काहिरा में शॉटगन वर्ल्ड कप में टीम ब्रॉन्ज मेडल जीता। टीम में अंगदवीर सिंह बाजवा,...

द गर्ल ऑन द ट्रेन

के लीड किरदार वाली फिल्म '' को ओटीटी प्लैटफॉर्म नेटफ्लिक्स पर रिलीज कर दिया गया है। यह फिल्म इसी नाम से आए...

Indian Super League : नॉर्थईस्ट यूनाइटेड ने केरला ब्लास्टर्स को हराकर दूसरी बार प्लेऑफ में बनाई जगह

वास्कोनॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी ने शुक्रवार को केरला ब्लास्टर्स को 2-0 से हराकर दूसरी बार इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के प्लेऑफ में जगह बना...