Saturday, December 5, 2020

ISL: देश में ‘अनलॉक’ होगा बड़ा खेल टूर्नमेंट, खाली स्टेडियमों में इंडियन सुपर लीग का आगाज

- Advertisement -


हाइलाइट्स:

  • ISL के 7वें सीजन में कुल 11 फ्रैंचाइजी हिस्सा ले रही हैं जिन्हें तीन ग्रुप्स में बांटा गया है
  • 115 कुल मुकाबले इस सीजन खेले जाएंगे, 20 मैच लीग स्टेज में एक टीम को खेलने को मिलेंगे
  • 3 बार सबसे ज्यादा एटीके ने खिताब पर कब्जा जमाया है, मोहन बागान और केरल ब्लास्टर्स के बीच मुकाबले से टूर्नमेंट का आगाज

बेम्बोलिम (गोवा)
खाली स्टेडियमों में कड़े स्वास्थ्य सुरक्षा नियमों के बीच आज यानी शुक्रवार से इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) फुटबॉल टूर्नमेंट के सातवें सीजन की शुरुआत होगी जो आठ महीने पहले कोरोना लॉकडाउन लागू होने के बाद देश में आयोजित होने वाला पहला बड़ा टूर्नमेंट है।

गोवा के जीएमसी स्टेडियम में टूर्नमेंट का आगाज पूर्व चैंपियन एटीके मोहन बागान और केरल ब्लास्टर्स के बीच होने वाले मैच से होगा। हालांकि सीजन का पहला सबसे बड़ा मैच 27 नवंबर को एटीके मोहन बागान और एससी ईस्ट बंगाल के बीच फातोर्दा में खेला जाएगा जिसमें दो पारंपरिक प्रतिद्वंद्वी टीमें अपनी 100 साल से अधिक पुरानी प्रतिद्वंद्विता को एक नए अवतार में शुरू करेंगी।

पढ़ें, कोरोना काल के बाद भारत में हो रहा ISL, गांगुली बोले- महामारी का डर होगा खत्म

नवंबर से मार्च तक चलने वाले इस टूर्नमेंट का आयोजन इस बार महामारी के कारण सिर्फ गोवा में किया जा रहा है।

एटीके की ताकत बढ़ी
पिछले साल की चैंपियन एटीके और आईलीग टीम मोहन बागान के विलय के बाद बना क्लब एटीके मोहन बागान इस फ्रेंचाइजी आधारित टूर्नमेंट की शुरुआत खिताब के प्रबल दावेदार के रूप में करेगा। टीम ने भारत के स्टार डिफेंडर संदेश झिंगन जैसे कुछ स्तरीय खिलाड़ियों से अनुबंध किया है जबकि पिछले साल की चैंपियन टीम एटीके के अहम खिलाड़ियों को अपने साथ बरकरार रखा है जिसमें फिजी के रॉय कृष्णा भी शामिल हैं।

फिजी के रॉय कृष्णा पर दारोमदार
रॉय 21 मैचों में 15 गोल के साथ पिछले सीजन के संयुक्त रूप से टॉप गोल स्कोरर थे। रॉय ने फाइनल में कप्तान की भूमिका निभाई थी और एटीके की टीम तीसरा आईएसएल खिताब जीतने में सफल रही थी। कोच एंटोनियो हबास ने रॉय के अलावा मौजूदा सीजन में स्पेन के मिडफील्डर एडू गार्सिया, भारत के प्रीतम कोटल, अरिंदम भट्टाचार्य और झिंगन को कप्तान के रूप में चुना है।

गोवा को ह्यूगो के जाने से नुकसान!
दूसरी तरफ पिछले सीजन का लीग राउंड जीतकर एएफसी चैंपियंस लीग के लिए क्वॉलिफाइ करने वाली पहली भारतीय टीम बनी एफसी गोवा को अपने स्टार फॉरवर्ड फेरान कोरोमिनास और ह्यूगो बोमस के जाने से नुकसान हुआ है। ये दोनों पिछले कुछ वर्षों में आईएसएल में सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल रहे हैं।

पढ़ें, स्कॉटलैंड, हंगरी, स्लोवाकिया, नॉर्थ मेसिडोनिया ने यूरो 2020 के लिए क्वॉलिफाइ किया

BCCI अध्यक्ष गांगुली भी उत्साहित
आईएसएल के शुरू होने से बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली काफी उत्साहित हैं क्योंकि उनका मानना है कि इसके सफल आयोजन से देश भर में बड़ी प्रतियोगिताओं के आयोजन को लेकर डर कम होगा। गांगुली ने हाल में यूएई में ‘बायो-बबल’ में आईपीएल के सफल आयोजन की देखरेख की। उन्होंने कहा, ‘लॉकडाउन के बाद भारत में पहली खेल प्रतियोगिता आयोजित होगी। यह बहुत अच्छी शुरुआत है क्योंकि जीवन को सामान्य रूप से पटरी पर लौटने की जरूरत है। मुझे लगता है कि अच्छा आईएसएल सीजन सभी शंकाओं को दूर करेगा।’



Source link

इसे भी पढ़ें

किसान आंदोलन के समर्थन में 36 ब्रिटिश सांसद, भारत पर दबाव बनाने के लिए लिखी चिट्ठी

हाइलाइट्स:भारत के किसान आंदोलन को 36 ब्रिटिश सांसदों ने दिया समर्थनब्रिटिश विदेश सचिव को लिखी चिट्ठी, भारत से बात करने की अपील कीबोले-...

Aus vs Ind: कनकशन विवाद पर बोले सहवाग, 24 घंटे बाद तक भी दिखते हैं लक्षण, भारत ने कुछ भी गलत नहीं किया

नयी दिल्लीपूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि भारतीय टीम रविंद्र जडेजा के कनकशन विकल्प को लेने में बिलकुल सही थी...
- Advertisement -

Latest Articles

किसान आंदोलन के समर्थन में 36 ब्रिटिश सांसद, भारत पर दबाव बनाने के लिए लिखी चिट्ठी

हाइलाइट्स:भारत के किसान आंदोलन को 36 ब्रिटिश सांसदों ने दिया समर्थनब्रिटिश विदेश सचिव को लिखी चिट्ठी, भारत से बात करने की अपील कीबोले-...

Aus vs Ind: कनकशन विवाद पर बोले सहवाग, 24 घंटे बाद तक भी दिखते हैं लक्षण, भारत ने कुछ भी गलत नहीं किया

नयी दिल्लीपूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कहा कि भारतीय टीम रविंद्र जडेजा के कनकशन विकल्प को लेने में बिलकुल सही थी...

एर्दोगन ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों को बताया ‘मुसीबत’, बोले- उनसे जल्द छुटकारा पा लेगा फ्रांस

अंकारामुस्लिम देशों के खलीफा बनने की कोशिश कर रहे तुर्की के राष्ट्रपति रेचप तैय्यप एर्दोगन फ्रांस के खिलाफ लगातार जहर उगल रहे हैं।...