Saturday, February 27, 2021

India vs England: रोहित शर्मा के ‘स्वीप’ प्लान के आगे अंग्रेज हुए पस्त, बोले- पिच के बारे में पहले से ही पता था

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • रोहित शर्मा के 161 रनों की बदौलत भारत ने पहले दिन 6 विकेट पर 300 रन बनाए
  • इस धांसू पारी के बारे में रोहित ने बताया- पिच के बारे में पहले से पता था तो मदद मिली
  • स्पिनरों को स्वीप शॉट खेलने के बारे में भी क्लियर था, जिससे विकेट नहीं गंवाया

चेन्नै
भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने कहा कि वह अपने दिमाग में बहुत स्पष्ट थे, क्योंकि अगर स्वीप शॉट खेलते हुए जरा सा भी संदेह आया तो टर्न होने वाली पिच में यह काफी मुश्किलों भरा हो सकता था। सचिन तेंडुलकर की 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ खेली गई 136 रन की शानदार पारी के बाद चेपक पर इतने शानदार स्वीप शॉट देखने को मिले और रोहित ने उस पिच पर अपनी टीम को बेहतरीन स्थिति में पहुंचा दिया जो तेजी से खराब हो रही है।

इंग्लैंड को आगे मुश्किलों का सामना करना होगा। रोहित ने दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘देर होने से पहले, आप वो काम शुरू कर दो जो आप करना चाहते हो और आप इसमें प्रयोगात्मक नहीं हो सकते। अगर आप स्वीप करना चाहते हो तो आप स्वीप करो।’ उन्होंने कहा, ‘हम जानते थे कि पिच कैसे तैयार की गयी है और हम जानते थे कि यह टर्न होगी। इसलिए हमने आज से पहले कुछ अच्छे ट्रेनिंग सत्र किए और जिन परिस्थितियों की उम्मीद थी, उसे देखते हुए उसी हिसाब से ट्रेनिंग की।’

पढ़ें- IND vs ENG: चेन्नै में ‘थर्ड क्लास’ अंपायरिंग, विवाद के बाद इंग्लैंड को वापस मिला रिव्यू

रोहित ने कहा, ‘जब आप टर्निंग पिच पर खेलते हो, जहां आपको अति सक्रिय होना होता है तो आप प्रतिक्रिया करने वाले नहीं हो सकते। गेंदबाजों पर हावी होना अहम होता है और यह सुनिश्चित करना भी कि आप उनसे आगे हो। इसी को देखते हुए सांमजस्य बिठाना होता है।’ सफेद गेंद की टीम के उप कप्तान ने कहा, ‘अगर यह टर्न कर रही है तो कितना टर्न कर रही है। शॉट चयन पर फैसला करने से पहले इन तरह की चीजों का ध्यान रखना होता है।’

देखें- वीडियो: विराट कोहली जीरो पर आउट, इंग्लिश स्पिनर के नाम खास रेकॉर्ड

मोईन अली ने पहले भी भारतीय बल्लेबाजों को मुश्किल में डाला है और रोहित के लिए यह निहायती जरूरी था कि इंग्लैंड के सीनियर ऑफ स्पिनर को ‘रफ’ पर स्वीप करने की जरूरत है ताकि पगबाधा होने के किसी भी मौके को खत्म किया जा सके। उन्होंने कहा, ‘लेकिन मुझे इस मैच से पहले की तैयारियों से मदद मिली। मोईन अली जिस लाइन में गेंदबाजी कर रहा था, उससे समझने से भी मदद मिली। वह ‘रफ’ (गेंदबाजी से पिच पर होने वाले खुरदुरे निशान) पर गेंदबाजी कर रहा था इसलिए पगबाधा होने का थोड़ा सा मौका था।’



Source link

इसे भी पढ़ें

Indian Premier League : कोरोना के बढ़े मामले, आईपीएल आयोजन को लेकर चिंता में बीसीसीआई

हाइलाइट्स:कोरोना के मामले बढ़े, अब मुंबई में आईपीएल-2021 के मुकाबले नहीं खेलने की आशंकाघातक कोरोना वायरस के कारण पिछला सीजन संयुक्त अरब अमीरात...
- Advertisement -

Latest Articles

Indian Premier League : कोरोना के बढ़े मामले, आईपीएल आयोजन को लेकर चिंता में बीसीसीआई

हाइलाइट्स:कोरोना के मामले बढ़े, अब मुंबई में आईपीएल-2021 के मुकाबले नहीं खेलने की आशंकाघातक कोरोना वायरस के कारण पिछला सीजन संयुक्त अरब अमीरात...

Khashoggi Murder Case Explained: जमाल खशोगी केस में फंस रही सऊदी प्रिंस सलमान की गर्दन, जानें क्यों ऐक्शन से बच रहे जो बाइडेन?

अमेरिकी इंटेलिजेंस रिपोर्ट में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के लिए सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को जिम्मेदार ठहराया गया...

शॉटगन वर्ल्ड कप : भारतीय पुरुष स्कीट टीम ने जीता ब्रॉन्ज मेडल, कजाकिस्तान को दी मात

नई दिल्लीभारतीय पुरुष स्कीट टीम ने शुक्रवार को काहिरा में शॉटगन वर्ल्ड कप में टीम ब्रॉन्ज मेडल जीता। टीम में अंगदवीर सिंह बाजवा,...