Wednesday, March 3, 2021

India vs Australia: शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने दिखाया जिगरा, विराट कोहली ने की तारीफ

- Advertisement -


वॉशिंगटन
भारतीय टीम एक समय पर 6 विकेट पर 186 रन बनाकर संकट में थी। ऋषभ पंत आउट होकर पविलियन लौटे थे।भारतीय टीम का अनुभवहीन निचले क्रम के सामने मुश्किल चुनौती थी। ऐसे वक्त पर अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे वॉशिंगटन सुंदर और दूसरा मैच खेल रहे शार्दुल ठाकुर ने दमदार पारी खेलकर भारत को मुश्किल से निकाला और ऑस्ट्रेलिया को दबाव में ला दिया।

दोनों से सातवें विकेट के लिए रेकॉर्ड 123 रन की पार्टनरशिप की। इस साझेदारी की मदद से भारत ने अपनी पहली पारी में 336 रन बनाए और ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी के आधार पर 33 रन की बढ़त मिली। भारतीय टीम के इस जुझारू प्रदर्शन की खूब तारीफ हो रही है। टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली ने इन दोनों की तारीफ की है।

कोहली ने ट्वीट कर कहा, ‘सुंदर और शार्दुल ने शानदार आत्मविश्वास और समर्पण का परिचय दिया। यही टेस्ट क्रिकेट की खूबसूरती है। वॉशी तुमने डेब्यू पर उच्च स्तरीय धैर्य दिखाया।’ कोहली ने आगे मराठी में शार्दुल ठाकुर की तारीफ की। उन्होंने लिखा- ठाकुर तुम्हें फिर मानता हूं।

कोहली जो ऐडिलेड टेस्ट के बाद पैटरनिटी लीव के बाद भारत लौट आए थे। भारत ने कोहली के बिना भी शानदार खेल दिखाया और मेलबर्न में जीत हासिल की। सिडनी में भारतीय टीम ने मैच ड्रॉ करवाकर ऑस्ट्रेलिया को जीत हासिल करने से रोका।

वहीं अगर ब्रिसबेन की बात करें तो भारतीय टीम काफी मुश्किल में थी। ऐसे में इन दो अनुभवहीन खिलाड़ियों ने भारत को मुश्किल से निकाला। शार्दुल ठाकुर ने 67 और सुंदर ने 62 रन बनाए थे।



Source link

इसे भी पढ़ें

404 – Page not found – Dainik Bhaskar

लगातार दो तिमाही में गिरावट के बाद तीसरी तिमाही में पॉजिटिव ग्रोथ रही,फरवरी महीने में घरेलू बाजार में करीब तीन लाख कारों की...
- Advertisement -

Latest Articles

404 – Page not found – Dainik Bhaskar

लगातार दो तिमाही में गिरावट के बाद तीसरी तिमाही में पॉजिटिव ग्रोथ रही,फरवरी महीने में घरेलू बाजार में करीब तीन लाख कारों की...

पागलपन की हद देखिए

सोनू: आओ मिलकर हम दोनों दर्द बांटते हैं। मोनू: लेकिन कैसे? सोनू: तुम दरवाजे में अपनी उंगली दो, मैं दबाता हूं। फिर हम दोनों...

बाबा और बंटी की बातचीत

बाबा: 10 रुपये दे बच्चा। बंटी: ये लो बाबा 10 रुपये। खुश होकर बाबा: अब मांग, जो मांगना है? बंटी: वही 10 रुपये वापस कर...