Friday, May 7, 2021

IPL 2021- आईपीएल चलता रहना चाहिए, यह लाता है करोड़ों लोगों के लिए खुशी: माइकल वॉन

- Advertisement -


नई दिल्ली
भारत में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) के आयोजन पर सवाल उठ रहे हैं। कई लोगों का कहना है कि जब देश में इतने खराब हालात हैं तो ऐसे वक्त में इस महंगी लीग का होना अजीब है।

ऑस्ट्रेलिया के कई खिलाड़ी आईपीएल (IPL) से हट रहे हैं। ऐंड्रू टाय ने तो यहां तक कहा कि जब देश में स्वास्थ्य सेवाओं की इतनी कमी है ऐसे वक्त पर फ्रैंचाइजी पानी की तरह पैसा बहा रहे हैं। वहीं इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड भी रोजाना अपने खिलाड़ियों से अपडेट ले रहा है। इस सबके बीच पूर्व इंग्लिश कप्तान माइकल वॉन ने आईपीएल के चलते रहने की वकालत की है। वॉन का कहना है कि इस तनावपूर्व वक्त में आईपीएल करोड़ों लोगों के लिए खुशी का एक जरिया बनता है।

वॉन हालांकि इस बात से भी हैरान हैं कि आखिर कैसे हाल ही में साउथ अफ्रीका में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर्स को हटने और भारत में खेलने की इजाजत दे दी गई।

आपका वोट दर्ज हो गया है।धन्यवाद

वॉन ने ट्वीट किया, ‘मुझे लगता है कि आईपीएल होते रहना चाहिए… इस मुश्किल वक्त में हर शाम जैसे यह करोड़ों लोगों के चेहरे पर खुशी लेकर आता है यह काफी अहम है… लेकिन साथ ही यह समझना भी मुश्किल है कि कैसे इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर्स साउथ अफ्रीका में मैच से हट गए थे। इसके बावजूद दोनों देशों ने अपने खिलाड़ियों को भारत में खेलने की अनुमति दे दी!!!’

क्या कहा था टाय ने
भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण आईपीएल 2021 को बीच में छोड़कर ऑस्ट्रेलिया रवाना होने वाले राजस्थान रॉयल्स के तेज गेंदबाज एंड्रयू टाय ने हैरानी जताते हुए कहा कि जब देश में इतनी बड़ी स्वास्थ्य समस्या है तब फ्रैंचाइजी क्रिकेट पर इतनी बड़ी रकम कैसे खर्च कर रहे हैं।

टाय ने हालांकि कहा कि अगर लीग से कोविड-19 महामारी के कारण पीड़ित लोगों का तनाव कम हो रहा या उम्मीद की कोई किरण दिख रही तो इसे जारी रहना चाहिए। टाय ने कहा, ‘इसे भारतीय दृष्टिकोण से देखें, तो ये कंपनियां और फ्रैंचाइजी, सरकार ऐसे समय में आईपीएल पर इतने पैसे कैसे खर्च कर रही हैं, जब देश में लोगों को अस्पताल नहीं मिल पा रहा है।’

टाय ने हालांकि कहा कि अगर लीग से कोविड-19 महामारी के कारण पीड़ित लोगों का तनाव कम हो रहा या उम्मीद की कोई किरण दिख रही तो इसे जारी रहना चाहिए। टाय ने कहा, ‘इसे भारतीय दृष्टिकोण से देखें, तो ये कंपनियां और फ्रैंचाइजी, सरकार ऐसे समय में आईपीएल पर इतने पैसे कैसे खर्च कर रही हैं, जब देश में लोगों को अस्पताल नहीं मिल पा रहा है।’

टाय ने क्रिकेट डॉट कॉम डॉट एयू से कहा, ‘अगर खेल के जारी रहने से लोगों का तनाव दूर होता है या आशा की एक झलक दिखती है जैसे सुरंग के उस पार प्रकाश होता है। अगर ऐसा है तो मुझे लगता है कि इसे जारी रखना चाहिए। लेकिन मैं मानता हूं कि हर किसी का सोचने का एक तरीका नहीं है और मैं सभी के विचारों का सम्मान करता हूं।’



Source link

इसे भी पढ़ें

जिंदगी की जंग: 1980 ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता हॉकी टीम के दो खिलाड़ियों की हालत गंभीर

नई दिल्ली1980 मॉस्को ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली हॉकी टीम के दो खिलाड़ी महाराज कृष्ण कौशिक और रवींद्र पाल सिंह कोरोना वायरस...
- Advertisement -

Latest Articles

जिंदगी की जंग: 1980 ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता हॉकी टीम के दो खिलाड़ियों की हालत गंभीर

नई दिल्ली1980 मॉस्को ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाली हॉकी टीम के दो खिलाड़ी महाराज कृष्ण कौशिक और रवींद्र पाल सिंह कोरोना वायरस...

कायरन पोलार्ड के लिए खुशखबरी, CPL 2021 में शाहरुख खान की टीम की करते दिखेंगे कप्तानी

नई दिल्लीइंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र में अपने छक्कों से गेंदबाजों को दहलाने वाले कायरन पोलार्ड (Kieron Pollard) के लिए खुशखबरी...

Second Covid Wave in India: इजरायल से जीवन रक्षक उपकरणों की पहली खेप पहुंची भारत

नई दिल्लीकोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के खिलाफ जारी लड़ाई को मजबूती देने के लिए इजरायल ने भारत को बड़ी मदद भेजी...